Email:

info@deepadiary.com

Menu

पर्यायवाची शब्द (Paryayvachi Shabd)

0 Comments

mah%vapUNa- pyaa-yavaacaI Sabd

pyaa-ya³vaOkilpk´ vaacaI³ vaaNaI´
panaI– AmbauÊ jalaÊ naIrÊ pyaaoÊ vaairÊ taoyaÊ ApÊ paqaÊ AmBaÊ AabaÊ ]dkÊ jaIvanaÊ sailala
baadla– panaI†dÀQar – AmbaudÊ jaladÊ naIrdÊ pyaaodÊ vaairdÊ taoyadÊ jalaQarÊ QaaraQarÊ vaairQarÊ maoGaÊ ABa`Ê Gana
kmala– panaI †ja –AmbaujaÊ naIrjaÊ pyaaojaÊ jalajaÊ taoyajaÊ pMkjaÊ Abja
samaud`– panaI †inaiQaÀiQa AMbauiQaÊ jalaiQaÊ naIriQaÊ pyaaoiQaÊ vaairiQaÊ taoyaiQaÊ xaIriQaÊ xaIrinaiQaÊ jalainaiQaÊ payaaoinaiQaÊ saagarÊ isaMQauÊ makralayaÊ nadISaÊ r%naakrÊ vaÉNaalaya
pu~I– baoTIÊ Aa%majaaÊ tnaujaaÊ duihtaÊ naMidnaIÊ laD,kIÊ sautaÊ tnayaaÊ QaIÊ AMgajaa
pit– Bata-Ê vallaBaÊ svaamaIÊ p`aNaaQaarÊ p`aNaip`yao p`aNaoSaÊ Aaya-pu~Ê kaMtÊ AiQapÊ QavaÊ sahcarÊ )dyaoSa
ihmaalaya– ihmaigarIÊ ihmaacalaÊ igairrajaÊ pva-trajaÊ nagapitÊ ihmapitÊ najarajaÊ ihmaaid`Ê nagaoSa
pava-tI– ihmaalaya †pu~I – SaOlajaaÊ igairjaaÊ SaOlapu~I AnnapUNaa-Ê Ap-NaaÊ ]maaÊ kalaIÊ i~pursauMdrIÊ mahaSai>Ê maRDanaIÊ hOmavatI isaMhvaaihnaIÊ ApraijataÊ Éd`aNaIÊ iSavaaÊ gaaOrI
gaNaoSa – pava-tI† pu~– ]maasautÊ pava-tInaMdnaÊ BavaanaInaMdnaÊ pava-tIsautÊ ivanaayakÊ isaiwivanaayakÊ lambaaodrÊ vaËtuMDÊ ekdMtÊ hormba
iSava – pava-tI †pit– ]maapitÊ ]maakaMtÊ gaaOrIpitÊ pava-tInaaqaÊ ASautaoYaÊ kpdI-Ê gaMgaaQarÊ caMd`BaalaÊ naTrajaÊ naIlakMzÊ pSaupitÊ BaUtnaaqaÊ maR%yauMjayaÊ Éd`Ê vaRYavaahnaÊ SamBau
kamadova– rit pit– ritkaMtÊ ritvallBaÊ ritnaaqaÊ
fUla va vaaNa– kusaumavaaNaÊ kusaumaSarÊ puYpQanvaaÊ puYpSarÊ
maClaI va Qvaja– maInakotnaÊ makrQvajaÊ JaYakotu
AnaMgaÊ kndp-Ê madnaÊ manaaojaÊ manmaqaÊ maarÊ smarÊ kamaÊ manaisajaÊ basaMtsaKaÊ basaMtbaMQau
saUya-– idnaÀnailanaIÀp`Baa † krÀ[-SaÀpit
idnakrÊ idnamaiNaÊ idnaoSaÊ nailanaIpitÊ P`BaakrÊ AalaaoknaaqaÊ
AMSaumaanaÊ AMSaumaalaIÊ saivataÊ Aaid%yaÊ ptMgaÊ BaaskrÊ BaanauÊ hMsaÊ maat-NDÊ Ak-Ê ima~Ê imaihrÊ rivaÊ sa%taSvaÊ saUrjaÊ kailand
yamaunaa– saUya-†pu~I
saUya-jaaÊ BaanaujaaÊ saUya-tnayaaÊ saUya-pu~IÊ kailaMdjaaÊ kailaMidÊ hMsasautaÊ yamaIÊ yamaanaujaa
[Md`– AmarÀdovaÀsaur†pitÀ[Md`À[-Svar
AmarpitÊ AmaroSvarÊ AmaroMd`Ê dovapitÊ dovaoMd`Ê dovaoSaÊ saurpitÊ sauroMd`Ê sauroSaÊ sauroSvar
maQavaaÊ maoGarajaÊ vaja`QarÊ vaja`IÊ ivaDaOjaaÊ purndrÊ puÉCUtÊ SaicapitÊ sahsa`axa
rat– rai~Ê rMnaÊ rjanaIÊ inaSaaÊ yaaimanaIÊ tmaIÊ inaiSaÊ yaamaaÊ ivaBaavarIÊ timas~aÊ inaSaIqa
caMd`maa– ratÀkumauidnaIÀtara†krÀ[-SaÀpit
inaSaakaMtÊ inaSaakrÊ ivaBaakrÊ rjanaISaÊ rjanaIkrÊ xapakrÊ kumauidnaIpitÊ tarapitÊ taranaaqaÊ tarakaMtÊ
mayaMkÊ maRgaaMkÊ ihmakrÊ sauQaakrÊ rakoSaÊ SaSaaMkÊ [MduÊ ivaQauÊ SaiSaÊ saaomaÊ sauQaaMsauÊ ihmaaMSauÊ klaainaiQa
gaMgaa– dovaÀsvaga-Àsaur†naid
dovanaidÊ dovaapgaaÊ saurtrMigaNaIÊ saursairÊ saursairtaÊ svaga-trMigaNaIÊ sva-gapgaaÊ jaah\navaIÊ i~pqagaaÊ BaagaIrqaIÊ mandaiknaIÊ ivaYnaupdI
raxasa– rat†car
tmaIcarÊ inaSaacarÊ rai~carÊ rjanaIcarÊ AsaurÊ dnaujaÊ danavaÊ dO%yaÊ saurairÊ yaatuQaana
rama– saIta†pit
saItapitÊ jaanakInaaqaÊ saItarmaNaÊ saItavallaBaÊ raQavaÊ raQavaoMd`Ê ramacaMd`Ê kaOSalyaanaMdnaÊ dSarqasaut
saIta– janakÀBaUima†pu~I
vaOdoihÊ maOiqalaIÊ imaqalaoSa kumaarIÊ janaktnayaaÊ jaanakIÊ janaknaMidnaIÊ BaUimajaaÊ BaUimasauta
ivaYNau– laxmaI†pit
kmalaakaMtÊ EaIkaMtÊ rmaakaMtÊ laxmaIkaMtÊ laxmaIpitÊ laxmaIvallaBaÊ EaIpitÊ EaIvallaBa
kOTBaairÊ caËpaiNaÊ jagannaaqaÊ janaa-dnaÊ pd\manaaqaÊ )YaIkoSaÊ hirÊ SaoYaSaayaIÊ SaMKpaiNaÊ ya&puÉYaÊ maukundÊ puraNapuÉYaÊ puMDrIkaxa
laxmaI– ivaYNau†p%naI
ivaYNaupitÊ ivaYNauip`yaaÊ hirip`yaaÊ hirvallaBaaÊ EaIÊ kmalaaÊ rmaaÊ naarayaNaIÊ laaokmaataÊ isaMQaujaa
kubaor– Qana†pitÀ[-Sa
QanaosaÊ QanaoSvarÊ QanapitÊ QanapalaÊ QainakÊ yaxarajaÊ QanadÊ QanaaiQapÊ rajarajaÊ ik~roSa
AaÐK– laaocanaÊ AixaÊ nayanaÊ nao~Ê caxauÊ dRgaÊ AixaÊ dIdaÊ caKÊ naOnaÊ AmbakÊ ivalaaocanaÊ dRiYT
GaaoDa,– AsvaÊ hyaÊ turMgaÊ GaoTkÊ hirÊ vaaijaÊ saaOnQavaÊ rivasaut
sarsvatI– BaartIÊ vaINaapaNaIÊ SaardaÊ vaak\Ê mahaSvaotaÊ [-laaÊ vaagaoSvarIÊ gaIraÊ ivamalaaÊ vaagaISaÊ ba`a*maIÊ jaatÉpÊ haTk.

Anya पर्यायवाची शब्द

  • अंबा –    माता, जननी, मां, जन्मदात्री, प्रसूता।
  • अंबिका- माता, माँ, पार्वती, देवी, दुर्गा, देवकन्या, अंबाष्ठालता।
  • अंक- संख्या, नंबर, आँकड़ा, निशान, चिन्ह, छाप, गोद, अंकवार, आँक, दाग, धब्बा।
  • अंकुश– नियंत्रण, पाबंदी, रोक, अंकुसी, दबाव, गजांकुश, हाथी को नियंत्रित करने की कील, नियंत्रित करने या रोकने का तरीका।
  • अंगद- बाजूबंद, भुजबंध, बालिपुत्र, बालिकुमार, तारेय, बालितनय।
  • अँगना- कामिनी, वामा, सुंदरी, सुमुखी।
  • अंग-भंग करना- अपंग करना, विकलांग करना, अंगहीन करना, हाथ-पैर काट देना, मोहित करने के निमित, स्त्री की कटाक्ष क्रिया।
  • अंगजा- बेटी लड़की, सुता, आत्मजा, तनुजा, तनया, नंदिनी, दुहिता, पुत्री।
  • अँगड़ाई- आलस्य दूर करने के लिए शरीर को खींचना, मोड़ना, चेतन होने के लिए उपक्रम करना।
  • अंगी- मुख्य, प्रमुख, प्रभावकारी, रस प्रमुख भाव।
  • अंगीकरण- स्वीकार, स्वीकारोक्ति आत्म-स्वीकृति, कबूल करना, अंगीकार, मंजूर।
  • अंगार- चिनगारी, अँगारा, दहकता हुआ कोयला, धुँआरहित कोयला।
  • अंगिया- वक्ष-स्थल को ढँकने के लिए स्त्रियों द्वारा प्रयुक्त अंतर्वस्त्र, बॉडिस, चोली, कुरती, कंचुकी।
  • अंगूर- दाख, किशमिश, द्राक्षा।
  • अँगोछा- गमछा, तौलिया, उपवस्त्र।
  • अंग्रेज- फिरंगी, गोरा, आंग्लदेशी।
  • अंगीठी- प्रतप्त कोयलों का समूह रखने को एक पात्र, बोरसी, आतिशदान, सिगड़ी।
  • अँगूठी- मुद्रा, मुँदरी, छल्ला, मुद्रिका, अंगुष्ठिका, अंगुलीमुद्रा, अंगुश्तरी।
  • अँकाई- मूल्यांकन, अंदाजा, आँकने की क्रिया।
  • अँकुर- अँखुआ, आँख, कोंपल, कलिका, नोक, प्ररोह, कनखा, भराव, उपरोपिका, किसलय, नवपल्लव।
  • अंगज- बेटा, लड़का, सुत, सुवन, आत्मज, तनुज, तनय, नन्दन, लाल, पुत्र, रोम, केश, बाल।
  • अंजन- सुरमा, काजल, आँजन, काजल।
  • अंजुमन- संघ, सभामण्डली, सभायोजन, संगठन।
  • अँटसँट- अंडबंड, अव्यवस्थित, अनावश्यक, अनुपयुक्त, ऊटपटांग।
  • अंचल- आँचल, पल्ला, पल्लू, छोर, सीमा प्रदेश (सीमांत) क्षेत्र, किनारा, तट।
  • अँतड़ी- आँत, अंतड़ी, अन्त्र।
  • अंतःपुर- जनानखाना, रनिवास, हरमखाना, महल के भीतर स्त्रियों के रहने की जगह।
  • अंड- अंडा, डिंबा, अंडकोश, फोता।
  • अंतःकरण- अंतर्मन, अंतरात्मा, हृदय, मन।
  • अंतर्द्वद्व- मानसिक संघर्ष, दुविधा।
  • अंतर्धान- ओझल, गायब, लुप्त, अदृश्य।
  • अंतर्हित- अदृश्य, छिपा हुआ, गायव, लुप्त, गुप्त, तिरोहित।
  • अंतर्गत- शामिल, सम्मिलित, भीतर आया हुआ गुप्त।
  • अंतर्दृष्टि- ज्ञानचक्षु, सूझ, आत्मचिन्तन।
  • अंधेरी रात- तमी, तामसी, तमस्विनी, श्यामा।
  • अंब- अंबा, माता, जननी।
  • अंबार- ढेर, राशि।
  • अंदेशा- सोच, चिन्ता, फिक्र, खटका, भय, खतरा, भास, सन्देह, आशंका, दुविधा, असमंजस, पसोपेश।
  • अंधकारमय- तमोमय, तमाच्छादित तिमिरावृत्त।
  • अँधेर- अँधेरखाता, धाँधली, अन्याय, बेइंसाफी, अशांति, विप्लव।
  • अंबर– आकाश, आसमान, गगन, फलक, नभ।
  • अंजाम- नतीजा, परिणाम, फल।
  • अंत- समाप्ति, अवसान, इति, इतिश्री, समापन।
  • अंतर- भिन्नता, असमानता, भेद, फर्क।
  • अंकुश- नियंत्रण, पाबंदी, रोक, अंकुसी, दबाव, गजांकुश, हाथी को नियंत्रित करने की कील, नियंत्रित करने या रोकने का तरीका।
  • अंदर- भीतर, आंतरिक, अंदरूनी, अभ्यंतर।
  • अंदाज- अंदाजा, अटकल, कयास, अनुमान।
  • अंधा- सूरदास, आँधरा, नेत्रहीन, दृष्टिहीन।
  • अंतरिक्ष- खगोल, नभमंडल, गगनमंडल, आकाशमंडल।
  • अंतर्धान– गायब, लुप्त, ओझल, अदृश्य।
  • अंबुज- कमल, पंकज, नीरज, वारिज, जलज, सरोज, पदम।
  • अंबुद- मेघ, बादल, घन, घनश्याम, अंबुधर, घटा, प्रमोद, वालिद, जलद।
  • अंबर- आकाश, आसमान, गगन, फलक, नभ, व्योम।
  • अंबु- जल, पानी, नीर, सलिल, वारि, जीवन, तोर, उदक।
  • अंशुमान- सूरज, सूर्य, रवि, दिनकर, दिवाकर, प्रभाकर,
  • अलंकार- आभूषण, भूषण, विभूषण, गहना, जेवर।
  • अहंकार- दंभ, गर्व, अभिमान, दर्प, मद, घमंड, मान।
  • अहंकारी- गर्वित, अकडू, मगरूर, अकड़बाज, गर्वीला, आत्माभिमानी, ठस्सेबाज, घमंडी।
  • अंधकार- तम, तिमिर, तमिस्र, अँधेरा, तमस, अंधियारा।
  • AmaRt– sauQaaÊ saaomaÊ pIyaUYaÊ AimayaÊ jaIvanaaodya
  • अचल –   अडिग ,अटल ,स्थिर ,दृढ, अविचल।
  • अश्व-   घोड़ा,आशुविमानक, तुरंग, घोटक, हय, तुरंगम, वाजि, सैंधव, रविपुत्र।
  • अतिथि- मेहमान, अभ्यागत, आगन्तुक, पाहुना।
  • अनुपम- अपूर्व, अतुल, अनोखा, अनूठा, अद्वितीय, अदभुत, अनन्य।
  • अमृत- सुरभोग, सुधा, सोम, पीयूष, अमिय, जीवनोदक ।
  • अग्नि- आग, ज्वाला, दहन, धनंजय, वैश्वानर, रोहिताश्व, वायुसखा, विभावसु, हुताशन, धूमकेतु, अनल, पावक, वहनि, कृशानु, वह्नि, शिखी।
  • असुर-यातुधान, निशिचर, रजनीचर, दनुज, दैत्य, तमचर, राक्षस, निशाचर, दानव, रात्रिचर, खल।
  • अधर्म –  पाप ,अनाचार, अनीत, अन्याय, अपकर्म, जुल्म।
  • अर्थ- धन, द्रव्य, मुद्रा, दौलत, वित्त, पैसा।
  • अरण्य- जंगल, वन, कानन, अटवी, कान्तार, विपिन।
  • अनी- कटक, दल, सेना, फौज, चमू, अनीकिनी।
  • अनादर- अपमान, अवज्ञा, अवहेलना, अवमानना, परिभव, तिरस्कार।
  • अंग- अंश, अवयव, हिस्सा, संघटक, घटक, उपादान, खंड, भाग, टुकड़ा, शरीर, तन, देह, गात, गात्र।
  • अभिमान- अस्मिता, अहं, अहंकार, अहंभाव, अहम्मन्यता, आत्मश्लाघा, गर्व, घमंड, दर्प, दंभ, मद, मान, मिथ्याभिमान।
  • भास्कर।
  • अकड़बाज- ऐंठू, गर्वीला, घमंडी, अकड़ूखाँ, अहंकारी।
  • अकिंचन- गरीब, निर्धन, दीनहीन, दरिद्र।
  • अंबुनिधि- समुंदर, सागर, सिंधु, जलधि, उदधि, जलेश।
  • अंशु- रश्मि, किरन, किरण, मयूख, मरीचि।
  • अखिलेश्वर- ईश्वर, परमात्मा, परमेश्वर, भगवान, खुदा।
  • अगम- दुष्कर, कठिन, दुःसाध्य, अगम्य।
  • अच्छा- बढ़िया, बेहतर, भला, चोखा, उत्तम।
  • अकृतज्ञ- अहसान- फ़रामोश, बेवफा, नमकहराम।
  • अक्ल- प्रज्ञा, मेधा, मति, बुद्धि, विवेक।
  • अड़ंगा- बाधा, रुकावट, विघ्न, व्यवधान।
  • अतीत- भूतकाल, विगत, गत, भूत।
  • अजनबी- अनजान, अपरिचित, नावाकिफ।
  • अजीब- अदभुत, अनोखा, विचित्र, विलक्षण।
  • अटल- अविचल, अडिग, स्थिर, अचल।
  • अधीन- मातहत, आश्रित, पराश्रित, परवश, परतंत्र।
  • अधीर- आतुर, धैर्यहीन, व्यग्र, बेकरार, उतावला।
  • अध्ययन- पठन-पाठन, पढ़ना, पढ़ाई, पठन।
  • अत्याचारी- जालिम, आततायी, नृशंस, बर्बर।
  • अदालत- कचहरी, न्यायालय, दंडालय।
  • अनाज- अन्न, गल्ला, नाज, खाद्यान्न।
  • अनाड़ी- अकुशल, अनभिज्ञ, अपटु।
  • अनाथ- तीम, लावारिस, बेसहारा, अनाश्रित।
  • अनपढ़- निरक्षर, अशिक्षित, अपढ़।
  • अनमोल- अमूल्य, बहुमूल्य, बेशकीमती।
  • अनुपम-  अनोखा, अनूठा, अपूर्व, अद्भुत, अद्वितीय, अतुल।
  • अनुभवी- तजुर्बेकार, जानकार, अनुभवप्राप्त।
  • अनुमति- इजाजत, सहमति, स्वीकृति, अनुमोदन।
  • अनुरोध- विनय, विनती, आग्रह, प्रार्थना।
  • अनिवार्य- अत्यावश्यक, अपरिहार्य, अवश्यंभावी, परमावश्यक।
  • अनुज- छोटा भाई, अनुभ्राता, अवरज, कनिष्ठ।
  • अपवित्र- अशुद्ध, नापाक, अस्वच्छ, दूषित।
  • अफवाह- गप्प, किंवदंती, जनश्रुति, जनप्रवाद।
  • अनूठा- अदभुत, अनोखा, विलक्षण, अपूर्व।
  • अन्न- अनाज, गल्ला, नाज, दाना।
  • अपराधी- गुनहगार, कसूरवार, मुलजिम।
  • अमन– शांति, सुकून, सुख-चैन, अमन-चैन।
  • अमर- चिरंजीवी, अनश्वर, अजर-अमर।
  • अमीर- धनी, मालदार, रईस, दौलतमंद, धनवान।
  • अभद्र- असभ्य, अविनीत, अकुलीन, अशिष्ट।
  • अभिनंदन- स्वागत, सत्कार, आवभगत, अभिवादन।
  • असत्य- झूठ, मिथ्या, मृषा, अवास्तविक, काल्पनिक, बनावटी, जाली, कृत्रिम, कृतक खोटा, असत।
  • असभ्य- गँवार, असंस्कृत, अशिष्ट, अभद्र, अविनीत, दुःशील, कुशील, अकुलीन, हीनाचार, असौम्य, अननुग्रही, उजड्ड।
  • अर्चना- आराधना, पूजा, पूजन, अर्चन।
  • अलि- भौंरा, मधुकर, भ्रमर, भृंग, मिलिंद, मधुप, अलिंद।
  • अंकन- अनुरेखन, प्रत्यंकन, अनुरेखण, रेखानुरेखण, अक्स बनाना, खाका बनाना, लेखन।
  • अहि- साँप, नाग, फणी, फणधर, सर्प।
  • अकड़- ऐंठ, तनाव, अभिमान, घमंड, शेखी, घृष्टता, ढिठाई।
  • अकड़ जाना- कठोर हो जाना, पथरा जाना, ऐंठ जाना।
  • अकथ- अनिर्वाच्य, अवाच्य, अवचनीय, अकथ्य, वर्णनातीत, अवर्णनीय।
  • अंश- हिस्सा, भाग, अवयव, खंड टुकड़ा, अंश की भिन्न की रेखा से ऊपर संख्या।
  • अकारण- बेमतलब, बेबात, बेवजह, बेसबब, नाहक, कारणरहित, निष्प्रयोजन।
  • अकारथ- बेकार, व्यर्थ।
  • अकाल- दुर्भिक्ष, भुखमरी, कुसमय, काल, दुष्काल, महँगी, मूल्यवृद्धि, तेजी।
  • अकल्याण- अशुभ, अमंगल, अहित, अनिष्ट, खराबी, हानि।
  • अकस्मात- अचानक, सहसा, तत्क्षण, संयोगवश, अकारण, अनायास, दैवयोग, यकायक, हठात, एकाएक, एकदम।
  • अकेलापन- एकांतिकता, एकांतवास, एकाकीपन, विविक्ता।
  • अक्खड़- अनौपचारिक, घृष्ट, नियम विरुद्ध, शिष्टाचार विहीन, गैररस्मी, बेतकल्लुफ।
  • अक्षर- वर्ण, हरुफ, अविनाशी।
  • अकुलाना- आकुल होना, घबराना, व्याकुल होना, अधीर होना, ऊबना, उकताना।
  • अकेला- एकाकी, तनहा, एकमात्र, अद्वितीय, अनन्य, अकेले-अकेले, अकेले-दम।
  • अखंडता- सततता, निरंतरता, अविच्छेदता, अविच्छिन्नता, अछिन्नता, पूर्णता।
  • अखरना- बुरा लगना, अप्रिय लगना, कष्टदायी लगना, दुःखदायी लगना, खलना।
  • अखाड़ा- मंडली, मठ, व्यायाम- शाला, मल्लयुद्ध करने का स्थान, तमाशा दिखाने वाले या नाच-गान करने वालों का जमावड़ा, साधुओं की मण्डली।
  • अकसर- प्रायः, बहुधा, अधिकतर, प्रायशः, अधिकांशतः।
  • अखंड- पूरा, समूचा, पूर्ण, अविभक्त, अजस्र, निरंतर, लगातार, अक्षय, अक्षुण्ण।
  • अगड़म- बगड़म-प्रकाष्ठ, निरर्थक पदार्थ, काठ-कबाड़, बेकार की चीज, अंगड़-खंगड़।
  • अगणित- असंख्य, बेशुमार, अनगिनत, अनंत, अपार, अमित, अपरिमित, असीम, निस्सीम।
  • अगम, अगम्य- कठिन, दुर्बोध, मुश्किल, दुश्वार, अज्ञेय, अथाह, गहरा, अपार, विकट, बहुत अधिक।
  • अगर- यदि, जो, यद्यपि, अगरचे।
  • अखिल- पूरा, समूचा, संपूर्ण, अखंड, अक्षय, अक्षुण्ण।
  • अख्तियार- अधिकार, वश, प्रभुत्व, सामर्थ्य।
  • अगला- अग्र, अग्रवर्ती, सामने का, पहले वाला, आगे आने वाला, पहला, प्रथम।
  • अगस्त्य- शिव, तीर्थ, दक्षिण का एक प्रसिद्ध तीर्थ, एक ऋषि का नाम, वृक्ष।
  • अगाध- अथाह, गहरा, अज्ञेय, दुर्बोध, अपार, असीम, बहुत।
  • अगर-मगर (करना)- टालमटोली करना, टालना।
  • अगल-बगल- आसपास, आजु-बाजू, निकट।
  • अगोचर- अप्रकट, अव्यक्त, इंद्रियातीत, अप्रत्यक्ष, अप्रकाशित, अप्रकाशमान, गुप्त, ईश्वर।
  • अगोरना- रखवाली करना, पहरा देना, रखाना, चौकीदार करना, यत्न से रखना, प्रतीक्षा करना, इंतजार करना, बाट देखना।
  • अगुआ- अग्रणी, मुखिया, नेता, सरदार, नायक, प्रधान, मार्गदर्शक, पुरोगम, पुरोधा, विवाह सम्बन्ध ठीक करने वाला।
  • अग्नि संताप- संज्वर, संताप, दाह, झुलस, जलन।
  • अग्र- आगा, अग्रभाग, सिरा, नोक, श्रेष्ठ, उत्तम, प्रधान, प्रमुख, मुख्य, अगला, आगामी।
  • अग्रगण्य- प्रधान, प्रमुख, मुख्य, प्रथम, पहला, प्रसिद्ध, विख्यात, मशहूर, नामवर।
  • अग्निकण- स्फुल्लिंग, चिनगारी।
  • अग्निकांड- अग्निदाह, प्रचंड अग्नि, दीपन, ज्वलन, प्रचंड ज्वाला, प्रज्वलन।
  • अग्निज्वाला- ज्वाला, शिखा, अग्निशिखा, भस्मनी, लूक, लुकारी, लपट, लौ।
  • अग्रसूचना देना- पूर्वाभास देना, पूर्वज्ञान कराना, पूर्व चिन्ह बताना, पूर्व लक्षण बताना।
  • अग्राह्य-अनुचित, अनुपयुक्त, अस्वीकार्य, अमान्य।
  • अघाना- तृप्त होना, पेट भरना, संतुष्ट हो जाना, छकना, पूर्ण हो जाना, जी भर जाना।
  • अचंभा- चकित, सन्न, आश्चर्य, ताज्जुब, विस्मय, हैरानी।
  • अग्रज- बड़ा भाई, बड़भ्राता, अगुआ, नेता, नायक।
  • अग्रणी- नायक, नेता, मार्गदर्शक, अगुआ, प्रधान, प्रमुख, मुख्य।
  • अचवना- मुँह धोना, कुल्ली करना, आचमन करना, अचवन करना।
  • अचानक- एकाएक, एकबारगी, सहसा, अकस्मात, यक-ब-यक, अनायास, हठात्, दैवयोग से, संयोग से, संयोगवश, अप्रत्याशित रूप से, आकस्मिक रूप से, अनजाने ही।
  • अचिर- तुरन्त, बिना देरी के, फौरन।
  • अचल- अविचल, अटल, अडिग, निश्चल, दृढ, स्थिर, अटूट।
  • अचला- धरती, पृथ्वी, मेदिनी, भूमि।
  • अचेत- मूर्च्छित, बेहोश, विकल, विह्वल, असावधान, अनजान, बेखबर, नासमझ, मूर्ख, जड़।
  • सबसे अच्छा- श्रेष्ठ, उत्तम, अत्युत्तम, सर्वश्रेष्ठ, सर्वोत्तम।
  • अच्छा लगना- प्रिय लगना, भाना, पसंद आना, सुहाना, रुचना, नजर में चढ़ना, जँचना, फबना, सजना, शोभा देना।
  • अचीन्हा- बे पहिचाना, अनजान।
  • अचूक- अमोघ, अनिष्फ़ल, (साधन, औषध आदि के सन्दर्भ में लाक्षणिक प्रयोग) रामबाण, ब्रह्ममास्त्रा।
  • अजस्र- लगातार, निरन्तर, सिलसिलेवार, क्रमिक।
  • अजिर- आँगन, सेहन, हवा वायु, पवन, वात।
  • अजीर्ण- अपच, बदहजमी।
  • अज्ञ- मूर्ख, अज्ञानी, बेवकूफ, नासमझ।
  • अच्छा न लगना- बुरा लगना, अखरना, खलना, चुभना, सालना, एक आँख न भाना, फूटी आँख न भाना।
  • अछूत- अस्पृश्य, हरिजन, अंत्यज, अनुसूचित जातीय।
  • अजय- पराजय, हार।
  • अटकल- अनुमान, अंदाज, कूत।
  • अटकाना- रोकना, ठहराना, टिकाना, अड़ाना, छेकना, रुकावट डालना, फँसाना, उलझाना, गति रोकना, अवरोध करना।
  • अटना- समाना, भर जाना, भरना, पर्याप्त होना।
  • अज्ञान- जड़ता, मूर्खता, अविद्या, मोह, अविवेक।
  • अज्ञानी- निर्बुद्धि, अनभिज्ञ, अज्ञ, मूढ़, अनजान, मूर्ख, बेवकूफ, नासमझ।
  • अटकना- अड़ना, रुकना, फँसना, बझना, रुकावट पड़ना, बाधा पड़ना, टिकना, ठहरना।
  • अटूट- अखण्ड, निरन्तर, अचल, दृढ़, अटल।
  • अणु- कण, छोटा टुकड़ा, रज, रजकण।
  • अण्डाकार- दीर्घवृत्तीय, दीर्घवृत्ताकार, अण्डवृत्ताकार।
  • अटल- स्थिर, अचल, अडिग, अविचलित, चिरस्थायी, पक्का, दृढ, धुव्र, निश्चित, अवश्यम्भावी, नियत, स्थायी, निश्चल, अचर, कृत संकल्प, दृढ़ संकल्प, दृढ़ प्रतिज्ञ, दृढ़ निश्चय, स्थिरमति, हठी, नित्य, अक्षय, शाश्वत, अमर।
  • अतिक्रमण- संक्रामण, अतिचरन, उत्क्रमण, अतिचार, अवज्ञा उल्लघंन।
  • अतिरिक्त- सिवाय, अलावा, भिन्न, अलग पृथक, विभिन्न, जुदा, न्यारा।
  • अतिसार- उदरामय, अतीसार, पेचिश।
  • अति- बहुत अधिक, अतिशय, अतीव, अत्यधिक, अतिमात्रा, ज्यादा, अनेक, असंख्य, अपार, अपरिमित, असीम, बेशुमार, बेहद, परम, विपुल, निपट, अधिकता, ज्यादती, अनाचार।
  • अतुल- अमित, असीम, अपरिमित, असमान, अनुपमेय।
  • अत्यंत- अधिक, अतिशय, अत्यधिक, काफी, बेहद।
  • अत्याचार- अन्याय, ज्यादती विरुद्धाचरण, शीलाघात, हिंसा, अनाचार, दुष्टता, व्यभिचार, पाप, दुराचार, बलात्कार, आडम्बर, पाखंड, ढकोसला।
  • अतीत- भूत, गत, व्यतीत, पृथक, अलग, जुदा, विरक्त।
  • अतीव प्रसन्नता- परमानन्द, हर्षातिरेक, हर्षोन्माद, अत्यानन्द, प्रहर्ष, मौज।
  • अदब करना- श्रद्धा रखना, पूजा-भाव रखना, भक्ति-भाव रखना, सम्मान करना, आदर करना, इज्जत करना, शिष्टाचार।
  • अदरक- आदी, आर्द्रक, शृंगवेर।
  • अथाह- अगाध, गहरा, अतलस्पर्शी, अपरिमित, अपार, गंभीर, गूढ़, कठिन।
  • अदद- गिनती, अंक, संख्या।
  • अद्भुत- विचित्र, विलक्षण, आश्चर्यजनक, स्वर्गीय, विस्मयजनक, अनोखा, अप्रतिम, दिव्य, अनूठा, असांसरिक, निराला अपूर्व, अलौकिक, अपार्थिव, अतिप्राकृत, लोकातीत, अजीब, अजब।
  • अद्वितीय- एकाकी, अकेला, एक, बेजोड़, असाधारण, अनुपम, विचित्र, विलक्षण, अद्भुत, अजीब, प्रधान, मुख्य।
  • अदला-बदली- विनिमय, आदान-प्रदान, उलटफेर, हेरफेर, परिवर्तन।
  • अदायगी- ऋण भुगतान, निपटाव, भुगतान, चुकती, भरपायी, वापसी, प्रतिदान, प्रत्यार्पण।
  • अदृश्य- अलख, अगोचर, ओझल, अंतर्धान, तिरोहित, लुप्त, गायब, परोक्ष।
  • अधार्मिक- धार्मिक मत विरोधी, धर्मविमुख, धर्मविरत, नास्तिक।
  • अधिकता- बाहुल्य, बहुलता, बहुत्व, बहुविधता, विविधता, बहुरूपता, अनेकरूपता, विभिन्नता, प्राचुर्य, प्रचुरता, अनेकता, आधिक्य, वैपुल्य, विपुलता, पर्याप्ति, यथेष्टता, पुष्कलता, रेलपेल, अतिशयता, बहुतायत, उद्रेक, अतिरेक, अधिकाई, वृद्धि, स्फीति, प्रभूतता।
  • अधम- निकृष्ट, निम्न, पतित, नीच, भ्रष्ट, हेय।
  • अधर्म- विरुद्धाचरण, धर्मोल्लघंन, नीतिभंग, अपराध, कल्मष, दुरित, अघ, दोष, कुकर्म, पातक, अपकर्म, पाप, दुष्कर्म, दुराचार, अनाचार, पापकर्म, गुनाह।
  • अधिकार क्षेत्र- अधिक्षेत्र, न्यायक्षेत्र, न्याय सीमा, अधिकार सीमा, अमलदारी, अस्तित्व क्षेत्र, प्रभाव क्षेत्र, कार्य क्षेत्र, कर्म क्षेत्र।
  • अधिकार छोड़ना- स्वत्व त्यागना, हाथ उठा लेना, दावा हटा लेना, दावा छोड़ देना।
  • अधिकारी- हकदार, दावेदार, स्वत्वधारी, स्वामी, कब्जेदार, अधिपति, प्रभु, सत्ताधारी, शासक, पदाधिकारी, अफसर, विज्ञ, पात्र, योग्य।
  • अधिकांश- भूयिष्ठ, अत्यधिक, अतिशय, अधिकतम, बहुतम, ज्यादातर।
  • अधिकार- प्रभुत्व, आधिपत्य, स्वत्व, स्वामित्व, दावा, हक, अखत्यार, वश, काबू, सत्ता, शासन, अधिकार, शक्ति, प्रभाव, क्षमता, सामर्थ्य, योग्यता।
  • अधीनस्थ पदाधिकारी- उपाधिकारी, अधीनस्थ अभिकर्त्ता, सहायक कर्मचारी, निम्न पदाधिकारी, नायब अधिकारी, कनिष्ठ अधिकारी, उपाश्रित अधिकारी, पेशकार।
  • अधेड़- प्रौढ़त्व, प्रौढ़ावस्था, पक्की उम्र।
  • अधोलोक- पाताल, रसातल।
  • अध्यक्ष- सभापति, प्राध्यक्ष, प्रधान, संचालक, प्रबंधक, अधिष्ठाता, नायक, प्रमुख, मुखिया, सरदार, चेयरमैन।
  • अधिवक्ता- प्रतिनिधिवक्ता, मुखपात्र, पक्षवक्ता, वकील, नुमाइंदा।
  • अधीनस्थ- अतिरिक्त, सहायक, निम्न पदस्थ, उपाश्रित।
  • अनंत- असीम, बेहद, निस्सीम, अपरिमित, अविनाशी, नित्य, अक्षम, अक्षुण्ण, अमर, अतिशय, अधिक, अगणित, असंख्य, बहुत, बेशुमार, आकाश, आसमान, नभ, गगन।
  • अनकहा- अव्यक्त, अनुक्त, गुप्त, अकथित, अध्वनित।
  • अनगिनत- अगणित, संख्यातीत, असंख्य, अनगिनत, बेहद, बेशुमार, असीम।
  • अनजान- अज्ञात, अपरिचित, अनभिज्ञ, भोला-भाला, नासमझ, नादान, सीधा, अज्ञ, अज्ञानी।
  • अनदेखा- बिनदेखा, अदेखा।
  • अध्ययन- पठन, पढ़ना, पढ़ाई, पारायण, अवलोकन, निरीक्षण, प्रेक्षण, पर्यवेक्षण, अनुशीलन, परिशीलन।
  • अध्यापक- शिक्षक, गुरु, उस्ताद।
  • अनमना- उदास, अन्यमनस्क, उन्मन, विमुख, विरक्त, उदास, गतानुराग, अन्यमनस्क।
  • अनवरतता- नित्यता, लगातार, शाश्वतता, चिरन्तनता, चिरस्थायित्व, सनातनता, सातत्य, क्रमबद्धता, निरन्तरता, बिना रुके।
  • अनाज- अन्न, धान्य, गल्ला, दाना, खाधन्न।
  • अनन्तर- तदुपरांत, तत्पश्चात्, इसके पश्चात्, इसके बाद, उसकी पीछे, फिर।
  • अनपढ़- मुर्ख, गँवार, अपढ़, अशिष्ट, अशिक्षित, उजड्ड, अक्खड़ जाहिल, निरक्षर।
  • अनबन- मतभेद, वैमनस्य, विरोध, असहमति, झगड़ा, तकरार, विवाद, बखेड़ा, टंटा।
  • अनादर करना- अवज्ञा करना, अपमान करना, उपेक्षा करना, तुच्छ समझना, अवहेलना करना, तिरस्कार करना, हेय समझना, निरादर करना।
  • अनादरपूर्ण- निरादरपूर्ण, असम्मानपूर्ण, अपमानपूर्ण, अवमानी, अपेक्षामय, पराभवपूर्ण।
  • अनाप-शनाप- अंटसंट, उटपटांग, अव्यवस्थित, बेहिसाब, अपरिमित, असीम, बेहद, निस्सीम।
  • अनावश्यक- अनपेक्ष, निष्प्रयोजन, व्यर्थ, बेकार, अनपेक्षित, फिजूल, फालतू, गैर-लाजिमी, गैर-जरूरी, गौण।
  • अनाज गोदाम– धान्यागार, धान्यकोष्ठ, कोठार, खत्ती, अन्नागार, अन्नभंडार, गल्ला- गोदाम।
  • अनादर- अवहेलना, अवज्ञा, तिरस्कार, उपेक्षा, उपहास, अश्रद्धा, अवमान, अपमान, तौहीन, हिकारत, अपकर्ष, मानमर्दन, प्रतिष्ठा भंग, परिभव, पराभव, असम्मान।
  • अनिवार्य गुण- सहज प्रवृति, नैसर्गिक प्रवृति, स्वाभाविक गुण, अपरिहार्य लक्षण, अत्यावश्यक गुण, भाव, निष्कर्ष।
  • अनिश्चय- असमंजस, दुविधा, उलझन।
  • अनिंद्य- अनिंदनीय।
  • अनियत- कदाचित, विरला, यदा-कदा।
  • अनियमित- अनियत, नियमविरुद्ध, बेकायदा, अनियमी, असमान।
  • अनुकंपा- कृपा, दया, सहानुभूति।
  • अनुकरण- नकल, देखादेखी, अनुसरण, अनुगमन, अनुवर्तन, अनुकृति, प्रतिकृति।
  • अनुकूल- अनुसार, अनुरूप, मुआफिक, संगत, अविरुद्ध, पक्ष में अभिमत, सामंजस्यपूर्ण, हितकर, लाभदायक, कल्याणकार।
  • अनिश्चित- अनिर्णयात्मक, अनिर्णीत, संदिग्ध, संशयात्मक, दोलायमान, विचारधीन, अनियमित, असंबद्ध, अनधिकृत, असंख्य, अगण्य, अस्पष्ट, अस्थिर, भ्रामक, संशयपूर्ण, शंकाकुल।
  • अनिष्ट- बुरा, अनुचित, अशुभ, अहितकर, अमंगल, अकल्याण, अवांछित, अनभिष्ट।
  • अनुचित- अनुपयुक्त, अवांछनीय, अयुक्तसंगत, युक्तहीन, असंगत, नामुनासिब, इष्टप्रतिकूल, बेजा, गैरमाकूल, नाजायज, गैरबाजिब, नीतिविरुद्ध, अनैतिक, असमीचीन, असमयोचित।
  • अनुपम- उपमारहित, असाधारण, अप्रतिम, निरूपम, अपूर्व, अद्वितीय, बेजोड़, अतुल, बेनजीर, सुन्दर, बढ़िया, अच्छा, लाजवाब।
  • अनुपस्थित- गैरमौजूदगी, गैरहाजिरी, अविद्यमानता, अभाव, कमी, रहित, शून्यता।
  • अनुभव– तजुर्बा, अनुभूति, आपबीती, संवेदनशीलता, इंद्रियबोध क्षमता, इंद्रियबोध शक्ति, संवेदन, संवेदना।
  • अनुकूलता- अनुयोज़्यता, अविरुद्धता, अनुरूपता, आनुकूल्य, अनुकूलनशीलता, अविमुखता।
  • अनुकूल होना- अनुरूप होना, ऐक्य होना, एकमत होना, एकरूप होना।
  • अनुरक्ति- अनुराग, प्रेम, स्नेह।
  • अनुरूप- आनुषंगिक, सदृश, समरूप, समान, तुल्यरूप, समान, एकरूप, मिलता-जुलता।
  • अनुभवहीन- अकुशल, अपटु, अनिपुण, अनाड़ी, अनभ्यस्त, अनुभवरहित।
  • अनुभवी- कर्मप्रवीण, दक्ष, कुशल, निपुण, जानकार, तजुर्बेकार।
  • अनुमान- अटकल, अंदाज, कयास, कूत, पूर्वानुमान, प्राक्कलन, मूल्यांकन, आकलन।
  • अनुयायी- अनुगामी, मतावलंबी, समर्थक, नौकर, सेवक, अनुचर, चाकर, दास।
  • अन्य– दूसरा, इतर, और अनंतर, बाद वाला।
  • अन्यथा- वर्ना नहीं तो, और तरह, और कुछ।
  • अनूठा- अनोखा, निराला, विलक्षण, अनुपम, बेजोड़।
  • अनेक- विविध, नाना, कई, असंख्य, अगणित।
  • अपकार- अहित, अमंगल, अनिष्ट, हानि, बुराई, अनुपकार, द्रोह, द्वेष, दुष्क्रिया, मंदकर्म।
  • अपकर्ष- अवनति, अधोगति, घटाव, उतार, पतन, अधोपतन।
  • अनोखा- विलक्षण, विचित्र, असाधारण, अद्भुत, निराला, अजीब, विस्मयजनक, आश्चर्यजनक, अलौकिक, अपूर्व, अद्वितीय, अप्रतिरूप, अनूठा, बेजोड़, चमत्कारिक।
  • अपनापन- स्वत्व, निजीपन, व्यक्तिगत, अपनत्व, आत्मीयता।
  • अपने आप- स्वयं, स्वमेव, स्वतः, खुद-ब-खुद, अनायास, बेसाख्ता, बरबस, बेअख्तियार, हठात, यंत्रवत।
  • अन्वेषण- जाँच, खोज, अनुसंधान अन्वेषण।
  • अपराध- दुष्कर्म, गुनाह, गलती, दोष, पाप, कसूर, खता, जुर्म।
  • अपशकुनी- अपशाकुनिक, अनिष्टशंसी, अनष्टिकारी, अमंगलसूचक।
  • अपढ़ आदमी- अशिक्षित व्यक्ति, निरक्षर व्यक्ति, निरक्षर भट्टाचार्य, अप्रबुद्ध व्यक्ति।
  • अभिप्राय- तात्पर्य, आशय, विचार, मंतव्य, उद्देश्य, ध्येय, लक्ष्य, प्रयोजन, इरादा, नीयत, मंशा, मुराद, अभिलाषा, इच्छा, आकांक्षा, स्पृहा, कामना।
  • अभिमन्यु- सौभद्र, पार्थनंदन, पाण्डुपौत्र।
  • अपनाना- स्वीकार करना, ग्रहण करना, आत्मसात् करना, कबूल करना, अख्तियार करना, अंगीकार करना, अपना बनाना, आत्मीयता स्थापित करना, गले लगाना, कलेजे से लगाना, आश्रय देना।
  • अप्रसन्न- नाराज, उदास, दुःखी, विरक्त, अन्यमनस्क, खिन्न, म्लान, असंतुष्ट।
  • अप्रसन्नता- खिन्नता, म्लानता, नाराजगी, रंजीदगी, असंतोष, उदासी।
  • अप्रिय- अवांछनीय, बुरा, प्रतिकूल, अचारू, बेमजा, नागवार, अरुचिकर, अनचाहा, अप्रीतिकर, विरक्तिजनक, घृणास्पद।
  • अपमानजनक- निरादरपूर्ण, तिरस्कारपूर्ण, उपेक्षापूर्ण, घृणास्पद, पराभवपूर्ण।
  • अपयश- अपकीर्ति, अयश, अकीर्ति, अपवाद, निन्दा।
  • अब- इस समय, अभी, आज, संप्रति, आजकल, इन दिनों, आगे भविष्य में।
  • अभागा- हतभाग्य, बदनसीब, भाग्यहीन, अभाग्यशाली, मनहूस, बदकिस्मत, मंदभाग्य, दुःखापन्न।
  • अभाव-कमी, तंगी, टोटा, हीनता, क्षीणता।
  • अपहरण- हर लेना, छीन लेना, जबरदस्ती उठा ले जाना, अगवा।
  • अभिवादन- नमस्कार, प्रणाम, सलाम, वंदना।
  • अभेद्य- अकाट्य, अखंडनीय, अटूट, दृढ़, दुर्मेध।
  • अभ्यास- बार-बार, अनुशीलन, पुनरावृत्ति, मश्क, दोहराव, रियाज, स्वभाव, आदत, बान, टेव।
  • अमरूद- पेरुक, अमृतफल, बिही, सफरी।
  • अफ़सोस- दुःख, खेद, विषाद, शोक, पश्चाताप, गम, म्लानि।
  • अमानतदार- निक्षेपधारी, न्यासी, प्रन्यासी, न्यासधर, न्यायधारी, धरोहर रक्षक।
  • अमान्य- अस्वीकार्य, अनधिकृत, नामंजूर, अस्वीकृत।
  • अभिनय करना- इंगित करना, हाव-भाव व्यक्त करना, नाटकीय प्रदर्शन, स्वाँग।
  • अभिनेता- नट, भाँड, नाटक पात्र, मंचनायक, अदाकार पात्र, नायक, छद्मवेशी।
  • अभिन्नता- ऐकात्म्य, ऐक्य, अभेद, तादात्म्य, सायुज्य, एकात्मता, अनन्यता, पूर्णता।
  • अयोग्य- अक्षम, अनुपयुक्त, अनुपयोगी, नालायक, बेकार, असमर्थ, अगुन सम्पन्न, योग्यताहीन, व्यर्थ, गुणहीन।
  • अयोग्य ठहरना- अनर्हित ठहरना, अपात्र ठहरना, अक्षम ठहरना, अनुपयुक्त बताना, नालायक सिद्ध करना, गुणहीन सिद्ध करना, बेकार सिद्ध करना।
  • अभिमानी- गर्वी, दर्पी, दम्भी, घमंडी, अहंकारी, मदांध, गर्वीला, मगरूर, शेखीबाज।
  • अभिलेख- शिलालेख, उत्कीर्ण लेख, ऐतिहासिक प्रमाण, लिखित प्रमाण, सुरक्षित विवरण, वृत्तलेख, पुरातत्व ग्रंथ, ऐतिहासिक प्रलेख, तारीखी दस्तावेज।
  • अराधना- पूजना, जपना, सुमिरना, स्मरण करना।
  • अरुचि– जुगुप्सा, घृणा, अप्रीति, विराग, विरक्ति, नापसंदगी, नफ़रत, विराग, विमुखता, अनिच्छा, ऊब, नीरस, बोर।
  • अमानत- थाती, धरोहर, उपनिधि, न्यास।
  • अलग- पृथक, भिन्न, जुदा, न्यारा, अलहदा, विविक्त, विभक्त, असंबद्ध, वियुक्त, विलग, अलग-थलग।
  • अलगाना- अलग करना, पृथक करना, वियुक्त करना, असंयुक्त करना, असंबद्ध करना।
  • अमावस्या- कुहू, अमा, अमावस, कृष्णपक्ष की अंतिम तिथि।
  • अमीरी- सम्पन्नता, धनबाहुल्य, वैभव, समृद्धि, मालदारी, दौलतमंदी।
  • अमूल्य- अनमोल, बहुमूल्य, मूल्यवान, कीमती, बेशकीमती।
  • अलसाना- सुस्ती करना, ऊँघना, तंद्रित होना, मंद होना, ठंडा पड़ना, सुस्ताना, झपकना, प्रमत्त होना, उनींदा होना, तन्द्रित होना।
  • अलापना- गीत गाना, गाना गाना, गायन गाना, तराना छेड़ना, स्वरकंपन करना, राग छेड़ना।
  • अयोग्यता- अनर्हता, अपात्रता, अक्षमता, अनुपयोगिता, अपटुता, अदक्षता, गुणहीनता, अनुपयुक्त।
  • अयोध्या- अवध, अवधपुरी, विमला, साकेत।
  • अरवी- घुइयाँ, आलुकी, गजकर्ण, अरुई।
  • अल्पानुमान- अवमानन, न्यूनानुमान, अल्पमूल्य निरूपण, कम अंदाजा।
  • अवकाश- समय, मौका, छुट्टी, फुर्सत, विश्राम।
  • अरुण- सूर्य, दिनकर, दिवाकर, भास्कर, दिननाथ।
  • अर्जुन- धनंजय, कुन्तिसुत, पांडुनंदन, पार्थ, विजयरथ, गांडीवधर, कपिध्वज, सव्यसाचि, धनुर्धर।
  • अर्थहीनता- प्रयोजनहीनता, आशयहीनता, अनर्थकता, धनहीन।
  • अवज्ञा- अवहेलना, अवमानना, अनादर, निरादर, तिरस्कार, अपमान।
  • अवनति- अधोगति, अपकर्ष, पतन, ह्रास, उतार, घटाव, गिराव।
  • अलगाना- अलग करना, पृथक करना, वियुक्त करना, असंयुक्त करना, असंबद्ध करना।
  • अलगाव- विच्छेद, पार्थक्य, अपयोजन, वियोजन, पृथक्करण, पृथकता, विलगता, वियोग, बिलगाव, विश्लेष, विभाजन, असंयोजन, बँटवारा।
  • अलबेला– बाँका, छैला, रंगीला, रसिक, रसिया, लुभावना, सुहावना, मनोहर, चित्ताकर्षक, मनोरम, मनोरंजक।
  • अवस्था– आयु, उम्र, वय, दशा, हालत, स्थिति।
  • अविवाहिता- युवती, किशोरी, कुमारिका, कुमारी, बाला अल्पवयस्का, कन्या, कुँवारी।
  • अलौकिक- असाधारण, अपूर्व, अद्भुत, लोकोत्तर, विलक्षण, विचित्र, अनूठा, अनोखा, असांसारिक, गैर दुनियावी, नैतिक।
  • अल्प- अप्रचुर, बहुत कम, थोड़ा, नाकाफी, नाममात्र को, न्यून, अत्यल्प, नहीं के बराबर, जरा-सा।
  • अवकाश ग्रहण करना– रिटायर होना, सेवा निवृत्त होना, निवृत होना, कर्म त्याग करना, कार्य निवृत्ति ग्रहण करना, अपदस्थ होना, पदच्युत होना, पेंशन ले लेना, काम से हट जाना।
  • अवकाश प्राप्त- निवृत्त, कर्म विरत, अवसर प्राप्त, पेंशन प्राप्त, रिटायर्ड।
  • अवमानना- अनादर करना, अपमान करना, निरादर करना, अवहेलना करना, तिरस्कार करना, उपेक्षा करना।
  • अवलोकन- निरीक्षण, निरूपण, प्रेक्षण, पर्यवेक्षण।
  • अवश्य- जरूर, असंशय, निश्चय ही, निःसंदेह, अनिवार्यत, लाजिमी तौर पर।
  • असभ्यता- अविनय, अशिष्टता, अभद्रता, ग्रात्यता, गँवारपन, उजड्डपन, वन्याचरण, बर्बरता, निष्ठुरता, घृष्टता, प्रगल्भता, ढिठाई, गुस्ताखी।
  • असमंजस- दुविधा, उभयसंकट, हिचक, अनिश्चय, उहापोह, कशमकश, किंकर्तव्यविमूढ़ता।
  • अविश्सनीय- अविश्वास्य, अयुक्त, अप्रमाणिक, जाली।
  • अवैध- अमान्य, नाजायज, गैर-क़ानूनी, नियम विरुद्ध, असंगत, नीति विरुद्ध।
  • असहनशीलता- असहिण्णुता।
  • असहनीयता- सहिष्णुता, अक्षमता, अक्षन्तव्यता, अमर्षणीयता।
  • असहमति- आपत्ति, विरोध, एतराज, हुज्जत, नापसन्दगी।
  • अव्यवस्थित- क्रमहीन, बेतरतीब, अनियमित, अस्त-व्यस्त, विपर्यस्त, अटपटा, बेतुका, बेढंगा, बेकायदा, बे सिर-पैर का, अंट-संट, अंड-बंड, उलटा-पुलटा, ऊटपटाँग, ऊलजलूल, अनाप-शनाप।
  • अशकुन- अपशकुन, अशगुन, अशुभ, अमंगल।
  • अश्लीलता- असभ्यता, बेहूदगी, भद्दापन, गँवारपन, अशिष्टता, बेशर्मी, अभद्रता, फूहड़पन, ओछापन, कमीनापन।
  • असंतोष- नाराजगी, अतृप्ति, खिन्नता, विराग, अपराग, अनुरक्ति, अभक्ति, अश्रद्धा, असन्तुष्टि।
  • असंभव– असंभाव्य, नामुमकिन, गैरमुमकिन।
  • अशिक्षित- अशिष्ट, अपढ़, अनपढ़, मूर्ख, गँवार, उजड्ड, अक्खड़, जाहिल।
  • अशुद्ध- अपवित्र, दूषित, मलिन, अशुचि, सदोष, दोषयुक्त, ऐबदार, गलत, त्रुटिपूर्ण, झूठा, मिथ्या।
  • असावधान- बेपरवाह, लापरवाह, बेखबर, गाफिल, बेहोश, अचेत, प्रमादी।
  • असावधानी- बेपरवाही, लापरवाही, गफलत, अनवधान, प्रमाद, बेहोशी।
  • अश्लील- अशिष्ट, ग्राम्य, बेशर्म, गंदा, अभद्र, कुत्सित, फूहड़, लज्जास्पद, लज्जाकर, लज्जाप्रद, बुरा, अपकीर्तिकर, खराब, शर्मनाक, असंस्कृत, गँवारू, भद्दा, देहाती, ओछा, कमीना, असभ्य, अविनीत, अयोग्य, अनुचित, लचर।
  • अस्तित्व- सत्ता, वजुद, विद्यमानता, उपस्थिति, मौजूदगी।
  • अस्त्र-शस्त्र- हथियार, आयुद्य, औजार।
  • असफलता- विफलता, असिद्धि, नाकामयाबी।
  • असाधारण- अद्वितीय, अन्यतम, अनन्य, अतुल, अतुलनीय, अप्रितम, बेजोड़, बेमिसाल, बेनजीर, लाजवाब, अनुपम, निरुपम, अजीब, अजीबोगरीब, अपूर्व, विशिष्ट, अपने ढंग का, कमाल का, गजब का, लाखों में एक, धुरंधर, दिग्गज, सिद्ध, प्रसिद्ध।
  • असमान- विषमरूप, विषम, विरोधी, भिन्न, असदृश, असम, अतुल्य, बेमेल।
  • अमानता- असादृश्य, असाम्य, वैषम्य, पार्थक्य, पृथकता, विभिन्नता, भिन्नत्व, भिन्नता, भेद, अन्तर, फर्क, विषमता, विभेद, असमता, असदृशता।
  • असरदार- प्रभावशाली, प्रभावपूर्ण, प्रभावी, फ़लप्रद, प्रभावोत्पादक, जोरदार।
  • असली- यथार्थ, वास्तविक, तथ्यपूर्ण, यथार्थिक, अवितथ, सच्चा, खरा, असल, सत्य, तात्विक।
  • अस्थिर- विचलित, विकंपित, डगमग, चंचल, चपल, अधीर, अशांत, गतिमान, चलायमान, कंपायमान, दोलायमान, अस्थायी, क्षणभंगुर, अनित्य, नाशवान।
  • अस्पताल- औषधालय, रुग्णालय, दवाखाना, उपचारगृह।
  • असहाय- अनाथ, निःसहाय, बेकस, यतीम, बेसहारा, निराश्रित, विवश, लाचार, वशीभूत, दीन, मजबूर।
  • अहितकर- अनिष्टकारी, कष्टप्रद, अशुभकारी, अमंगलकारी, अकल्याणकर।
  • अहीर- गोप, ग्वाल, गोपाल, यादव, अहिर, भीर।
  • असाधारणता- अपप्रकृतत्व, अपसामान्यतया, विसामान्यतया, स्तरच्युति, वैरूप्य, विलक्षणता, अस्वाभाविकता।
  • आंसू- नेत्रजल, नयनजल, चक्षुजल, अश्रु।
  • आत्मा- जीव, देव, चैतन्य, चेतनतत्तव, अंतःकरण।
  • असीम- अपरिमित, अमित, अनंत, असीमित, अपार, असंख्य, अकूत, बेहिसाब, बेहद।
  • असुन्दर- कुरूप, बदसूरत, बदशक्ल, बेडौल, भौंडा, अनपयुक्त, भद्दा, बेतुका, बेढब, बेढंगा।
  • Asaur– raxasaÊ dO%yaÊ danavaÊ dnaujaÊ yaatuQaanaÊ inaiSacarÊ rjanaIcar 
  • अस्त- तिरोहित, अदृश्य, लुप्त, नष्ट, वस्त, लोप, अदर्शन।
  • आकाश आसमान, नभ, गगन, व्योम, फलकनभ, अनन्तं, अभ्रं, पुष्कर, शून्य, तारापथ, अंतरिक्ष,  फलक, दिव, खगोल, अम्बर।
  • आक्रोश- क्रोध, रोष, कोप, रिष, खीझ।
  • अस्थायी- अस्थिर, क्षणिक, क्षणभंगुर, अनित्य, नाशवान, फानी, सामयिक, आरजी, कच्चा, नापायदार, कागजी।
  • आग- पावक, अनल, अग्नि, दव, हुताशन, रोहिताश्व, उष्मा, ताप, तपन, जलन, आतिश, पांचजन्य, ज्वाला, दावानल, दावाग्नि, बाड़व, वहि।
  • आचरण- चाल-चलन, बर्ताव, व्यवहार, चरित्र।
  • अस्वीकार करना- इनकार करना, मना करना, नकारना, न मानना, ठुकरा देना, अनंगीकार करना, ग्रहण न करना, खंडन करना, मुकर जाना, प्रत्याख्यान करना।
  • अस्वीकृति- अमान्य, नामंजूर, अस्वीकार, असम्मति, विरोध, नापसंदगी।
  • अहसान- उपकार, भलाई, अनुग्रह, कृतज्ञता, आभार।
  • आज्ञा- हुक्म, फरमान, आदेश।
  • आतिथ्य- मेहमानदारी, मेजबानी, मेहमाननवाजी, खातिरदारी।
  • आँख- लोचन, अक्षि, नैन, अम्बक, नयन, नेत्र, चक्षु, दृग, विलोचन, दृष्टि, अक्षि।
  • आकाश- नभ, गगन, द्यौ, तारापथ, पुष्कर, अभ्र, अम्बर, व्योम, अनन्त, आसमान, अंतरिक्ष, शून्य, अर्श।
  • आनंद- हर्ष, सुख, आमोद, मोद, प्रसन्नता, आह्राद, प्रमोद, उल्लास।
  • आश्रम- कुटी, स्तर, विहार, मठ, संघ, अखाड़ा ।
  • आम- रसाल, आम्र, अतिसौरभ, मादक, अमृतफल, चूत, सहकार, च्युत (आम का पेड़), सहुकार।
  • आनन- चेहरा, मुखड़ा, मुँह, मुखमंडल, मुख।
  • आबंटन- विभाजन, वितरण, बाँट, वंटन।
  • आँगन- अँगना, अजिरा, चौक, सहन, सेहन, अहाता, प्रांगण।
  • आँधी- तूफान, बवंडर, झंझावत, अंधड़।
  • आईना- दर्पण, आरसी, शीशा।
  • आयुष्मान- दीर्घायु, दीर्घजीवी, चिरंजीवी, चिरायु।
  • आरंभ- श्रीगणेश, शुभारंभ, प्रारंभ, शुरुआत, समारंभ, शुरू, सूत्रपात, शिलान्यास, उपक्रम, इब्तदा, आगाज, बिस्मिल्ला, आविर्भाव, पादुर्भाव, उदय, उत्पत्ति, जन्म, अथ, आदि।
  • आखेटक- शिकारी, बहेलिया, अहेरी, लुब्धक, व्याध।
  • आगंतुक- मेहमान, अतिथि, अभ्यागत।
  • आइसक्रीम- मेवों की बर्फ, जल की बर्फ, जमाई गई मिठाई, मलाई बर्फ।
  • आकर्षक- चित्ताकर्षक, मोहक, विमोहक, विमोही, प्रलोभक, मनमोहक, मनोहारी, मनोहर, मुग्ध, सुन्दर, मनमोहक, प्रलोभनकारी, स्पर्शी, दिलचस्प, हृदयग्राही, लुभावना, दिलकश, चिन्ताहारी।
  • आचार्य- शिक्षक, अध्यापक, प्राध्यापक, गुरु।
  • आजादी- स्वाधीनता, स्वतंत्रता, मुक्ति।
  • आजीविका– व्यवसाय, रोजी-रोटी, वृत्ति, धंधा।
  • आकलन- प्राक्क्थन, अगणन, अर्धगणन, मूल्य निरूपण, आँक, कूत, तखमीना।
  • आकस्मिक- अनअनुमानित, आपाती, अकारण, औपल क्षणिक, अप्रत्याशित, अचानक।
  • आत्मा- रूह, जीवात्मा, जीव, अंतरात्मा।
  • आदत- स्वभाव, प्रकृति, प्रवृत्ति।
  • आदमी- मानव, मनुष्य, मनुज, मानुष, इंसान।
  • आकृति- बनावट, ढाँचा, गढ़न, अवयव, आकार, चेहरा-मोहरा, डील-डौल, नैन-नक्श, मूर्ति, चित्र, अनुकृति, प्रतिकृति, प्रतिबिंब, प्रतिरूप, प्रतिमूर्ति, आलेख्य, रुपरेखा।
  • आक्रमण- हमला, चढ़ाई, धावा, अभियान, प्रहार, वार, आघात।
  • आबरू- सम्मान, प्रतिष्ठा, इज्जत।
  • आयु- उम्र,वय, जीवनकाल।
  • आख़िरकार– अंततोगत्वा, अंततः, फलतः, शेषतः।
  • आख्यान- कथा, कहानी, किस्सा, वृत्तांत, वर्णन, बयान।
  • आरसी– दर्पण, आईना, मुकुर, शीशा।
  • आवास- निवास-स्थान, घर, निलय, निकेत, निवास।
  • आवेदन- प्रार्थना, याचना, निवेदन।
  • आशीर्वाद- शुभकामना, आशीष, आशिष, शुभवचन, आर्शीवचन, धन्यवाद, दुआ।
  • आँकना- अंदाजना, अनुमान करना, अंदाजा लगाना, निरखना, समझना, कूतना, आकलन करना, प्राक्कलन।
  • आँसू भरा- अश्रुपूरित, अश्रुपूर्ण।
  • आख़िरकार- अंततोगत्वा, अंततः, फलतः, शेषतः।
  • आख्यान- कथा, कहानी, किस्सा, वृत्तांत, वर्णन, बयान।
  • आकर्षण- सम्मोहन, खिंचाव, कशिश, दिलकशी।
  • आकर्षित करना- समाकर्षित करना, आकृष्ट करना, लुभाना, खींचना, मुग्ध करना, मोहना।
  • आचरण- समानुष्ठान, अनुचेष्टा, चेष्टा, चर्या, गतिविधि, व्यवहार, बर्ताव, चाल-चलन, शिष्टाचार, सदाचार।
  • आचार- व्यवहार, आचरण, अनुष्ठान, बर्ताव।
  • आकाश गंगा- आकाशनदी, स्वर्गनदी, मंदाकिनी, नभगंगा, सुरदीर्घिका।
  • आकुल- व्यग्र, व्यस्त, उद्विग्न्, क्षुब्ध, उद्वेलित, विक्षुब्ध, बेचैन, अधीर, विकल, बेकल, बेसब्र, बेहाल, व्याकुल, अशांत, आर्त, अकल, आतुर, बेकरार, बेताब, व्याप्त, दुःखित, व्यग्र, उतावला।
  • आडंबर- बनावटी, टीमटाम, दिखावा, स्वाँग, ढकोसला, पाखंड, ढोंग, प्रपंच, छल प्रपंच।
  • आड़- ओट, पर्दा, ओझल, रोक, टेक, थूनी, रोध, अवरोधक, अवरोध, बाढ़, शरण, आश्रय, रक्षा, सुरक्षा।
  • आक्षेप- आरोप, अभियोग, इल्जाम, दोषारोपण, व्यंग्य, कटुभाषण।
  • आखिर- अंतिम, पिछला, समाप्त, खतम, अंत, समाप्ति, उपसंहार, नतीजा, फल।
  • आत्मदर्शन- आत्मपरीक्षण, अंतरावलोकन, अंतर्निरीक्षण, अंतर्दर्शन, अंतर्दृष्टि।
  • आत्मसंयम- आत्मनियंत्रण, आत्मनिग्रह, इंद्रियसंयम, जितेन्द्र।
  • आख्यायिका- उपन्यास, प्रसिद्ध कथा, लोककथा।
  • आक्षेप- आरोप, अभियोग, इल्जाम, दोषारोपण, व्यंग्य, कटुभाषण।
  • आखिर- अंतिम, पिछला, समाप्त, खतम, अंत, समाप्ति, उपसंहार, नतीजा, फल।
  • आदर्श- दर्पण, शीशा, आईना, प्रतिमान, प्रतिरूप, मानक, नमूना।
  • आदि- प्रथम, पहला, आरंभिक, आरंभ, शुरुआत, इत्यादि, वगैरह, मूलकारण, बुनियाद, ईश्वर, परमात्मा।
  • आगामी- आने वाला, भविष्यत, भविष्य।
  • आगे- अग्रे, अग्र, पूर्व, प्रथम, पहले, सामने, सम्मुख।
  • आदेशात्मक- आज्ञा सम्बन्धी, अधिदेशी, अधिदेश विषयक, नियोजनीय।
  • आधा- अर्द्ध, अर्धांश, अद्धा।
  • आज्ञा- आदेश, हुक्म, फरमान, शासनादेश, निर्देश, निदेश, अनुशासन, समादेश, इजाजत, सहमति।
  • आज्ञाकारी- आदेशपालक, व्यवस्थाप्रिय, अनुगत, हुक्मबरदार।
  • आधारहीन- निराधार, अमूल, निर्मूल, निराश्रय, भित्तिशून्य, बेबूनियाद, अवास्तविक, अवास्तव, मिथ्या, बेअसल, सरासर गलत।
  • आधुनिक- अर्वाचीन, अप्राचीन, वर्तमान, नूतन, नूतनकालीन, वर्तमानकालीन, आजकल का।
  • आतंक- संत्रास, अतिभय, दहशत, होहल्ला, भगदड़, कोलाहल, उपद्रव, हुड़दंग।
  • आत्मत्याग- आत्मपरित्याग, आत्मनिरोध, आत्मनियम, स्वार्थत्याग, इच्छा दमन, स्वार्थहोम, मन को मारना।
  • आना- आगमन होना, पदार्पण करना, प्रवेश करना, पधारना, शुभागमन, तशरीफ लाना, आ धमकना, आ टपकना, उपस्थित होना, हाजिर होना।
  • आनाकानी- उपेक्षा, अनसुनी, कतराना, टालना, बहाना करना, बचाना, जी चुराना।
  •   आत्मा –प्राणी, प्राण, जान, जीवन, चैतन्य, ब्रह्म, क्षेत्रज्ञ, सर्वज्ञ, सर्वव्याप्त, विभु, जीव ।
  • आत्मसात करना- आत्मीकरण करना, सम्मिलित कर लेना, मिला देना।
  • आदरणीय- मान्य, माननीय, सम्मानीय, पूजनीय, पूज्य, श्रद्धास्पद, श्रद्धेय, पूज्यपाद।
  • आदरवचन- स्तुतिवाक्य, स्तुतिवचन, प्रशंसोक्ति, विनयोक्ति।
  • आभासी- प्रतीपमान, आभासमान, भासित, प्रकाशित, बोधगम्य, द्युतिमान।
  • आभूषण- अलंकरण, अलंकार, भूषण, आभरण, जेवर, गहना।
  • आदी होना- आसक्त होना, लिप्त होना, अभ्यस्त होना, लत डालना, लत लगाना।
  • आदेश- आज्ञा, हुक्म, फरमान, अध्यादेश, निर्देश, अनुदेश, हिदायत।
  • आरक्षण- प्रारक्षण, रक्षण, पूर्वरक्षण, संरक्षण।
  • आराम- बाग, उपवन, वाटिका, बगीचा, फुलवारी, सुख, चैन, स्वास्थ्य, चंगापन, विश्राम, शांति, राहत, करार, सुकून, सुविधा, ऐशोआराम।
  • आधार- नींव, जड़, मूल, बुनियाद, मानदंड, मापदंड, कसौटी, आधारशिला, आधार स्तंभ, मूल तत्व, मूल कारण, सहारा, आश्रय, अवलंब।
  • आर्थिक- वित्तीय, राजस्व सम्बन्धी, अर्थ विषयक, वित्त विषयक।
  • आलम- जगत, दुनिया, संसार, दशा, हालत, अवस्था।
  • आनंद- उल्लास, आह्लाद, हर्ष, मोद, प्रमोद, लुफ़्त, मजा, सुख।
  • आनंददायक- परिहासपूर्ण, हास्यात्मक, प्रमोदपूर्ण, विनोदात्मक, रसिक, आनंदी, आनंदकर, दिलचस्प, रसदायक।
  • आलसी आदमी- तंद्रालु व्यक्ति, निरुद्योगी व्यक्ति, आलसी, अकर्मण्य व्यक्ति, काहिल आदमी, निखट्टू आदमी।
  • आलोचना- समीक्षा, टीका-टिप्पणी, गुण-दोष, निरूपण, छिद्रान्वेषण, नुक्ताचीनी।
  • आलिंगन- प्रेमालिंगन, परिरंभन, अंकमाल, अँकवार।
  • आपत्ति- दुःख, क्लेश, विपत्ति, आफत, आपात, आपदा, विपदा, संकट, मुसीबत, वज्रपात, विघ्न, दोषारोपण।
  • आवश्यक- अपेक्षित, जरूरी, प्रयोजनीय, अनिवार्य, अपरिहार्य, लाजिमी, अवश्यकरण, महत्त्वपूर्ण, अनुपेक्ष्य, सारभूत, अनुपेक्षणीय।
  • आवश्यकता- जरूरत, अपेक्षा, गरज, अनिवार्यता, अपरिहार्यता, महत्ता।
  • आमंत्रित करना- आह्वान करना, बुलाना, सभा बुलाना, संयोजन करना, संयोजित करना।
  • आयुधागार- शस्त्रागार, शस्त्रशाला, आयुधोद्योगशाला, शस्त्रकर्मशाला, हथियार घर।
  • आवेग- जोश, वेग, स्फूर्ति, उत्तेजना, मनोवेग, संवेग, सनक, उद्वेग।
  • आशय- अभिप्राय, तात्पर्य, मतलब, निर्मित, उद्देश्य, नीयत।
  • आरोग्य- स्वास्थ्य, पुष्ट, दृढ़, तंदुरुस्त, सेहतमंद, सेहत।
  • आरोपित करना- थोपना, मत्थे मढ़ना, इलजाम लगाना, लांछन लगाना।
  • आशान्वित- आशापूर्ण, आशामय, आशावान।
  • आश्चर्य- अचरज, अचंभा, वैकल्य, विस्मय, कुतूहल, कौतूक, हैरानी, कमाल, गजब।
  • आश्चर्यचकित- विस्मित, भौचक्का, हक्का-बक्का, चकराया हुआ।
  • आलसी- सुस्त, स्फूर्तिहीन, निकम्मा, मंद, टीला, शिथिल, श्लथ, काहिल, अनुद्योगशील, कामचोर, दीर्घसूत्री, चेष्टाहीन, अकर्मण्य, काहिल, निखट्टू, अहदी, ठलुआ, निरुद्योगी।
  • आश्रित- अधीनस्थ, शरणागत, अधीन, निर्भर, मातहत।
  • आश्वासन- विश्वास, भरोसा, यकीन, निश्चय।
  • आलोचना- समीक्षा, टीका-टिप्पणी, गुण-दोष, निरूपण, छिद्रान्वेषण, नुक्ताचीनी।
  • आवर्तमान- घूर्णी, भ्रामी, चक्रिल, चक्रावर्ती, परिभ्रामी, घूर्णमान, घूम-घूमकर चलने वाला, रोटरी।
  • आसपास- प्रत्येक दिशा में, हर तरफ, चारों ओर, इधर-उधर, पड़ोस, नजदीक, निकट।
  • आह भरना- उच्छ्वास लेना, दीर्घ निश्वास छोड़ना, ठंडी सांस लेना।
  • आवाज- ध्वनि, शब्द, स्वर, वाणी, नाद, निनाद, सुर, तान, रव, सदा, पुकार।
  • आवारागर्दी- आवारापंथी, गुंडई, चरित्र-हीनता, शोहदापन।
  • आशा- आस, उम्मीद, तवक्को, प्रतीक्षा, इंतजार।
  • आश्रम- आसरा, भरोसा, अवलंब, पनाह, प्रश्रय, सहारा, शरण।
  • आसन- चौकी, सिंहासन, तख्त, आसंदी, आसनी, सीट।
  • आहार- खाद्य-पदार्थ, भोज्यपदार्थ, भोजन, भक्ष्य-पदार्थ।
  • इंद्र का वज्र- कुलिश, वज्र, पवि, अशनि, भिदुर, भेदी शतकोटि।
  • इंद्र का हाथी- अभ्रमातंग, गजेन्द्र, ऐरावत।
  • इन्द्र- सुरेश, अमरपति, वज्रधर, वज्री, शचीश, वासव, वृषा, सुरेन्द्र, देवेन्द्र, सुरपति, शक्र, पुरंदर, देवराज, महेन्द्र, मधवा, शचीपति, मेघवाहन, पुरुहूत, यासव शक्र,  देवेश, शतक्रतु, सुत्रामा, वासव, सुरेश, वृहत्रा, अमरपति, पर्वतारि, वीडौजा, कौशिक, शतमन्यु।
  • इंद्र का पुत्र- जयंत, उपेन्द्र, ऐंद्रि।
  • इन्द्राणि- इन्द्रवधू, मधवानी, शची, शतावरी, पोलोमी।
  • इच्छा- अभिलाषा, अभिप्राय, चाह, कामना, ईप्सा, स्पृहा, ईहा, वांछा, लिप्सा, लालसा, मनोरथ, आकांक्षा, अभीष्ट।
  • इंद्रधनुष- इन्द्रायुध, शक्रधनु, ऋजुरोहित।
  • इंद्रपुरी- अमरावती, देवपुरी, इंद्रलोक, देवलोक।
  • इंसान- मनुष्य, आदमी, मानव, मानुष।
  • इंसाफ- न्याय, फैसला, अद्ल।
  • इत्यादि- आदि, प्रभृति, वगरैह।
  • इनकार- अस्वीकृति, निषेध, अनंगीकरण, नकार, खंडन, प्रत्याख्यान, निवर्तन, प्रत्याख्या, अनंगीकार, अस्वीकार।
  • इच्छुक- अभिलाषी, आतुर, चाहने वाला, आकांक्षी।
  • इठलाना- चोंचले करना, नखरे करना, इतराना, ऐंठना, हाव-भाव दिखाना, शान दिखाना, शेखी, मदांध मारना, तड़क-भड़क दिखाना, अकड़ना, मटकाना, चमकाना।
  • इंदु- चाँद, चंद्रमा, चंदा, शशि, राकेश, मयंक, महताब।
  • इनाम- पुरस्कार, पारितोषिक, पारितोषित करना, बख्शीश।
  • इजाजत- स्वीकृति, मंजूरी, अनुमति।
  • इज्जत- मान, प्रतिष्ठा, आदर, आबरू।
  • इकरार करना- संविदा करना, पट्टा लिखना, अनुबंध लिखना, ठेका करना, इकरारनामा लिखना, सट्टा लिखना, करार करना।
  • इकट्ठा करना- सम्मिलित करना, समवेत करना, संयुक्त करना, मिलाना, जोड़ना, एक जुट करना, कोषबद्ध करना, संचित करना, जमा करना, बचाना, संकलित करना, संग्रहीत करना, एकत्र करना, ढेर लगाना।
  • इठलाना– चोंचले करना, नखरे करना, इतराना, ऐंठना, हाव-भाव दिखाना, शान दिखाना, शेखी, मदांध मारना, तड़क-भड़क दिखाना, अकड़ना, मटकाना, चमकाना।
  • इतिहास- इतिवृत, प्रचीनकथा, पुरावृत्त, पूर्ववृत्तांत, पुराण, पूर्वकथा, अतीत कथा, पूर्ववृत।
  • इर्द-गिर्द- मंडलाकार मार्ग में, चक्करदार रास्ते पर, घेरे में, चतुर्दिक, चारों दिशाओं में।
  • इशारा- संकेत, इंगित, लक्ष्य, निर्देश।
  • इमली- अम्लिका, चिंचा।
  • इरादा- निश्चय, संकल्प, विचार, अभिप्राय, प्रयोजन, आशय, उद्देश्य, हेतु, मंशा, नियत।
  • इलजाम- आरोप, लांछन, दोषारोपण, अभियोग।
  • इशारे करना- संकेत करना, इंगित करना, मौन संभाषण करना, आँखों से भाव प्रकट करना।
  • ईमानदारी- सच्चा, सत्यपरायण, नेकनीयत, यथार्थता, सत्यता, निश्छलता, दयानतदारी, सत्यनिष्ठ।
  • ईर्ष्या- विद्वेष, जलन, कुढ़न, ढाह।
  • ईर्ष्यालु- ईर्ष्यायुक्त, स्पृहाशील, स्पृहालु, डाहीद्वेषी, विद्वेषी।
  • ईश्वर- परमपिता, परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता।
  • ईख- गन्ना, ऊख, इक्षु।
  • ईप्सा- इच्छा, ख्वाहिश, कामना, अभिलाषा।
  • ईसा- यीशु, ईसामसीह, मसीहा।
  • ईमानदार- सच्चा, नेकनीयत, दयानतदार, शुद्धमति, निश्छल, निष्कपट, सत्यनिष्ठ, सत्यपरायण, सदाशय, ऋजु।
  • ईहा- मनोकामना, अभिलाषा, इच्छा, आकांक्षा, कामना।
  • उग्र- प्रचण्ड, उत्कट, तेज, महादेव, तीव्र, विकट।
  • उचित- ठीक, मुनासिब, वाज़िब, समुचित, युक्तिसंगत, न्यायसंगत, तर्कसंगत, योग्य।
  • उत्पत्ति-  उद्भव, जन्म, जनन, आविर्भाव ।
  • उपदेश–  दीक्षा, नसीहत, सीख, शिक्षा, निर्देशन।
  • उचित– ठीक, मुनासिब, वाज़िब, समुचित, युक्तिसंगत, न्यायसंगत, तर्कसंगत, योग्य।
  • उपवन– बाग़, बगीचा, उद्यान, वाटिका, पुष्पोद्यान, फुलवारी, पुष्पवाटिका, गुलिस्तान, चमन, गुलशन।
  • उपहास– परिहास, मजाक, खिल्ली।
  • उदाहरण– मिसाल, नजीर, दृष्टान्त, कथा-प्रसंग, नमूना, दृष्टांत।
  • उषाकाल –अरुणोदय, प्रातः, प्रभात।
  • उक्ति- कथन, वचन, सूक्ति।
  • उत्कष- समृद्धि, उन्नति, प्रगति, प्रशंसा, बढ़ती, उठान।
  • उत्कृष्ट- उत्तम, उन्नत, श्रेष्ठ, अच्छा, बढ़िया, उम्दा।
  • उत्कोच- घूस, रिश्वत।
  • उच्छृंखल- उद्दंड, अक्खड़, आवारा, अंडबंड, निरकुंश, मनमर्जी, स्वेच्छाचारी।
  • उजला- उज्ज्वल, श्वेत, सफ़ेद, धवल।
  • उजाड- जंगल, बियावान, वन।
  • उत्थान- उत्कर्ष, प्रगति, उत्क्रमण, आरोह, आरोहण, ऊर्ध्वगमन, उद्गमन, उपरिगमन, चढ़ाव, उठाव, उभार, उन्नयन।
  • उदार- फ़राख़दिल, क्षीरनिधि, दरियादिल, सरल, सीधा, विनीत, शिष्ट, उदारचित्त, उदारचेता, सहृदय, विशाल, हृदय, सज्जन, महामना, सदाशय, महाशय, दाता, उदारशील, दानशील, दानी।
  • उद्धार- मुक्ति, छुटकारा, निस्तार, त्राण, परित्राण, विमुक्ति, बचाव, मोक्षण, रिहाई।
  • उपाय- युक्ति, साधन, तरकीब, तदबीर, यत्न, चेष्टा, कोशिश, तरीका, उपचार, विधि, जुगत, ढंग, पद्धति, प्रयत्न।
  • उद्यान- बगीचा, बाग, वाटिका, उपवन।
  • उपhaर- भेंट, नजराना, भलाई, नेकी, उद्धार, अच्छाई, परोपकार, कल्याण, अहसान, आभार, तोहफा।
  • उदाहरण- मिसाल, नजीर, दृष्टान्त, कथा-प्रसंग, नमूना, दृष्टांत।
  • उद्दंड- ढीठ, अशिष्ट, बेअदब, गुस्ताख़।
  • उर- हृदय, दिल, वक्षस्थल।
  • उल्लू – उल्लू, चुगद, खूसट, कौशिक, लक्ष्मी, वाहन, मूर्ख, बेवकूफ, घुग्घू।
  • उषा- सुबह, भोर, भिनसार, अलस्सुबह, ब्रह्ममुहूर्त।
  • उमा- गौरी, गौरा, गिरिजा, पार्वती, शिवा, शैलजा, अपर्णा।
  • उम्मीद- आशा, आस, भरोसा।
  • उगना- उत्पन्न होना, निकलना, फूटना, उपजना, पैदा होना, अँकुराना, बढ़ना, अँकुरित होना।
  • उचटना- उखड़ना, टूटना , बिचलना, बिखरना, खिन्न होना, उचाट होना, बिचलित होना, उदास होना।
  • उड़ान- उड्डयन, उत्पतन।
  • उतार- अवरोहण, अवरोहन, अधोगमन।
  • उकताना- चिढ़ना, खीझना, ऊबना, घबराना, उकता जान, बाज आना, आजिज आना, चिढ़ाना,, खिजाना, घबरा देना, तंग करना, परेशान करना, खोपड़ी खाना।
  • उतावलापन- अधीरता, व्यग्रता, व्याकुलता, अधैर्य, उत्सुकता, अशांति, आतुरता, जल्दबाजी।
  • उत्कंठा- लालसा, चाव, उत्सुकता, औत्सुक्य, चाह, आकुलेच्छा, प्रबलेच्छा।
  • उत्कंठित- उन्मन, अभिलषित, इच्छित, अभीच्छित, वांछित, प्रेच्छित।
  • उतारना- नीचे लाना, नीचे रखना, पार पहुंचाना, पार लगाना।
  • उतावला- जल्दबाज, हड़बड़िया, व्यग्र, व्याकुल, आतुर, अधीर, अशांत, असहिष्णु, अतिउत्सुक।
  • उत्तर- प्रत्युत्तर, जवाब्र, पिछला, बाद का, पीछे, उदीची, वामवर्ती।
  • उत्तेजित- उत्साहित, प्रोत्साहित, प्रेरित, जोश में, उद्दीपित।
  • उत्तम- श्रेष्ठ, उत्कृष्ट, प्रकृष्ट, विशिष्ट, ललित, रुचिर, चारू, कांत, पवित्र, शोभायुक्त, शोभित, मनोरम, मंजु, सुदेश, श्रेष्ठ, सुहावन, सुन्दर, रुचिकर।
  • उथल-पुथल- क्रांति, विप्लव, परिवर्तन, इन्कलाब, हेर-फेर, रद्दोबदल।
  • उदारता- सहृदयता, दयालुता, दानशीलता, दरियादिली, फराखदिली, विशालहृदयता।
  • उदास- अन्यमनस्क, विमनस्क, म्लान, अनमना, खिन्न, उचाट, निरुत्साहित, विरक्त, गमगीन, उद्विग्न, म्लान, खिन्न, चिंताकुल।
  • उत्पात- उपद्रव, बखेड़ा, हुल्लड़, दंगा- फ़साद, हंगामा, टंटा, ऊधम, अशुभ, अमंगल, विघ्न।
  • उत्सव- समारोह, जश्न, त्योहार, पर्व, मंगलकार्य, जलसा, आनंद।
  • उद्गम- मूल, उद्भव, निकास, आरंभ, उत्पत्ति, स्रोत, जन्म।
  • उद्घाटन- विगोपन, अनावृत्ति, समारंभ, श्रीगणेश, अभिमुखीकरण।
  • उद्धारक- तारक, उद्धारकर्त्ता, मोक्षदाता, मुक्तिदाता।
  • उदासी- विषाद, म्लानता, खिन्नता, उद्वेग, अवसाद, ग्लानि, नैराश्य।
  • उदासीनता- अनमना, उदास, विमुख, विरक्ति, विराग, तटस्थ, निष्पक्ष।
  • उद्योगी- श्रमजीवी, सक्रिय, कार्यवाहक, कार्यकारी, कर्मकारी, कार्यशील, पुरुषार्थी।
  • उधार- ऋण, कर्ज।
  • उन्नतशील- आरोही, उदीयमान।
  • उद्यम- उद्योग, यत्न, प्रयत्न, प्रयास, कोशिश, मेहनत, श्रम, परिश्रम, पुरुषार्थ, अध्यवसाय, व्यवसाय, व्यापार, उद्योग धंधा।
  • उद्यमी- कर्मठ, क्रियाशील, यत्नशील, उद्योगशील, उद्योगी, परिश्रमी, मेहनती, अध्यवसायी, कर्मठ।
  • उपचारिका- परिचारिका, चारिका, सेविका।
  • उपज- शस्य, कृषिफल, पैदावार, फसल, संग्रहीत शस्य, नवोन्मेष, सूझ।
  • उपजाऊ- उर्वर, उर्वरा, जरखेज, फ़लप्रद।
  • उन्माद- पागलपन, विक्षिप्त, सनक, जुनून, दीवानापन, खब्त।
  • उपकरण- वैज्ञानिक, यंत्रादि, यंत्र, उपस्कर, सामान, औजार।
  • उपचार- चिकित्सा, इलाज, उपाय।
  • उपयोगी- उपादेय, कारगर, कार्यसाधक, फायदेमंद, सुविधाजनक, लाभप्रद, लाभदायक, फ़लप्रद, हितकर।
  • उपवास- लंघन, निराहार, व्रत, फाका।
  • उपस्थित- विद्यमान, प्रस्तुत, मौजूद, हाजिर, वर्तमान समुपस्थित।
  • उपदेश- शिक्षा, सीख, नसीहत, दीक्षा, गुरुमंत्र।
  • उपमा- समानता, तुलना, साम्य, सादृश्य।
  • उपयुक्त- अनुकूल, माकूल, मुनासिब, युक्तिसंगत, योग्य।
  • उपयोगिता- लाभकारिता, लाभप्रदता, लाभदायकता, अर्थकरता, हितकरता, उपयुक्तता, उपादेयता।
  • उपेक्षा करना- ध्यान न देना, सुनी अनसुनी कर देना, दृष्टि फेर लेना, अनादर करना, अपमान करना, उदासीनता दिखाना, उपहास करना, अवहेलना करना।
  • उमर- उम्र, वय, अवस्था, आयु, जीवनकाल, वयस।
  • उपहार- भेंट, तोहफा, सौगात, पुरस्कार, नजराना, नजर।
  • उपासना- सेवा, परिचर्या, आराधना, चिंतन, पूजन, ध्यान, अर्जन, अर्चना, भक्ति।
  • उलटा- विपरीत, प्रतिकूल, विरुद्ध, खिलाफ, औंधा।
  • उल्लंघन- विरोध, अवमानना, उपेक्षा, तिरस्कार, अतिक्रमण।
  • उम्मीदवार- प्रत्याशी, आकांक्षी, आशा करने वाला, प्रार्थी, अभ्यर्थी, परीक्षार्थी, अभिलाषी।
  • उलझन- दुविधा, अनिश्चय, असमंजस, पेंच, गाँठ, फँसाव, भँवरजाल, जंजाल, चक्कर।
  • उल्लास- हर्ष, आनंद, आहलाद, परमानंद, अत्यानंद, प्रमोद, रंगरेली, ख़ुशी।
  • उस्तादी- दक्षता, कुशलता, निपुणता, प्रवीणता, होशियारी।
  • ऊँचाई- बुलंदी, उठान, उच्चता, तुंगता, बुलन्दी।
  • ऊखल- ओखली, उलूखल, कूँडी।
  • ऊँचा- तुंग, उच्च, बुलंद, उर्ध्व, उत्ताल, उन्नत, ऊपर, शीर्षस्थ, उच्च कोटि का, बढ़िया, अच्छा, चोटी का, गगनस्पर्शी।
  • ऊँघ- तंद्रा, अर्द्ध-निद्रा, झपकी, ऊँघाई।
  • ऊधम- उत्पात, उपद्रव, दंगा, फ़साद, हुल्लड़, हंगामा, होहल्ला, धमाचौकड़ी।
  • ऊसर- अनुपजाऊ, बंजर, अनुर्वर, वंध्या, भूमि।
  • ऊधम- उपद्रव, उत्पात, धूम, हुल्लड़, हुड़दंग, धमाचौकड़ी।
  • उषाकाल- प्रातः काल, सवेरा, तड़का, उदयकाल, सुबह, अमृतबेला, सूर्योदय।
  • ऊल-जलूल- अव्यवस्थित, बेढंगा, बेतुका, बेमेल, अक्रमिक, अविचारित, अस्तव्यस्त।
  • ऊष्मा- तपन, गर्मी, ताप, जलन।
  • ऋषि- साधु, महात्मा, मुनि, मनीषी, योगी, मन्त्र द्रष्टा, सूक्तद्रष्टा, तपस्वी।
  • ऋक्ष- भालू, रीछ, भीलूक, भल्लाट, भल्लूक।
  • ऋक्षेश- चंद्रमा, चंदा, चाँद, शशि, राकेश, कलाधर, निशानाथ।
  • ऋणी- कर्जदार, देनदार।
  • ऋतु- रुत, मौसम, मासिक धर्म, रज:स्राव।
  • ऋण- कर्ज, कर्जा, उधार, उधारी।
  • ऋषभ- वृष, वृषभ, बैल, पुंगव, बलीवर्द, गोनाथ।
  • ऋष्यकेतु- कामदेव, मकरकेतु, मकरध्वज, मदन, मनोज, मन्मथ।
  • एकदंत- गणेश, गजानन, विनायक, लंबोदर, विघ्नेश, वक्रतुंड।
  • एषणा- इच्छा, आकांक्षा, कामना, अभिलाषा, हसरत।
  • एकतंत्र- राजतंत्र, एकछत्र, तानाशाही, अधिनायकतंत्र।
  • एकता- मेल, मेलजोल, मेलमिलाप, संगठन, बराबरी, सामंजस्य, समन्वय, एकरूपता, एकसूत्रता, एकत्व, संश्रय, सद्भाव, सुमति।
  • एकरूप- समरूप, तुल्यरूप, अभिन्न, अनुरूप, समानता, सादृश्य, अभेद।
  • एहसान- कृपा, अनुग्रह, उपकार।
  • एक करना- एकीकरण करना, सम्मिलित करना, संघटित करना, संगठन बनाना।
  • एकांत- निर्जन, सूना, शांत, शून्य, सुनसान, अकेला, एकाकी, तनहा, वीरान, विथावान।
  • एकांतवास- निर्जनवास, गुप्तावास, विजनवास।
  • ऐहिक- सांसारिक, लौकिक, दुनियावी।
  • ऐक्य- एकत्व, एका, एकता, मेल।
  • ऐंठ- कड़, दंभ, हेकड़ी, ठसक।
  • ऐयाशी- काम, कामचरिता, विलासता, भोग, विषयासक्ति, इंद्रियलोलुपता।
  • ऐश- सुख, चैन, आराम, ऐयाशी, विलास, भोग-विलास, व्याभिचार।
  • ऐयार- धूर्त, मक्कार, चालाक।
  • ऐच्छिक- स्वैच्छिक, वैकल्पिक, इच्छानुसारी।
  • ऐश्वर्य- धन-सम्पत्ति, विभूति, सम्पन्नता, ऋद्धि-सिद्धि।
  • ऐंठन- ऐंठ, मरोड़, बल, तनाव, अकड़, गर्व, घमंड, कुटिलभाव।
  • ऐंठना- उमेठना, मरोड़ना, इतराना, अकड़ना, शेखी बघारना।
  • ऐंद्रिक- ऐंद्रिय, इन्द्रियगत, इंद्रिय विषयक, इंद्रियजनित, इंद्रियजन्य।
  • ऐयाश- कामी, कामुक, भोगी, लम्पट, विलासी, विषयी, भोगनिरत, विषयासक्त, कामाचारी, व्यभिचारी।
  • ओला- हिमगुलिका, उपल, तुहिन, जलमूर्तिका, हिमोपल।
  • ओस- नीहार, तुषार, तुहिन, निशाजल, शीत, शबनम, कण।
  • ओझल- अदृश्य, अंतर्धान, तिरोहित, लुप्त, छिपा हुआ, गायब, विलुप्त।
  • ओझाई- अभिचार, पिशाचविद्या, श्मशानतंत्र, इंद्रजाल, मन्त्र, जादू, टोना।
  • ओट- आड़, परदा, छिपाव, दुराव।
  • ओज- तेज, शक्ति, बल, चमक, कांति, दीप्ति, वीर्य।
  • ओखली- उलूखल, ऊखल।
  • ओंठ- ओष्ठ, अधर, लब, रदनच्छद, होठ।
  • ओजस्वी- बलवान, बलशाली, बलिष्ठ, पराक्रमी, जोरावर, ताकतवर, शक्तिशाली, शक्तिमान, जोरदार, सशक्त, तेजस्वी।
  • ओहार- आवरण, परदा, आच्छादन।
  • ओछा- अधम, नीच, तुच्छ, कमीना, क्षुद्र, छिछला, उथला, घटिया, हलका।
  • ओढ़ना- पहनना, धारण करना, लपेटना, ढकना।
  • ओर- दिशा, तरफ, पक्ष, किनारा, छोर, सिरा, अन्त।
  • औरत- स्त्री, जोरू, घरनी, महिला, मानवी, तिरिया, घरवाली।
  • औचित्य- उपयुक्तता, तर्कसंगति, तर्कसंगतता।
  • औचक- अचानक, यकायक, सहसा।
  • औषधालय- चिकित्सालय, दवाखाना, अस्पताल, शफाखाना।
  • औलाद- संतान, संतति, आसऔलाद, बाल-बच्चे।
  • औजार- उपकरण, यंत्र, हथियार।
  • और- दूसरा, भिन्न, अन्य, पराया, अधिक ज्यादा, एवं तथा व, के साथ, के अतिरिक्त, के साथ-साथ।
  • क्षमारहित – अक्षम, अशक्त, असमर्थ, क्षमाशून्य।
  • क्षमाशील –  क्षम, क्षमी, क्षमावान, क्षमित, क्षमिता, तितिक्षु, प्रभूष्णु, शक्त, शान्तियुक्त, सह, सहन, सहिष्णु।
  • क्षत्राणी – क्षत्राणी, क्षत्रिय पत्नी, क्षत्रिया, क्षत्रियाणी, क्षत्रियी, क्षत्री पत्नी, महारानी, राजपत्नी, रानी, वीरपत्नी, वीरमाता, वीरस्नुषा, वीरा ।
  • क्षण – अदिष्ट, अवसर, उत्सव, काल, घड़ी, छन, छिन, मौका, दण्ड, निमेष, प्रसंग, पल, बेला, मुहूर्त, वक्त, विरियाँ, समय, समय भाग ।
  • क्षत – आघात, काटना, क्षति, घायल, घाव, जख्म, नाश, पीड़ित, मारना, फोड़ा, व्रण ।
  • क्षत्रिय – क्षत्र, क्षत्री, द्विजलिंगी, नाभि, नृप, पार्थिव, बाहुज, मूर्द्धक, मूद्र्धाभिषिक्त, राजन्य, राजा, वर्म, विराज, विराट, वीर, सार्वभौम।
  • क्षितिज – अंबरांत, अंबरारंभ, आकाश, आकाश रेख, आकाश षीर्ष, उत्कर्ष, उफुक, उर्ध्वबिन्दु, केंचुआ, खमध्य, खस्वस्तिक, चक्षुपथ, चरमबिन्दु, चोटी, ध्वनिगाही आकाश, नभशीर्ष, निकट आकाश, पराकाष्ठा, पराकोटि, पृथ्वीय आकाश, मंगल ग्रह, दिगंत, दिशान्त, दिशामण्डल, नरकासुर, पेड़, वातावरण, वियत, वृक्ष, शफ़क, शब्दवाही आकाश, शिरोबिन्दु, शीर्षाकाश, सुबिन्दु।
  • क्षति – क्षय, घाटा, नाश, हानि, नुकसान।
  • क्षण – भंगुर अनित्य, अस्थिर, क्षणिका, नश्वर, नाशवान।
  • क्षीण – अल्प, कमजोर, कृष, क्षाम, थोड़ा, दुबला-पतला, बलहीन, बारीक, सूक्ष्म ।
  • क्षमता – ताकत, पहुँच, बल, शक्ति, सामर्थ्य,योग्यता।
  • क्षय– अतिरोग, ऊष्मा, गदाग्रणी, छई, तपेदिक, दिक, नृपामय, यक्ष्मा, राज्यक्षमा, रोगराज, शोष।
  • क्षर – अज्ञान, जल, जीवात्मा, नाशवान्, मेघ, शरीर।
  • क्षिति – आवास, क्षय, गोरोचन, जगह, पृथ्वी, प्रलय-काल ।
  • कमल- नलिन, अम्भोज, वनज, कंज, सरसिज,शतदल,जलज, पंकज, अम्बुज, सरोज, शतदल, नीरज, इन्दीवर, सरसिज, अरविन्द, नलिन, उत्पल, सारंग, शतपत्र, राजीव, पद्म, अब्ज, पुण्डरीक,सरसीरुह, वारिज, कुशेशय।
  • कपड़ा- मयुख, वस्त्र, चीर, वसन, पट, अंशु, कर, अम्बर, परिधान। अंबर, पट, पोशाक, लिबास, दुकूल, परिधान,चीर, वसन, वस्त्र।
  • कुबेर- कित्ररेश, यक्षराज, धनद, धनाधिप, राजराज।
  • किरण- गभस्ति, रश्मि, अंशु, अर्चि, गो, कर, मयूख, मरीचि, ज्योति, प्रभा।
  • कामदेव- मदन, मनोज, अनंग, मनसिज, काम, रतिपति, पुष्पधन्वा, मन्मथ।
  • कबूतर- कपोत, रक्तलोचन, पारावत, कलरव, हारिल।
  • कण्ठ- ग्रीवा, गर्दन, गला, शिरोधरा।
  • किस्मत- होनी, विधि, नियति, भाग्य।
  • कच- बाल, केश, कुन्तल, चिकुर, अलक, रोम, शिरोरूह।
  • किनारा- तीर, कूल, कगार, तट।
  • किसान- कृषक, भूमिपुत्र, हलधर, खेतिहर, अन्नदाता।
  • कृपा- प्रसाद, करुणा, अनुकम्पा, दया, अनुग्रह।
  • किताब- पोथी, ग्रन्थ, पुस्तक।
  • कान- कर्ण, श्रुति, श्रुतिपटल, श्रवण, श्रोत, श्रुतिपुट।
  • कोयल- कोकिला, पिक, बसंतदूत, सारिका, कुहुकिनी, वनप्रिया।
  • कृष्ण– राधापति, घनश्याम, वासुदेव, माधव, मोहन, केशव, गोपीनाथ, मुरलीधर, द्वारिकाधीश, यदुनन्दन, कंसारि, रणछोड़, बंशीधर, गिरधारी।
  • कुत्ता- श्वा, श्रवान, कुक्कुर। शुनक, सरमेव।
  • कल्पद्रुम- देवद्रुम, कल्पवृक्ष, पारिजात, मन्दार, हरिचन्दन।
  • क्रोध- रोष, कोप, अमर्ष, गुस्सा, आक्रोश, कोह, प्रतिघात।
  • कार्तिकेय- कुमार, षडानन, शरभव, स्कन्द।
  • कंटक- काँटा, खार, सूल।
  • कंदरा- गुफा, खोह, विवर, गुहा।
  • काक- कौआ, वायस, काग, करठ, पिशुन।
  • कंगाल- निर्धन, गरीब, रंक, धनहीन।
  • कंचन- स्वर्ण, सोना, कनक, कुंदन, हिरण्य।
  • कर्ज- उधार, ऋण, कर्जा, उधारी, कुसीद।
  • कल्याण- भलाई, परहित, उपकार, भला।
  • कटक- फौज, सेना, पलटन, लश्कर, चतुरंगिणी।
  • कद्र- मान, सम्मान, इज्जत, प्रतिष्ठा।
  • कमला- लक्ष्मी, महालक्ष्मी, श्री, हरप्रिया।
  • कामधेनु- सुरभि, सुरसुरभि, सुरधेनु।
  • कामदेव- मदन, काम, कंदर्प, मनोज, स्मर, मीनकेतु, मनसिज, मार, रतिपति, मन्मथ, अनंग, शंबरारि,कसुमेष, पुष्पधन्वा।
  • कायर- कापुरुष, डरपोक, बुजदिल।
  • कष्ट- तकलीफ, पीड़ा, वेदना, दुःख।
  • काग- कौआ, कागा, काक, वायस।
  • किरीट- ताज, मुकुट, शिरोभूषण।
  • कीर- तोता, सुग्गा, सुआ, शुक।
  • कालकूट- जहर, विष, गरल, हलाहल।
  • काला- श्याम, कृष्ण, कलूटा, साँवला, स्याह।
  • किरण- किरन, अंशु, रश्मि, मयूख।
  • केला-    कदली, भानुफल, गजवसा, कुंजरासरा, मोचा, रम्भा।
  • केवट- मल्लाह, माँझी, खेवैया, नाविक।
  • केसरी- शेर, सिंह, नाहर, वनराज, मृगराज, मृगेंद्र।
  • कुंभ- घड़ा, गागर, घट, कलश।
  • कुबेर –   धनद, यक्षराज, धनाधिप, यक्षपति, किन्नरेश, राजराज, धनेश।
  • कृश- दुबला, क्षीणकाय, कमजोर, दुर्बल, कृशकाय।
  • कृषि– किसानी, खेतीबाड़ी, काश्तकारी।
  • कुद्ध- नाराज, कुपित, क्रोधित, क्रोधी।
  • क्रूर- बेरहम, बेदर्द, बेदर्दी, बर्बर।
  • कोविद- विद्वान, पंडित, विशारद।
  • कीर्ति- यश, ख्याति, प्रतिष्ठा, शोहरत, प्रसिद्धि।
  • खद्योत- जुगनू, सोनकिरवा, भगजोगिनी।
  • खर- गधा, गर्दभ, खोता, रासभ, वैशाखनंदन।
  • खाना- भोज्य सामग्री, खाद्यय वस्तु, आहार, भोजन।
  • खग- पक्षी, द्विज, अण्डज, शकुनि, पखेरू।
  • खंभा- स्तूप, स्तम्भ, खंभ।
  • खंड- अंश, भाग, हिस्सा, टुकड़ा।
  • खटमल- मत्कुण, खटकीट, खटकीड़ा।
  • खादिम- नौकर, चाकर, भृत्य, अनुचर।
  • खाविंद- पति, मियाँ, भर्तार, बालम, साजन, सैयाँ।
  • खरगोश- शशक, शशा, खरहा।
  • खलक- दुनिया, जगत, जग, विश्व, जहान।
  • खंडन करना- खंड-खंड करना, विभाजित करना, अमान्य करना, गलत ठहराना, असत्य सिद्ध करना, रद्द करना, झूठा साबित करना, अप्रमाणित करना।
  • खखारना- कफोत्सारण करना, बलगम निकालना, खाँसना।
  • खजाना- कोष, निधान, निधि, कोषाकार, संग्रह, भंडार, गोदाम, अजायबघर।
  • खुदगर्ज- स्वार्थी, मतलबी, स्वार्थपरायण।
  • खुदा- राम, रहीम, रहमान, अल्लाह, परवरदिगार।
  • खून- रक्त, लहू, शोणित, रुधिर।
  • खतरनाक- संकटजनक, भयावह, जोखिम का, डरावना, खौफनाक, भयानक, आशंकाप्रद।
  • खतरा- भय, डर, खौफ, आशंका, खटका, अंदेशा।
  • खटका- आशंका, चिंता, फिक्र, अनिश्चय, अविश्वास, द्विविधा, संदिग्धावस्था, संदेहावस्था, खतरा, डर, भय।
  • खट्टा- अम्ल, तुर्श, चुक्क।
  • खत- पत्र, चिट्ठी, पाती, रेखा, लकीर।
  • खबर- समाचार, हालचाल, वृतांत, संदेश, सूचना, जानकारी, संदेशा, पता, खोज, सुधि, चेत, चेतना, संज्ञा, होश।
  • खबरदार- सतर्क, सावधान, सजग, जागरूक, होशियार, चौकन्ना, सचेत।
  • खतरे में डालना- आपत्ति में छोड़ना, संकट में डालना, विपत्ति में डालना, जोखिम में डालना, आपदग्रस्त करना, विपदा में डालना, विपन्न करना।
  • खरा- अच्छा, बढ़िया, निर्दोष, शुद्ध, निष्कपट, ईमानदार, बेलाग, सच्चा।
  • खराबी- दोष, अवगुण, बुराई, अधम, खोटा, गंदा, घटिया, बेकार, सड़ियल।
  • खरोंच- कटाव, निशान, दरार, भंग।
  • खबर देना- सूचना देना, अवगत कराना, सूचित करना, जानकारी देना, इत्तला करना, समाचार कहना, हाल बताना, आगाह करना।
  • खरगोश- शश, शशक, खरहा।
  • खलबली- हलचल, शोर, व्याकुलता, आकुलता, व्यग्रता, कुलबुलाहट, उद्विग्नता, अशांति, घबराहट।
  • खाद्य- भक्ष्य, आहार्य, खुराक, भोजन, भोज्य साम्रगी, आहार।
  • खामोश- चुप, मौन, शांत, मूक, अनुच्चरित, निरुत्तर, स्वरहीन, निस्तब्ध।
  • खर्च- व्यय, खपत, इस्तेमाल, उपयोग।
  • खल- नीच, दुष्ट, धोखेबाज, छली, कपटी, दुर्जन, विश्वासघात, चुगलखोर, निर्लज्ज, कमीना।
  • खालीपन- शून्यता, शून्यगर्भता, निर्जनता, रिक्क्ता, निस्तब्धता, खोखलापन।
  • खास- विशेष, मुख्य, प्रधान, निजी, आत्मीय, प्रिया, शुद्ध-विशुद्ध, खालिस।
  • ख़ामोशी- मौन, चुप्पी, मूकता, निशब्दता, नीरवता।
  • खाल- चाम, चमड़ा, त्वचा, चर्म, चमड़ी, खल्ल, चमरू, चर्मिका।
  • खाली- रिक्त, रीता, खोखला,केवल, कोरा, सादा, सिर्फ।
  • खीझना- झुँझलाना, ठुनकना, झल्लाना, चिढ़ना।
  • खुश- सानंद, हर्षोत्फुल्ल, हर्षजनक, हर्षित, आनंदित, आनंद।
  • खिन्न- व्यथित, चिंतित, विकल, व्यग्र, व्याकुल, आकुल, दुःखी, उदास, निरानंद, विषण्ण, म्लान, अन्यमनस्क, अप्रसन्न।
  • खीझ- चिढ, कुढ़न, झुँझलाहट, झल्लाहट, रोष।
  • खूँटी- मेख, टंगनी, कील।
  • खूनी- रक्तपिपासु, हत्यारा, कातिल, हिंसक।
  • खुशबूदार- सुवासित, सुगंधित, सुरभित, सुगंधपूर्ण।
  • खुशामद करना- चाटुकारिता करना- चापलूसी करना, मक्खन लगाना।
  • खूँखार- क्रूर, निर्दय, निर्मम, जालिम, भयानक, भयंकर, जानलेवा, प्राणघातक।
  • खेद- ग्लानि, दुःख, रंज, शोक, मनोव्यथा, संताप, अफ़सोस, मलाल, रंज।
  • खोज- तलाश, अनुसंधान, अविष्कार, अन्वेषण, शोध, अन्वीक्षण, छानबीन, तफतीश, तहकीकात।
  • खूबसूरती- लावण्य, मनोहरता, सुन्दरता, रमणीयता, कांति, शोभा, श्री, मनोज्ञता।
  • खेती- कृषि, कृषिकर्म, किसानी, काश्त, कृषिकार्य, खेतीबाड़ी।
  • खोजने वाला- अनुसंधानकर्त्ता, अन्वेषणकर्त्ता, तलाश करने वाला।
  • खोटा- अशुद्ध, मिलावटी, दूषित, विकृत, बनावटी, अनुचित, खराब, बुरा।
  • खोजना- मालूम करना, जाँच-पड़ताल करना, गवेषणा करना, छानबीन करना, अनुसंधान करना, अन्वेषण करना, तलाश करना, तहकीकात करना।
  • ख्याल- ध्यान, विचार भाव, सम्मति, आदर, लिहाज, सम्मान, मनोवृति, ध्यान।
  • गणेश- विनायक, गजानन, गौरीनंदन, मूषकवाहन, गजवदन, विघ्रनाशक, भवानीनन्दन, विघ्रराज, गणपति,  लम्बोदर ।
  • गंगा- देवनदी, भागीरथी, सुरसरिता, जाह्नवी, मन्दाकिनी विष्णुपदी, सुरसरि, देवपगा, त्रिपथगा, सुरधुनी।
  • गन्ना-   ईक्षु, ऊख, ईख, पौंड़ा।
  • गुरु- शिक्षक, आचार्य, उपाध्याय।
  • गणेश- विनायक, गणपति, लंबोदर, गजानन्।
  • गेंद –  कन्दुक, गिरिक, गेन्दुक।
  • गधा –खर, वैशाखनन्दन, गर्दभ, रासभ, लम्बकर्ण,धूसर।
  • गीदड़ –नचक, शिवां, सियार, जंबुक, श्रृंगाल।
  • गन्ना- ईख, इक्षु, उक्षु, ऊख।
  • गाफिल- बेखबर, बेपरवाह, असावधान।
  • गिरि- पहाड़, मेरु, शैल, महीधर, धराधर, भूधर।
  • गुलामी- दासता, परतंत्रता, परवशता।
  • गेहूँ- कनक, गोधूम, गंदुम।
  • ग्राह- मगरमच्छ, घड़ियाल, मगर, झषराज।
  • गदहा- खर, गर्दभ, धूसर, रासभ, बेशर, चक्रीवान, वैशाखनन्दन।
  • गंभीर- अथाह, गहरा, अतल, घना, गहन, सघन, भारी, विकट, घोर, भावसंयमी, भावगोप्ता, संयत, धीर, शांत, सरल, अप्रदर्शनशील, गूढ़, जटिल, कठिन, दुर्गम, दुर्भेद्य, दुरुह।
  • गति- चाल, वेग, रफ़्तार, गमन, हरकत, स्पंदन, दशा, अवस्था, हाल, हालत, स्थिति, माया, लीला।
  • गतिशील- चल, अस्थिर, चलनशील, चलंत, चलता-फिरता, गतिमान।
  • गर्भ- भ्रूण, गर्भपिण्ड, अर्भ, अर्भक।
  • गर्म- उष्ण, उत्तप्त, तप्त, ज्वलंत।
  • गहन– अभेद्य, दुर्गम, घना, निविड़, सघन, गंभीर, गहरा।
  • गाड़ी- शकट, सवारी, वाहक, यान, वाहन, बैलगाड़ी।
  • गाली– अपशब्द, दुर्वचन, अशिष्ट-उक्ति, अश्लील कथन, गाली-गलौज, अपभाषा, कुत्सित भाषा, बदजबानी।
  • गिरवी रखना- बंधक रखना, रेहन रखना।
  • गिरावट- अपकर्ष, अधःपात, पतन, अधः पतन, अपकर्षण।
  • गीला- आर्द्र, अशुष्क, सिक्त, तर, नम, भीगा।
  • गुड़िया- पुत्रिका, पुत्तलिका, पांचालिका, पुतली।
  • गुण- विशेषता, खूबी, योग्यता, निपुणता, प्रवीणता, काबिलियत।
  • गुप्त- छिपा हुआ, अप्रत्यक्ष, परोक्ष, अप्रकट, गोपित, गूढ़, प्रच्छन्न, अंतर्निहित, गूढ़, कठिन, जटिल।
  • गुलछर्रे उड़ाना– आमोद-प्रमोद करना, ख़ुशी मनाना।
  • गुलाम- दास, सेवक, नौकर, अनुचर, परतंत्र, पराधीन, परवश।
  • गोबरगणेश- मूर्ख, अनाड़ी, बेवकूफ, जड़।
  • गोरा- गौर, धवल, श्वेतपूर्ण, हिमवर्ण।
  • ग्वालिन- अहिरिन, गोपी, गोपवधू।
  • घर- आलय, आवास, गेह, गृह, निकेतन, निलय, निवास, भवन, वास, वास-स्थान, शाला, सदन।
  • घड़ा- घट, कलश, कुंभ, घटक, कुट।
  •  घी-  हव्य, अमृतसार, क्षीरसार, आज्य।
  • घास-  शष्प, शाद, शाद्वल, तृण, दूर्वा, दूब।
  • घृणा-  अरुचि, नफरत, जुगुप्सा, अनिच्छा, विरति, घिन।
  • घना- घन, सघन, घनीभूत, घनघोर, गझिन, घनिष्ठ, गहरा, अविरल।
  • घपला– गड़बड़ी, गोलमाल, घोटाला।
  • घुमक्कड़- भ्रमणशील, पर्यटक, यायावर।
  • घटक- कलश, घड़ा, कुम्भ, संघटक, कारक, तत्व, अवयव, अंग, उपांश, भाग, उपादान।
  • घटना- वाकया, माजरा, मामला।
  • घरेलू– हिला-मिला हुआ, सधा हुआ, पला हुआ, पालतू।
  • घाट- भरणतट, घट्ट, नदीतट अवस्थानतट।
  • घाटा- हानि, टोटा, नुकसान।
  • घुटना- ठेघुँना, घुटिक, साँस रुकना।
  • घुमाना- चक्कर देना, फेरा देना, नचाना, गोलाई में चलाना, सैर कराना, टहलाना, भ्रमण कराना, रमाना, विचरण कराना।
  • घृणाजनक- घृणात्मक, घनौना वितृष्णाजनक, कुत्सित, विरक्तिकर, वमनोत्पादक, अप्रीतिकर अप्रिय।
  • घृणापूर्ण- अवज्ञासूचक, तिरस्कारी, घृणित, तिरस्कारपूर्ण, अवमानी, अवहेलनात्मक।
  • घोषणा- उद्घोषण, ऐलान, सूचना, विज्ञप्ति, अधिसूचना, डुग्गी।
  • चतुर- विज्ञ, निपुण, नागर, पटु, कुशल, दक्ष, प्रवीण, योग्य।
  • चंडी- दुर्गा, अंबा, काली, कालिका, जगदंबिका, भगवती।
  • चंदन- गंधराज, गंधसार, मलयज।
  • चतुरानन– विधाता, ब्रह्मा, सृष्टा, सृष्टिकर्ता।
  • चना- चणक, रहिला, छोला।
  • चारु- कमनीय, मनोहर, आकर्षक, खूबसूरत।
  • चावल- तंदुल, धान, भात।
  • चूहा- मूसा, मूषक, मुसटा, उंदुर।
  • चेहरा- शक्ल, आनन, मुख, मुखड़ा।
  • चोरी– स्तेय, चौर्य, मोष, प्रमोष।
  • चौकन्ना- सचेत, सजग, सावधान, जागरूक, चौकस।
  • चकराना- चक्कर खाना, सिर घूमना, घूमना, फिरना, घूमता-सा दिखाई देना।
  • चढ़ाव- आरोहण, आरोहन, प्ररोहण, आरोह।
  • चमक- प्रकाश, ज्योति, रोशनी, दमक, प्रभा, झलक, झलमल, चमक-दमक, रौनक, जगमगाहट।
  • चरित्र- चाल-चलन, चलन स्वभाव, व्यवहार, आचरण, करनी, शील, सदाचार, आचार।
  • चरित्रहीन- चरित्रभ्रष्ट, दुश्चरित्र, अनैतिक, दुराचारी, कामुक, व्यभिचारी, व्यसनी, बदचलन, अधम, अवारा।
  • चहल- आनंदोत्सव, धूमधाम, चहल-पहल, रौनक।
  • चांडाल- अंत्यज, श्वपच, शुद्र, अस्पृश्य, अछूत, श्वपाक, नीच, पतित।
  • चाँदनी- चंद्रिका, कौमुदी, हिमकर, अमृतद्रव, उजियारी,ज्योत्स्न्ना, चन्द्रमरीचि, कलानिधि
  • चंदन- श्रीखण्ड, गंधराज, गंधसार,मंगल्य, हरिगंध, मलय, दिव्यगंध, मलयज, दारूसार।
  • चाँद –  चन्द्र, चन्द्रमा, शशि, सोम, विधु, राकेश, शशांक, मयंक, रजनीश, महाताब, तारकेश्वर।
  • चाल- गति, वेग, रफ़्तार, आचरण, चाल-ढाल, बनावट, रीति, रस्म, प्रथा, ढंग, प्रकार, चालाकी, चतुराई।
  • चिन्ता– ध्यान, फिक्र, सोच, ऊहापोह, परवाह, विचार, उद्विग्नता, अधीरता, रंज, दुःख, शोक व्यथा।
  • चिकित्सालय- अस्पताल, दवाखाना, शफाखाना, औषधालय।
  • चिन्ह- लक्षण, निशान, छाप, पहचान, संकेत, प्रतीक, सूचक, द्योतक।
  • चीख- क्रंदन, आक्रंदन, कर्कशनाद, चीत्कार, चिल्लाहट, कूक।
  • चीज- पदार्थ, वस्तु, द्रव्य।
  • चीनी- शर्करा, शक़्कर, खांड।
  • चुगली- परिवाद, प्रवाद, कुत्सा, निंदा, द्वेषपूर्ण, चुगलखोरी।
  • चेतना- चेत, होश, ज्ञान, मनोज्ञान, संज्ञा, सुधबुध, बोध, विचारना, समझना, सावधान होना।
  • चौक- आँगन, सेहन, चबूतरा, चौहट्टा।
  • चौकसी- निगरानी, निगहबानी, सावधानी, होशियारी सजगता, सर्तकता।
  • छिछोरापन- ओछापन, क्षुद्रता, तुच्छता, लघुता, नीचता।
  • छिद्र- छेद, रंध्र, सूराख, बिल, गड्ढ़ा, कोटर।
  • छतरी- छत्र, छाता, छत्ता।
  • छीछालेदर- दुर्गति, दुर्दशा, फजीहत, किरकिरी।
  • छुट्टी- अवकाश, फुर्सत, रुखसत, विश्राम, विराम, कार्यनिवृत।
  • छूट- मुक्ति, छुटकारा, निस्तार, सुविधा, सहूलियत, ढील, कटौती।
  • छानबीन- जाँच, पूछताछ, खोज, अन्वेषण, शोध, गवेषण।
  • छैला- सजीला, बाँका, शौकीन।
  • छँटनी- कटौती, छँटाई, काट-छाँट।
  • छाती- सीना, वक्ष, वक्षस्थल, उर, उरोज, कुच, पयोधर, वक्षस्थल।
  • छींटाकशी- ताना, व्यंग्य, फब्ती, कटाक्ष।
  • छोर- सीमा, पराकोटि, अत्यंत, अंत, नोक, कोर, किनारा, सिरा।
  • छाया- छाँह, छाँव, परछाई, प्रतिबिम्ब, प्रतिकृति, साया, प्रतिच्छाया।
  • छिछला- अल्पबुद्धि, अल्पमति, तुच्छ, ओछा, उथला, कम गहरा, हल्का।
  • छिन्न-भिन्न- टूटा-फूटा, तितर-बितर, बिखरा, छितराया हुआ, अस्त-व्यस्त।
  • छोह- ममता, स्नेह, प्रेम, दया, कृपा, अनुग्रह।
  • जल- मेघपुष्प, अमृत, सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, उदक, पानी, जीवन, पय, पेय।
  • जहर- गरल, कालकूट, माहुर, विष  हलाहल, गर
  • जगत- विश्व, दुनिया, जगती, संसार, भव, जग, जहान्, लोक।
  • जानकी- सीता, वैदही, जनकसुता, मिथिलेशकुमारी, जनकतनया, जनकात्मजा।
  • जंग- लड़ाई, संग्राम, समर, युद्ध।
  • जईफी- वृद्धावस्था, बुढ़ापा, बुजुर्गी।
  • जन्नत- स्वर्ग, सुरधाम, बैकुंठ, सुरलोक, हरिधाम।
  • जन्मांध- सूरदास, अंधा, आँधरा, नेत्रहीन।
  • जबह- वध, हत्या, कत्ल, खून।
  • जमीन– धरती, भू, भूमि, पृथ्वी, धरा, वसुंधरा।
  • जय- जीत, फतह, विजय।
  • जवानी- युवावस्था, यौवन, तारुण्य, तरुणाई।
  • जहीन- बुद्धिमानी, अक्लमंद, मेधावी, मेधावान, तीक्ष्ण बुद्धि।
  • जाँघ- उरु, जानु, जघन, जंघा, रान।
  • जिंदगी- जिंदगानी, जीवन, हयात।
  • जिल्लत- अपमान, तिरस्कार, अनादर, तौहीन, बेइज्जती।
  • जिह्वा- जीभ, रसज्ञा, रसा, जबान, रसिका, रसना, वाचा
  • जुलाहा- बुनकर, कोली, कोरी।
  • जोहड़- तालाब, तलैया, तड़ाग, सरोवर, जलाशय।
  • ज्ञानी- विद्वान, सुविज्ञ, आलिम, विवेकी, ज्ञानवान।
  • जगाना- सक्रिय बनाना, चेष्टायुक्त करना, प्रबुद्ध करना, चेतन बनाना, जागरूक करना, जागृत करना, उठाना।
  • जटिल- पेचीला, पेंचदार, उलझा हुआ, कठिन, विकट, मुश्किल, विषम।
  • जनसेवक- अधिसेवक, पदाधिकार, लोकसेवक, लोकाचारी।
  • जन्म- उत्पत्ति, उद्भव, प्रसूति, जीवन, आरम्भ, शुरुआत, श्रीगणेश।
  • जन्मजात- जन्मज, जन्मगत, सहज, वंशगत, स्वाभाविक, प्राकृत, प्राकृतिक, अकृत्रिम, असली, वास्तविक।
  • जहरीला- जहर मिला, जहर भरा, विषैला, विष भरा, विषयुक्त, प्राणहारी।
  • जागरूक- प्रबुद्ध, सावधान, सचेत, खबरदार, चेतन, होशियार, चौकन्ना।
  • जादू- इंद्रजाल, माया, कौतुक, चमत्कार, वशीकरण, सम्मोहन।
  • जानकार– परिचित, विज्ञ, निपुण, कुशल, प्रवीण।
  • जानलेवा- प्राणान्तक, घातक, प्राणघातक, मारक।
  • जालसाजी- षड्यंत्र, कपट, जाल, धोखाधड़ी, ठगी।
  • जालिम- पाशविक, क्रूर, निर्दय, हिंसक, बर्बर, निष्ठुर, बेदर्द, बेरहम।
  • जिम्मा- दायित्व, उत्तरदायी, जवाबदेही, जिम्मेवारी, उत्तरदायी।
  • जिम्मेदार- उत्तरदायी, उत्तरदेय, उत्तरदाता, जिम्मेवार, जवाबदेह।
  • जी- मन, दिल, चित्त, हिम्मत, जीवट, साहस।
  • जुलाब- रेचक, दस्तावर।
  • जूता- पदत्राण, उपानह, पादुका, पनही, चर्मपादुका।
  • जैसे- उसी तरह से, जिस तरह से, ज्यों ही, जिस प्रकार।
  • जोंक- रक्तपा, जलूका, जलाका, जलोका, जलौका।
  • जोकर- वैहासिक, विदूषक, ठिठोलिया, भाँड, मसखरा, हँसोड़।
  • जोखिम उठाना– आग से खेलना, आग में कूदना, अंगारों पर पैर रखना, तलवार की धार पर चलना, ओखली में सिर देना, साहसपूर्ण कार्य करना, संकट का सामना करना, खतरा मोल लेना।
  • जोर- बल, शक्ति, ताकत, ऊर्जा, वश, अधिकार, परिश्रम, मेहनत।
  • ज्येष्ठ- जेठा, बड़ा, अग्रज।
  • ज्योतिषी- दैवज्ञ, गणक, भविष्यवक्ता, खगोलज्ञ।
  • ज्वाला- लपट, लौ, अग्निशिखा, ज्योति, शिखा, गर्मी, ताप, जलन।
  • झरना- उत्स, स्रोत, प्रपात, निर्झर, प्रस्त्रवण।
  • झण्डा- ध्वजा, पताका, केतु।
  • झंझा- अंधड़, आँधी, बवंडर, झंझावत, तूफान।
  • झाँसा- दगा, धोखा, फरेब, ठगी।
  • झींगुर- घुरघुरा, झिल्ली, जंजीरा, झिल्लिका।
  • झटकना- छीनना, मार लेना, लूट लेना, हथिया लेना, ऐंठना।
  • झटपट- वेगपूर्ण, तीव्रता से, तुरंत, जल्दी से, तेजी से।
  • झड़प- झंझट, झगड़ा, तू-तू-मैं-मैं, बखेड़ा, हाथापायी, तकरार।
  • झिझक- दुविधा, अनिर्णय, असमंजस, संकोच, हिचकिचाहट, आगा-पीछा।
  • झींसी- फुहार, जलकण।
  • झुंड- समूह, गिरोह, समुदाय, जत्था, गण, भीड़, दल, जमघट, टुकड़ी।
  • झूठा- मिथ्या, अप्रकृत, अवास्तव, नकली, बनावट, कल्पित, कूट, दिखावटी, असत्यवादी, मिथ्यावादी।
  • झूमना- काँपना, हिलना, डोलना, लहराना, झोंका, खाना, झूलना।
  • झोंकना– फेंकना, ढकेलना, गिराना, डालना, घुसेड़ना।
  • झोंपड़ी- पर्णकुटी, पर्णशाला, कुटी, कुटिया, कुटीर, झुग्गी।
  • टकराना- टक्कर खाना, भिड़ना, चोट खाना, लड़ जाना, ठोकर खाना।
  • टका- सिक्का, रुपया, धन, द्रव्य।
  • टाँकना- लगाना, नत्थी करना, जोड़ना, सिलाई करना, अटकाना, जोड़ना।
  • टाँका- सिलाई, सीवन, चिप्पी, जोड़।
  • टालमटोल- हीला-हवाला, आनाकानी, बहाना।
  • टिकट- प्रवेशपत्र, प्रमाणपत्र, अधिकार पत्र।
  • टिका हुआ- अवलंबित, सहारा लिए हुए।
  • टिमटिमाना- झिलमिलाना, चमचमाना, जगमगाना।
  • टीस- शूल, पीड़ा, वेदना, कसक, चुटकी, ऐंठन, चुभन, कष्ट, दर्द, तकलीफ।
  • टेढ़ा- कुटिल, टेढ़ा-मेढ़ा, घुमावदार, अटपटा, पेंचीदा, जटिल, कठिन, मुश्किल।
  • टोकरी- झाँपी, झपोली, डलिया, चँगेरी, खाँची।
  • टक्कर- मुठभेड़, लड़ाई, मुकाबला।
  • टहलुआ- नौकर, सेवक, खिदमतगार।
  • टाँग- पाँव, पैर, टंक।
  • टंटा- झगड़ा, लफ़ड़ा, पचड़ा, झंझट, उपद्रव, दंगा, फ़साद, तकरार, प्रपंच।
  • टसुआ- अश्क, अश्रु, आँसू।
  • टेर- बुलावा- गुहार, पुकार, आह्वान।
  • ठंडा- शीतल, सर्द, शांत, गम्भीर, सुस्त, मंद, धीमा, उदासीन, भावहीन।
  • ठहरना- रुकना, थमना, टिकना, विराम, स्थित होना, प्रतीक्षा करना, इंतजार करना।
  • ठाट- तड़क-भड़क, शोभा, सजावट, आयोजन, तैयारी, व्यवस्था, प्रबंध, झुंड, दल, समूह।
  • ठिठुरना- शीत लगना, काँपना, थरथराना, सिकुड़ना।
  • ठिठोली- चुहल, फबती, व्यंग्य, मजाक, उपहास, दिल्लगी।
  • ठेका- निविदा, प्रस्ताव, टेण्डर, संविद, जिम्मा, इजारा, पट्टा।
  • ठेलना– खिसकाना, बढ़ाना, ढकेलना, धकियाना, सरकाना।
  • ठंड- ठंड, शीत, सर्दी।
  • ठग- छली, छलिया, फ़रेबी, वंचक, धूर्त, धोखेबाज।
  • ठेठ- निपट, निरा, बिल्कुल।
  • ठटरी- कंकाल, पंजर, अस्थिपंजर, ठठरी।
  • ठहाका- कहकहा, अट्टहास, खिलखिलाना।
  • ठाकुरद्वारा- मंदिर, देवालय, शिवाला, देवस्थान।
  • ठुड्डी- ठुड्डी, हनु, चिबुक, ठोड़ी।
  • ठेस- चोट, आघात, धक्का।
  • डकारना- डकार लेना, गरजना, दहाड़ना।
  • डराना- आतंकित करना, भयभीत करना, हतोत्साहित करना, भयातुर करना, थर्रा देना।
  • डरावना- भयावह, भयंकर, भयानक, भयप्रद, विकराल, आतंकपूर्ण, विकट, खौफनाक, खतरनाक।
  • डरा हुआ- आशंकित, आतंकित, भयभीत, भयग्रस्त, त्रस्त।
  • डाँवाडोल- अस्थिर, गतिशील, परिवर्तनशील, विचलित, डगमगाता हुआ।
  • डाका डालना- अपहरण, लूटमार करना, लूटना, डाकाजनी।
  • डील-डौल- रूप, स्वरूप आकृति, आकार, ढाँचा, बनावट, कदकाठी, लम्बाई-चौड़ाई, शरीर रचना, देह, विन्यास, शारीरिक गठन।
  • डोरा- धागा, डोर, तागा, सूत्र, सूत, ताँत, सूता, रस्सी।
  • डोरी- डोर, रस्सी, सुतली, ताँत, जेवरी।
  • डंडा- सोंटा, छड़ी, लाठी।
  • डाली- भेंट, उपहार।
  • डर- आतंक, धाक, रौब, त्रास, खौफ, भय, दहशत, भीति।
  • डाह- द्वेष, ईर्ष्या, जलन, कुढ़न।
  • ढब- ढंग, रीति, तरीका, ढर्रा।
  • ढाँचा- पंजर, ठठरी।
  • ढीला-ढाला- शिथिलता, आलसी, सुस्ती, अतत्परता।
  • ढूँढ- खोज, तलाश।
  • ढिग- समीप, निकट, पास, आसन्न।
  • ढिबरी- दीया, चिराग, डिबिया, लैंप।
  • ढोल- ढोलकी, ढोलक, पटह, प्रणव।
  • ढहाना- उद्ध्वस्त करना, खंडकरण करना, तोड़-फोड़ देना, गिराना, गिरवाना।
  • ढिलाई- ढीलापन, सुस्ती, आलस्य।
  • ढेर- राशि, पिंड, पुंज, बहुत, ज्यादा, अधिक।
  • ढोर- चौपाया, मवेशी।
  • तालाब- सरोवर, जलाशय, सर, पुष्कर, ह्रद, पद्याकर , पोखरा, जलवान, सरसी, तड़ाग।
  • तामरस- कमल, पंकज, सरसिज, नीरज, पुण्डरीक, इन्दीवर।
  • तिमिर- तम, अंधकार, अंधेरा, तमिस्त्रा।
  • तंगदस्त- तंगहाल, गरीब, फटेहाल, निर्धन।
  • तड़ित- विद्युत, बिजली, दामिनी, सौदामिनी, गाज।
  • तथागत- बुद्ध, सिद्धार्थ, बोधिसत्व, गौतम।
  • तपस्वी- तापस, मुनि, संन्यासी, व्रती, योगी, साधू, बैरागी।
  • तपेदिक- टी.बी., दिक, यक्ष्मा, राजयक्ष्मा।
  • तमारि- सूरज, सूर्य, दिवाकर, दिनकर, आदित्य, भानु, भास्कर।
  • तरनी- नौका, नाव, किश्ती, नैया।
  • तहजीब- संस्कृति, सभ्यता, तमद्दुन।
  • तिजारत- व्यवसाय, व्यापार, सौदागरी।
  • तिरिया- स्त्री, औरत, महिला, ललना।
  • तुला- तराजू, काँटा, धर्मकाँटा।
  • त्वचा- चर्म, चमड़ा, चमड़ी, खाल।
  • तीर- शर, बाण, विशिख, शिलीमुख, अनी, सायक।
  • तंद्रा- अर्धनिद्रा, झपकी, आलस्य, थकावट।
  • तकलीफ- कष्ट, दुःख, पीड़ा, क्लेश, दर्द, संकट, विपत्ति, मुसीबत, बीमारी।
  • तनिक- जरा सा, थोड़ा सा, तिल भर, चुटकी भर, रत्ती भर।
  • तनु- दुबला, पतला, अल्प, थोड़ा, कम, देह, शरीर, तन।
  • तरंग- लहर, ऊर्मि, उल्लोल, हिलोर, कंपन, मौज, लहर।
  • तरकारी- शाक, सालन, सब्जी।
  • तसल्ली- दिलासा, ढाढ़स, सांत्वना।
  • ताकना- देखना, घूरना, निहारना।
  • तादाम्य- ऐकात्म्य, ऐक्य, एकात्मता, अभिन्नता, समरूपता, तल्लीनता।
  • तान- खींच, फैलाव, विस्तार, लय, स्वर, सुर।
  • तारा- नक्षत्र, सितारा, तारक, किस्मत, भाग्य, ग्रह।
  • तारीख- तिथि, दिनांक, मिति।
  • तालमेल- सामंजस्य, समध्वनि, स्वरसंगति, स्वरैक्य।
  • तीव्र- तेज, तीक्ष्ण, प्रखर, कटु, कडुवा, तीता।
  • तुंग- ऊँचा, उन्नत, उग्र, तीव्र, प्रधान, मुख्य।
  • तुच्छ- खोखला, सारहीन, निःसार, अल्प, थोड़ा, नीच, घटिया, दो कौड़ी का, दुष्ट।
  • तूफान- आंधी, झंझा, चक्रवात, तीव्रगति।
  • तैयार– उद्यत, तत्पर, प्रस्तुत, कटिबद्ध, मुस्तैद, उपस्थित, सन्नद्ध, उत्सुक, उन्मुख।
  • तोता- शुक, सूआ, कीर, प्रियदर्शन, सुग्गा, मियाँमिट्ठु।
  • त्रुटि- कमी, न्यूनता, अभाव, अशुद्धि, भूल, चूक, अपराध।
  • थप्पड़- तमाचा, झापड़।
  • थोड़ा- स्वल्प, अल्प, किंचित्, परिमित, लघु, कम।
  • थन- कुच, स्तन, वक्षोज, उरोज, पयोधर।
  • थकान- थकावट, श्रांति, थकन, परिश्रांति, क्लांति।
  • थोबड़ा- मुखड़ा, मुँह, थूथन।
  • थंभ- खंभ, खंभा, स्तम्भ।
  • थका माँदा- क्लान्त, श्रान्त, परिश्रान्त, थका हुआ, उकताया हुआ।
  • थाह- अंत, सीमा, हद, पता, परिचय, जानकारी, अंदाज।
  • दूध- दुग्ध, दोहज, पीयूष, क्षीर, पय, गौरस, स्तन्य।
  • दास- नौकर, चाकर, सेवक, परिचारक, अनुचर, भृत्य, किंकर।
  • द्रव्य- धन, वित्त, सम्पदा, विभूति, दौलत, सम्पत्ति।
  • दैत्य- असुर, इंद्रारि, दनुज, दानव, दितिसुत, दैतेय, राक्षस।
  • दरिद्र- निर्धन, ग़रीब, रंक, कंगाल, दीन।
  • दिन- दिवस, याम, दिवा, वार, प्रमान, वासर, अह्न।
  • दुष्ट- पापी, नीच, दुर्जन, अधम, खल, पामर।
  • दाँत- दशन, रदन, रद, द्विज, दन्त, मुखखुर।
  • दया- अनुकंपा, अनुग्रह, करुणा, कृपा, प्रसाद, संवेदना, सहानुभूति, सांत्वना।
  • देव-अमर, देवता, सुर, निर्जर, वृन्दारक, आदित्य।
  • दनुज- असुर, दानव, दैत्य, राक्षस, निशाचर।
  • दरख्त- वृक्ष, तरु, पेड़, विटप, द्रुम।
  • दरियादिल- उदार, दानी, दानशील, फ़राख़दिल।
  • दशरथ- अवधेश, कौशलपति, दशस्यंदन, रावण।
  • दस्तूर- रीति-रिवाज, प्रथा, परंपरा, चलन।
  • दादुर- मेंढक, मंडूक, भेक।
  • दिवंगत- स्वर्गीय, मृत, मरहूम, परलोकवासी।
  • दीदा- नेत्र, नयन, आँख, चक्षु।
  • दुर्जन- दुष्ट, खल, शठ, असाधु, पतित, असज्जन।
  • दुर्भिक्ष- अकाल, दुकाल, दुष्काल, सूखा।
  • दुश्मन- रिपु, वैरी, अरि, शत्रु, बैरी।
  • दुष्कर- कठिन, दुसाध्य, दूभर, मुश्किल।
  • देशाटन- यात्रा, विहार, पर्यटन, देशभ्रमण।
  • देहाती- ग्रामवासी, ग्रामीण, ग्राम्य।
  • द्वैत- जोड़ा, युगल, द्वय, यमल, युग, युति।
  • दंग- विस्मित, चकित, घबराहट, भौचक्का।
  • दंगा– उपद्रव, उत्पात, शोरगुल, लड़ाई, झगड़ा, फ़साद।
  • दफा- बेर, आवृत्ति, बार।
  • दफ्तर- कार्यालय, आफिस।
  • दयाहीन- ह्रदयहीन, बेदर्द, संवदेनाशून्य, अकरुण, बेरहम, निर्दय, कठोर।
  • दरार- रंक, निर्धन, कंगाल, दीन, गरीब, फटीचर, फटेहाल।
  • दर्जा- श्रेणी, पद, पदवी, हद, सीमा, कक्षा, क्लास, वर्ग, श्रेणी।
  • दर्प- घमंड, अहंकार, गर्व, अभिमान, उदंडता, दबदबा, प्रभाव।
  • दल- पत्र, पत्ता, पंखुड़ी, समूह, झुंड, गुट, गिरोह।
  • दलना- पीसना, कुचलना, मसलना, नष्ट करना, ध्वस्त करना, तोड़ना, खंडित करना।
  • दस्ता- डंडा, सोंटा, छड़ी, टुकड़ी, दल, समूह।
  • दस्तावेज- अधिकारपत्र, प्रलेख, प्रपत्र, क़ानूनी, कागज।
  • दाई- धात्री, धाय, उपमाता, आया।
  • दावा- अधिकार, मुकदमा, जोर, गर्व, घमंड।
  • दिखावटी- दर्शनार्थ, दिखाऊ।
  • दिलावर- बहादुर, साहसी, वीर, उत्साही, साहसिक, हिम्मती।
  • दिशा- ओर, तरफ, दिक्, जानिब।
  • दीक्षा- गुरुमंत्र, मंत्रोपदेश, उपनयन, संस्कार।
  • दीर्घ- बड़ा, लंबा, विशाल, बड़ा, ऊँचा, विस्तृत।
  • दीपक- प्रदीप, दीप, दीया, ज्योति, चिराग।
  • दीवाली– दीपावली, दीपमाला, दीपमालिका, दीपोत्सव।
  • दुर्दशा- बुरी, दशा, खराब, हालत, अवस्था, दुर्गति।
  • दुःशील- अविनीत, अभद्र, अशिष्ट, उद्दंड।
  • दूर- परे, पृथक, अलग, भिन्न।
  • दृढ- पुष्ट, मजबूत, कड़ा, शक्तिशाली, स्थायी, अटल, निडर, निर्भय, दृष्टि, विचार, सिद्ध।
  • देवता- अमर, देव, सुर, त्रिदिवेश, विश्वरूप, आकाशचारी।
  • देववाला- देववधू, देवांगना, अप्सरा, मेनका।
  • दैत्य- असुर, राक्षस, रजनीचर, निशाचर, पिशाच।
  • दोगला- संकर, वर्णसंकर, हरामी, अधर्मज।
  • दोष- अवगुण, ऐब, खराबी, विकार, खामी, बुराई, अपराध, कुसूर, जुर्म।
  • द्रोपदी- पांचाली, कृष्णा, याज्ञसेनी, सैरंध्री, द्रुपदसुता।
  • द्वंद्व- दुविधा, कशमकश, उधेड़बुन।
  • धन- दौलत,अर्थ, वित्त, पूँजी, द्रव्य, संपदा, सम्पत्ति, राशि, मुद्रा।
  • धनुष-  चाप, धनु, कार्मुक, कमान, शरासन, कोदंड, विशिखासन।
  • धूप- घाम, धर्म, निदाघ, आतप, रविप्रभा
  • ध्येय– प्रयोजन, अभिप्राय, लक्ष्य, मकसद, उद्देश्य।
  • धुन– लगन, झुकाव, लगाव, तरंग, लहर, मौज।
  • धनंजय– अर्जुन, सव्यसाची, पार्थ, गुड़ाकेश, बृहन्नला।
  • धनु- धनुष, पिनाक, शरासन, कोदंड, कमान, धनुही।
  • धात्री- धाय, उपमाता, आया, दाई।
  • धान- चावल, चाउर, तंदुल, शालि, व्रीहि।
  • धी- अक्ल, दिमाग, बुद्धि, मति, प्रज्ञा, मेधा, विवेक।
  • धेनु- गऊ, गाय, गैया, गौ, गोमाता, सुरभि।
  • ध्येय- प्रयोजन, अभिप्राय, लक्ष्य, मकसद, उद्देश्य।
  • धनुष- चाप्, शरासन, कमान, कोदंड, पिनाक, सारंग, धनु  चाप, धनु, कार्मुक,  शरासन, , विशिखासन।
  • धक्का- टक्कर, ठोकर, आघात, झोंका, संकट, विपत्ति, मुसीबत।
  • धनुर्धर- कमनैत, धन्वी, धनुष्मान, धानुष्क।
  • धन्यवाद– आभार, शुक्रिया, मेहरबानी, वाहवाही, प्रशंसा, बड़ाई, शाबासी, तारीफ।
  • धरोहर- अमानत, जमा, प्रतिभूति, निक्षेप, गिरवी, न्यास।
  • धवल- श्वेत, उजला, सफेद, निर्मल, स्वच्छ, साफ, मनोहर, सुन्दर, आकर्षक।
  • धाम- घर, मकान, गृह, तीर्थ, देवस्थान, पुण्यस्थान।
  • धार- तेज, किनारा, तेज, नोंक, सिरा, किनारा, छोर।
  • धुंध- कोहरा, कुहासा, नीहार।
  • धुन- लगन, झुकाव, लगाव, तरंग, लहर, मौज।
  • धूम- हल्ला, ठाटबाट, समारोह, उत्सव, आयोजन, चहल-पहल।
  • धूमकेतु- पुच्छल तारा, उल्का।
  • धृष्ट- निर्लल्ज, बेहया, ढीठ, उद्दंड, गुस्ताख़।
  • धोखा- छल, भुलावा, भ्रम, संदेह, कपट, धूर्तता, दगाबाजी, मक्कारी, चाल, बेईमानी।
  • धोखेबाज- कपटी, मक्कार, ठग, कुटिल, चालबाज।
  • ध्वज- चिन्ह, निशान, अंक, झंडा, पताका, ध्वजा।
  • ध्वस्त- खंडित, भग्न, टूटा-फूटा, नष्ट- भ्रष्ट, पराजित, हारा हुआ।
  • नर्क- यमलोक, यमपुर, नरक, यमालय।
  • नर- जन, मानव, मनुष्य, पुरुष, मर्त्य, मनुज।
  • निंदा- दोषारोपण, फटकार, बुराई, भर्त्सना।
  • नक्षत्र- उडु, तारिका, नखत, जुन्हाई।
  • नगपति- हिमालय, पर्वतराज, पर्वतेश्वर, नगेश, नगेंद्र, शैलेन्द्र।
  • नजीर- मिसाल, दृष्टांत, उदाहरण।
  • नसैनी- जीना, सीढ़ी, सोपान।
  • नाऊ- हज्जाम, हजाम, क्षौरकार, नाई, नाऊठाकुर।
  • नामर्द- क्लीव, नपुंसक, पुंसत्वहीन।
  • नाहर- शेर, सिंह, मृगराज, मृगेंद्र, केसरी, केहरी।
  • निभृत- एकांत, निर्जन, जनशून्य, विजन, वीरान, सुनसान।
  • निराला- अनूठा, अनोखा, अपूर्व, अद्भुत, अद्वितीय।
  • निवेदन- विनय, अनुनय, विनती, प्रार्थना, गुजारिश, इल्तजा।
  • नीरस- फीका, बेरस, बेजायका, अस्वाद।
  • नूतन- नव, नवल, नव्य, नवीन।
  • नूर- आभा, आलोक, कांति, तेज, प्रकाश।
  • नया- नूतन, नव, नवीन, नव्य।
  • नंगा- नग्न, वस्त्रहीन, दिगम्बर, निर्लल्ज, बेशर्म, दुष्ट, लुच्चा।
  • नंदन- लड़का, पुत्र, बेटा, स्वर्ग, सुरवाटिका, देव, उपवन।
  • नंबर- अंक, संख्या, गणना, गिनती।
  • नजर- दृष्टि, निगाह, कृपादृष्टि, दयादृष्टि, निगरानी, देखरेख, भेंट, उपहार, पहचान।
  • नटी- नर्तकी, अभिनेत्री, मंचनायिका, मंचतारिका।
  • नदी – सरिता, वाहिनी, अपगा, शैवालिनी, शैलजा, सिंधुगामिनी,तरंगिणी, स्रोतस्विनी, तटिनी।
  • नम- गीला, तर, आर्द्र, भींगा हुआ।
  • नमकीन- नमकयुक्त, लावणिक, लवणमय, लवणयुक्त।
  • नवयुवक- नौजवान, तरुण, किशोर, कुमार, वर्धमान, यौवनोन्मुख।
  • नाम- संज्ञा, अभिख्या, अभिधान, शीर्षक, प्रसिद्धि, ख्याति, यश, कीर्ति।
  • नाव- नौका, नौ, जलयान, बेड़ी, डोंगी, नैया, तरिणी,तरी, जल वाहन।
  • नारद- ब्रह्मर्षि, ब्रह्म-पुत्र, देवर्षि, ब्रह्मर्ष।
  • नामी- विख्यात, प्रख्यात, प्रसिद्धि, मशहूर, लब्धप्रतिष्ठ, विश्रुत।
  • नाश- पतन, अवनति, गिरावट, विध्वंस, संहार, क्षय, विनाश, बरबादी, तबाही।
  • निकट- पास का, समीप का, पास-पास, साथ-साथ, आसन्न, नजदीक, सन्निकट।
  • निकम्मा- बेकार, निठल्ला, निखट्टू, गोबरगणेश, मिट्टी का माधो।
  • निखट्टू- निकम्मा, आलसी, अकर्मण्य, निठल्ला।
  • निगोड़ा- अकर्मण्य, बेकार, निठल्ला, अभागा, भाग्यहीन, निराश्रम।
  • निडर- निर्भय, निर्भीक, निःशंक, दिलेर, साहसी, हिम्मती, दिलावर, धृष्ट, ढीठ, उद्दंड।
  • निढाल- थका-माँदा, शिथिल, सुस्त, अशक्त, उत्साहहीन।
  • नित्य- शाश्वत, अमर, अनश्वर, अमर्त्य, अविनाशी, प्रतिदिन, रोज, सदा, नितप्रति, हररोज, हर रोज।
  • निपट- विशुद्ध, खाली, एकमात्र, एकदम, सरासर, बिलकुल, बहुत, अधिक।
  • निपुण- कुशल, चतुर, अनुभवी, योग्य, काबिल, अभिज्ञ, पूर्णतः।
  • निरंतर- अटूट, अनवरत, अविरल, अविराम, आठों पहर।
  • निरपेक्ष- लापरवाह, बेफिक्र, निरालंब, निराश्रित, अलग, तटस्थ, उदासीन।
  • निरर्थक- बेकार, अर्थहीन, अर्थशून्य, निष्फल, व्यर्थ, असंगत, फिजूल।
  • निरोध- रोक, अवरोध, रुकावट।
  • निर्जीव- सारहीन, निष्प्रभाव, मुर्दा, प्राणरहित, प्राणहीन, निष्प्राण।
  • निर्धन- धनहीन, दरिद्र, दीन, रंक, कंगाल, गरीब।
  • निर्बल- कमजोर, निःशक्त, क्षीण, दुर्बल, दुबला-पतला।
  • निर्मल- शुद्ध, पवित्र, निर्दोष, साफ, स्वच्छ, निखरा हुआ।
  • निशाकर- चंद्रमा, शशि, चांद, कुक्कुट, मुर्गा।
  • निशाचर- राक्षस, असुर, दैत्य, दानव, अमानुष।
  • निष्ठा- विश्वास, श्रद्धा, यकीन, प्रवृति, लगाव।
  • निष्पत्ति- इति, समाप्ति, पूर्णता, सिद्धि।
  • निस्तब्धता- ख़ामोशी, सन्नाटा, शांति, नीरवता।
  • नीलम- नीलमणि, असिरत्न, शनिप्रिय, इंद्रनील, नील, महानील।
  • नुकसान- कंटाग्र, तीक्ष्णाग्र, निशित, नोकदार, नोक वाला।
  • नूतन- नया, नवीन, ताजा, अभिनव, आधुनिक।
  • नौबत- हालत, दशा, अवस्था, दुर्दशा, दुर्गति, शहनाई।
  • न्यायाधीश- न्यायकर्त्ता, न्यायमूर्ति, जज, धर्माधिकारी।
  • न्यायालय- अदालत, कचहरी, कोर्ट।
  • पति- भर्ता, वल्लभ, स्वामी, प्राणाधार, प्राणप्रिय, प्राणेश, आर्यपुत्र।
  • पत्नी- भार्या, दारा, बेगम, कलत्र, प्राणप्रिया, वधू, वामा, अर्धांगिनी, सहधर्मिणी, गृहणी, बहु, वनिता, जोरू
  • पुत्र- बेटा, लड़का, आत्मज, सुत, वत्स, तनुज, तनय, नंदन।
  • पुत्री- बेटी, आत्मजा, तनूजा, दुहिता, नन्दिनी, लड़की, सुता, तनया।
  • पृथ्वी- धरा, धरती, भू, इला, उर्वी, धरित्री, धरणी, अवनि, मेदिनी, क्षिति, मही, वसुंधरा, वसुधा, जमीन, भूमि ,अचला, अनंता ,रसा, विश्वंभरा ,स्थिरा ,धरा ,धरित्री, धरनी ,ज्या, काश्यपि, क्षिति, वसुमति, वसुधा, वसुंधरा ,गोधरा, कुः, पृथिवी , विपुला, गह्वरी, धात्री ,गो, ईला, कुम्भिनी, भूतधात्री,रतनगर्भा, जगती, अंबरा।
  • पर्वत –पहाड़, गिरि, अद्रि, महीधर, भूधर, अचल, शैल, धरणीधर, नग।
  • परिवर्तन- बदलाव, हेरफेर, तबदीली, फेरबदल।
  • पथ- मग, मार्ग, राह, पंथ, रास्ता।
  • पंक- कीचड़, कीच, कर्दम, चहला।
  • पंकज- कमल, राजीव, पद्म, सरोज, नलिन, जलज।
  • पंगु- अपाहिज, लंगड़ा, विकलांग, अपंग।
  • पत्ता- पत्र, किसलय, दल, पत्रक, पल्ल्व, पत्ती, कोंपल।
  • परिणय– शादी, विवाह, ब्याह, पाणिग्रहण।
  • परोपकार- परहित, भलाई, नेकी, परकाज, परमार्थ, परार्थ।
  • पहेली- प्रहेलिका, मुअम्मा, मुकरी, कूटप्रश्न, बुझौवल।
  • पाठशाला- स्कूल, विद्यापीठ, विद्यालय, मदरसा।
  • पातक- पाप, गुनाह, अघ, कल्मष।
  • पाहुना- मेहमान, अतिथि, पाहुन, अभ्यागत।
  • पौ- सवेरा, सुबह, भोर, प्रातः।
  • पौरस्त्य- पूरबी, पूर्वी, प्राच्य, मशरिक़ी।
  • प्रतिदिन- रोजाना, हर दिन, हर रोज, रोज, रोज-रोज।
  • पत्थर- पाषाण पाहन, उपल, अश्म, शिला, प्रस्तर।
  • प्राज्ञ- विद्वान, महाज्ञानी, बुद्धिमान, चतुर।
  • प्रासाद- महल, राजमहल, राजनिवास, राजभवन।
  • पंकिल- गंदला, गंदा, मलिन, मैला, कीचयुक्त।
  • पंथी- पथिक, राही, बटोही, समर्थक, धर्मालंबी।
  • पक्ष- डैना, पाख, पखवारा, दल, वर्ग, समुदाय, स्थिति।
  • पगड़ी- पगिया, मुरैठा, साफा, प्रतिष्ठा, मान-मर्यादा, भेंट, उपहार।
  • पटरानी- स्त्री, महारानी, राजमहिषी, राजपत्नी, बड़ी रानी।
  • पटु- कुशल, चतुर, चालक, होशियार, मक्कार, धोखेबाज, निर्दय, निरोग।
  • पड़ौसी- समीपवर्ती, निकटस्थ, निकटवर्ती, पास का, पड़ौस का।
  • पतंग- सूर्य, सूरज, भास्कर, फतिंगा, पतंगा, टिड्डी, गेंद, गुड्डी, शरीर।
  • पतला- महीन, झिनझिना, दुर्बल, निर्बल, कमजोर, शक्तिहीन, तरल, कृशित।
  • पताका- झंडा, ध्वजा, ध्वज, तोरण, झंडी।
  • पत्रा- तिथिपत्र, पंचांग, जंत्री, वर्क, चद्दर, पन्ना, पृष्ठ।
  • पथ्य- उपयुक्त, आहार।
  • पदक- सम्मानजनक, उपाधि, मेडल।
  • परंतु- पर, किन्तु, लेकिन, मगर।
  • परम्परा- रीति, रिवाज, प्रथा, रूढ़ि, परिपाटी।
  • परदा- आड़, ओझल, छिपाव, परत, गुप्तता, तह।
  • परमार्थ- उपकार, भलाई, परोपकार, मोक्ष, निर्वाण।
  • पराया- दूसरा, और, अन्य, गैर, बेगाना।
  • परिचय- ज्ञान, पहचान, मेल, मुलाकात, जानकारी।
  • परिणाम- नतीजा, निष्कर्ष, फल, अंजाम।
  • परिताप- जलन, ताप, गर्मी, दुःख, क्लेश, व्यथा, तकलीफ, दर्द।
  • परितोष- संतोष, तृप्ति, संतुष्टि, प्रसन्नता, ख़ुशी, हर्ष।
  • परिपाटी– क्रम, सिलसिला, श्रेणी, रीति, शैली, ढंग, पद्धति।
  • परिश्रमी- क्रियाशील, उद्योगी, उद्यमी, मेहनती, पुरुषार्थी, उद्योगशील।
  • परिष्कार- शुद्धि, सफाई, संस्कार, स्वच्छ्ता, संस्कार, निर्मलता, परिशोधन, सुधार।
  • परोक्ष- अगोचर, अप्रत्यक्ष, ओझल, तिरोहित, गुप्त।
  • परोपकार- हित, भलाई, उपकार, कल्याण, दान, परकल्याण, परहित।
  • पवन- वायु, हवा, प्राण, अनल, श्वास, साँस।
  • पवित्र- अमल, विमल, शुद्ध, निर्मल, साफ, पावन, पूत, पुण्य, विशुद्ध।
  • पसोपेश- दुविधा, असमंजस, आगा-पीछा, सोच-विचार, ऊहापोह।
  • पस्त- पराजित, हारा हुआ, थका हुआ, दबा हुआ, झुका हुआ।
  • पहनावा- पहरावा, पहिनावा, पोशाक, परिधान, लिबास।
  • पाखंड- ढोंग, आडम्बर, मिथ्याचार, प्रपंच, छल, कपट, धोखा, धूर्तता।
  • पागल- मतिभ्रष्ट, बावला, नासमझ, सनकी, मत्त, मतवाला, बेवकूफ, दीवाना, मूर्ख।
  • पाट- राजगद्दी, सिंहासन, चौड़ाई, फैलाव, विस्तार, तख्ती, पटिया।
  • पाप- अपकर्म, अपकृति, अधर्म, कुधर्म, कुकर्म, गुनाह, अपराध, कसूर, अनिष्ट, खराबी।
  • पामर- दुष्ट, कमीना, पापी, नीच, पातकी, पापिष्ठ, दुरात्मा।
  • पारावर- समुद्र, सागर, जलधि, जलनिधि, सीमा, हद।
  • पार्थक्य- पृथकता, अलगाव, भेद, प्रभेद, भिन्नता, वियोग, जुदाई।
  • पालन- लालन-पालन, पालन-पोषण, भरण-पोषण, परवरिश, अनुगमन, कार्यान्वयन।
  • पाषाण- पत्थर, प्रस्तर, शिला, पाथर, पाहन।
  • पास- तरफ, दिशा, निकटता, निकट, नजदीक, करीब, आस-पास।
  • पिचकना- सिमटना, सिकुड़ना, दबना, धँसना, बिचकना।
  • पिछलग्गा- अनुचर, सेवक, नौकर, अधीन, आश्रित, चेला, टहलुआ।
  • पीयूष- अमृत, सुधा, प्राणरस, दूध, क्षीर, अमिय, आवेहयात।
  • पीला- पीत, केसरिया, सुनहला, हल्दिया, हरिद्राभ, बसंती, शरबती, नारंगी, कपिल, जाफ़रानी।
  • पीवर- मोटा, माँसल, स्थूल, भारी, विशाल, बलिष्ठ, तगड़ा, ताकतवर।
  • पुण्य- पवित्र, पावन, शुभ, मंगलदायक, कल्याणकारी, धर्म, शुभ, कर्म, उत्तम कर्म।
  • पुण्यकृत- पुण्यकर्त्ता, धार्मिक, सुकृति, पुण्यात्मा, पुण्यवान, धर्मात्मा।
  • पुनीत- पवित्र, पाक, पावन, शुद्ध, निर्मल, स्वच्छ, साफ।
  • पुरखा- पूर्वज, पूर्वपरुष, अग्रजन्मा, पिता, पितामह, बड़ा-बूढ़ा, वृद्ध, बुजुर्गवार।
  • पुरुषार्थ- पौरुष, उद्योग, शक्ति, बल, ताकत, साहस, हिम्मत।
  • पुष्कर- तालाब, सरोवर, जलाशय, पोखरा, कमल, पंकज।
  • पूँछ– पुच्छ, दुम, पुच्छल, पश्चभाग, पिछलग्गू, अनुचर, चापलूस, चमचा।
  • पूछताछ- जाँच-पड़ताल, तहकीकात, जिरह।
  • पृथक- पृथक्कृत, विभक्त, भिन्न, अलग, जुदा, अन्य, दूसरा।
  • पृथु- चौड़ा, मोटा, विस्तृत, विशाल, असंख्य, अनगिनत।
  • पृष्ठपोषण- समर्थन, अनुमोदन, हिमायत, सहायता, मदद।
  • पेशकश- उपहार, भेंट, तोहफा, सौगात, नजर।
  • पेशा- धंधा, व्यवसाय, व्यापार, कार्य, काम।
  • पैगाम- संदेश, खबर, समाचार, संदेशा।
  • पैदावार- उपज, उत्पादन, फसल।
  • पैसा- धन, दौलत, संपत्ति, माल, रुपया-पैसा, नकदी, टका, सिक्का।
  • पोखर- तालाब, सरोवर, जलाशय, पोखरा, पुष्कर।
  • प्यारी- प्रिया, प्रणयिनी, श्यामा, माशूका, जानी, दुलारी।
  • प्यास- पिपासा, तृष्णा, तृषा, कामना, लालसा, ललक।
  • प्यासा– पिपासित, पिपासु, लालायित, इच्छुक, तृषित।
  • प्रकार- भेद, किस्म, तरह, भाँति, रीति, ढंग।
  • प्रकृत- वास्तविक, असली, यथार्थ, सत्य, स्वाभाविक,, साधारण, सहज।
  • प्रगति- उन्नति, तरक्की, विकास।
  • प्रगल्भ- उत्साही, साहसी, निर्भय, निडर, धृष्ट, निर्लल्ज, अभिमानी, अहंकारी, घमंडी।
  • प्रचुरता- प्राचुर्य, बहुलता, व्यापकत्व, विपुलता, जखीरा, इफरात।
  • प्रच्छद- आच्छादन, आवरण, ढकना।
  • प्रणय- प्रेम, अनुराग, प्रीति, स्नेह।
  • प्रणयिनी- प्रेमिका, प्रिया, अंगना, भार्या, पत्नी, स्त्री, वामा।
  • प्रणेता- नेता, नायक, रचनाकार, वृत्तिकार।
  • प्रताप- चमक, आभा, तेजी, प्रचंडता, बहादुरी, वीरता, प्रभाव।
  • प्रतिकूल- विपरीत, विरुद्ध, खिलाफ, उल्टा, विलोम।
  • प्रतिज्ञा- प्रण, वचन, वायदा, शपथ, सौगंध, कसम।
  • प्रतिभा- बुद्धि, प्रज्ञा, ज्ञान, समझ, अक्ल, समझबूझ।
  • प्रतिरोध- रोक, अवरोध, रुकावट, बाधा, विघ्न।
  • प्रतिलिपि- प्रतिलेख, कापी, अनुलिपि, नकल, अनुकृति, प्रतिरूप।
  • प्रतिशोध- प्रतिहिंसा, प्रतिफ़ल, प्रतिकार, बदला, प्रतिदण्ड।
  • प्रतीत- ज्ञात, विदित, अवगत।
  • प्रत्यक्ष- साक्षात्, भरोसा, यकीन, स्पष्ट, साफ।
  • प्रदेश- देश, क्षेत्र, भूखंड, शासनक्षेत्र, राज्यक्षेत्र, रियासत, स्थान, जगह।
  • प्रधान- नेता, मुखिया, सरदार, मुख्य, खास, श्रेष्ठ।
  • प्रभा- आभा, प्रकाश, दीप्ति, चमक, सूर्यबिम्ब, सूर्यमंडल।
  • प्रभात- प्रातःकाल, उषाकाल, भोर, सवेरा, सुबह, विहान, निशांत।
  • प्रमत्त- मस्त, मतवाला, पागल, बावला, घमंडी, लापरवाह, असावधान, बेपरवाह।
  • प्रयत्न- उद्योग, चेष्टा, कोशिश, प्रयास, उद्यम, यत्न, दौड़धूप।
  • प्रयोग- इस्तेमाल, सेवन, व्यवहार, उपयोग, जाँच।
  • प्रयोजन- अर्थ, अभिप्राय, उद्देश्य, मतलब।
  • प्रवीण- निपुण, कुशल, होशियार, बुद्धिमान, चालाक, चतुर।
  • प्रवीणता- चतुराई, कुशलता, चालाकी, होशियारी, दक्षता।
  • प्रशंसा- स्तुति, तारीफ, अभिनंदन, गुणगान, बड़ाई, महिमा गान।
  • प्रसक्त- संलग्न, संश्लिष्ट, संबद्ध, अनुरक्त।
  • प्रसून- पुष्प, फूल, सुमन, संतान।
  • प्राचीन- पूर्वकालीन, पुराना, भूतकालीन, आदिम, कदीम।
  • प्राचीर- चहारदीवारी, परकोटा, चारदीवारी।
  • प्राणी- जीवधारी, प्राणधारी, जानवर, जीव, प्राणवान।
  • प्रातःकाल- प्रात, प्रातः, प्रभात, सवेरा, विहान, भोर, अरुणोदय, कल, दिनमुख, सकाल।
  • प्रार्थना- विनती, निवेदन, माँगना, विनय, अर्ज, भक्ति, भजन, कीर्तन, पूजा।
  • प्रीति- प्रेम, प्यार, स्नेह, मुहब्बत, अनुराग, प्रणय, प्रीत।
  • प्रेक्षागार- रंगशाला, नाट्यशाला, नाट्यगृह, अभिनयशाला, प्रेक्षागृह।
  • प्रौढ़- परिपक्व, बालिग, वयस्क, सयाना।
  • फल- फलम, बीजकोश।
  • फसल– शस्य, पैदावार, उपज, खिरमन, कृषि- उत्पाद।
  • फलक- आसमान, आकाश, गगन, नभ, व्योम।
  • फसल- शस्य, पैदावार, उपज, खिरमन, कृषि- उत्पाद।
  • फूट- मतभेद, मनमुटाव, अनबन, परस्पर, कलह।
  • फूल- पुष्प, सुमन, कुसुम, गुल, प्रसून।
  • फंदा- फाँस, जाल, छल, कपट, धोखा।
  • फणधर- साँप, नाग, सर्प, व्याल, विषधर।
  • फणींद्र- शेषनाग, नागराज, सर्पराज, फणिपति, वासुकी।
  • फणी- साँप, सर्प, नाग, फणधर।
  • फरेब- छल, कपट, धोखा, प्रवंचना।
  • फाका- अनशन, उपवास, व्रत, निराहार, अनाहार।
  • फायदा- लाभ, नफा, मुनाफा, उपलब्धि।
  • फौजी- सैनिक, सिपाही, जंगी, लश्करी।
  • फौरन– तुरन्त, तत्काल, जल्दी।
  • बाण- सर, तीर, सायक, विशिख, आशुग, इषु, शिलीमुख, नाराच।
  • ब्राह्मण– द्विज, भूदेव, विप्र, महीदेव, अग्रजन्मा, द्विजाति, भूसुर, महीसुर, वाडव, भूमिसुर, भूमिदेव।
  • बहुत- अनेक, अतीव, अति, बहुल, भूरि, बहु, प्रचुर, अपरिमित, प्रभूत, अपार, अमित, अत्यन्त, असंख्य।
  • बगीचा- बाग़, वाटिका, उपवन, उद्यान, फुलवारी, बगिया।
  • बाल- कच, केश, चिकुर, चूल।
  • बंकिम- बाँका, तिरछा, वक्र, बंक, आड़ा।
  • बंजर- अनुपजाऊ, अनुर्वर, ऊसर।
  • बख़ील- कंजूस, मक्खीचूस, कृपण, खसीस, सूम, मत्सर।
  • बजरंगबली- हनुमान, वायुपुत्र, केसरीनंदन, पवनपुत्र, बज्रांगी, महावीर।
  • बहेलिया- आखेटक, अहेरी, शिकारी, आखेटी।
  • बाँसुरी- वेणु, बंशी, मुरली, बंसुरी।
  • बाजि- घोड़ा, अश्व, घोटक, तुरंग, तुरग, हय।
  • बेगम- महारानी, रानी, राज्ञी, राजमहिषी।
  • बेमिसाल– बेजोड़, लाजवाब, अनोखा, लासानी, अतुलनीय।
  • बैल- वृष, वृषभ, ऋषभ, वलीवर्द।
  • बलदेव- बलराम, बलभद्र, हलायुध, राम, मूसली, रोहिणेय, संकर्षण।
  • बंधुता– भाईचारा, दोस्ती, मैत्री, मित्रता, यारी।
  • बखान- वर्णन, कथनं, व्याख्या, तारीफ, प्रशंसा, बड़ाई।
  • बखूबी- अच्छी तरह से, भली-भाँति, खूबी के साथ, पूरी तरह से, पूर्णरूप से।
  • बखेड़ा- झंझट, झगड़ा, लड़ाई, विवाद, हंगामा, फ़साद।
  • बगावत- विद्रोह, अराजकता, गदर, क्रांति, राजद्रोह।
  • बचाव- रक्षा, प्रतिरक्षण, हिफाजत।
  • बजा- उचित, ठीक, सही, वाजिब।
  • बड़प्पन– महत्त्व, बड़ाई, गुरुता, महत्ता, महानता, गरिमा।
  • बढ़ावा– प्रोत्साहन, उकसाव, प्रेरणा।
  • बदगोई- निंदा, चुगली, शिकायत, बुराई।
  • बदजात- नीच, कमीना, लुच्चा, लफ़ंगा, दुष्ट, बदमाश।
  • बदतमीज- अभद्र, असभ्य, गँवार, उदंड।
  • बदन- शरीर, देह, तन, काया।
  • बदसलूकी- दुर्व्यवहार, कुव्यवहार, अभद्रता, कदाचरण।
  • बदहवास- विकल, व्याकुल, व्यग्र, घबराया हुआ, बौखलाया हुआ।
  • बादल- पयोधर, मेघ, जलधर, बलाहक, अंबुद, वारिद, पयोद, नीरद, घन, जलद, वारिवाह।
  • बंदर – कपि, मर्कट ,वानर, कपीस ,शाखामृग।
  • बाघ- व्याघ्र ,शार्दुल, चित्रक, व्याल।
  • बादल – मेंघ,जलधर, वारिद,नीरद,वारिधर।
  • बालिका- गौरी, कन्या ,बेटी ,कुमारी, किशोरी।
  • ब्रह्मांड –दुनिया ,जगत, विश्व ,संसार ,जगती।
  • ब्रह्मा- स्वयंभू, पितामह, विश्व, सृष्टिकर्ता।
  • बगीचा -बाग, उपवन, वाटिका ,उद्यान, निकुंज।
  • बचपन –बालपन ,लड़कपन ,बाल्यावस्था ,बचपना।
  • बसंत –ऋतुराज, ऋतुपति ,मधुमास ,कुसुमाकर।
  • बदौलत- सहारे से, द्वारा, कृपा से, कारण से, वजह से।
  • बन- वन, जंगल, कानन, अरण्य।
  • बरबस- बलपूर्वक, जबरदस्ती, व्यर्थ, निरर्थक, फजूल।
  • बरबाद- नष्ट, चौपट, सत्यानाश।
  • बरबादी- नाश, विनाश, खराबी, तबाही, ध्वंस, तहस-नहस।
  • बलवान- शक्तिशाली, बलशाली, ताकतवर, पुष्ट, मजबूत, दृढ़।
  • बहादुर- वीर, सूर, सूरमा, साहसी, साहसिक, योद्धा।
  • बहादुरी- वीरता, साहस, निडरता, निर्भीकता, हिम्मत।
  • बहुतायत- अधिकता, आधिक्य, प्रचुरता, बहुलता।
  • बहुधा- प्रायः, अकसर।
  • बहुल- अधिक, बहुत, ज्यादा, प्रचुर, पर्याप्त, प्रभूत।
  • बाजीगर- जादूगर, ऐंद्रजालिक।
  • बाट- राह, रास्ता, मार्ग, पथ।
  • बाट जोहना- प्रतीक्षा करना, इंतजार करना, रास्ता देखना, राह देखना आसरा लगाना।
  • बाधा- विघ्न, अड़चन, संकट, कष्ट, मुसीबत, परेशानी, दुःख।
  • बानगी- उदाहरण, नमूना, मिसाल।
  • बाना- पोशाक, वेश, वेशभूषा, भेष, बुनावट, बुनाई।
  • बार-बार- लगातार, पुनः-पुनः, प्रायः, फिर-फिर।
  • बारीक़- महीन, पतला, सूक्ष्म, झीना।
  • बालू- रेत, बालुका, रेणुका, रेणु, रेती, शिलाकण।
  • बाहुबल- बहादुरी, शारीरिक, बल, जिस्मानी ताकत।
  • बिछोह- वियोग, जुदाई, बिछौड़ा, अलगाव।
  • बिजली- विद्युत, चंचला, दामिनी, सूर्यपुत्री, घनज्वाला, तड़ित, वज्र।
  • बिना- बगैर, अतिरिक्त, सिवा, सिवाय, अलावा।
  • बियाबान- जंगल, वन, सुनसान, वीरान, निर्जन।
  • बिसरना- विस्मृत होना, भूलना, याद न रहना, भुला देना, याद न करना।
  • बुजुर्ग- वृद्ध, बूढ़ा, प्रौढ़, बड़ा।
  • बुढ़ापा- वृद्धावस्था, वृद्धत्व, जश, जीर्णावस्था।
  • बुद्धिमान- अक्लमंद, समझदार, मनस्वी, प्रतिभावान, ज्ञानी, विवेकी, तीक्ष्णबुद्धि, कुशाग्रबुद्धि।
  • बुहारी- झाड़ू, सोहनी, बुहारनी, बटोरनी।
  • बूझना- जानना, समझना, ज्ञान, प्राप्त करना, मालूम करना, हृदयंगम करना।
  • बृहत- बड़ा, विशाल, दीर्घ।
  • बेकस- निराश्रय, आश्रयहीन, अनाथ, दीनहीन, गरीब, लाचार।
  • बेकाबू- अनियंत्रित, निरंकुश, बेलगाम।
  • बेगाना- गैर, दूसरा, पराया, अनजान, अपरिचित, अजनबी।
  • बेचारा- निराश्रित, निःसहाय, अनाथ, दीन, गरीब, कंगाल।
  • बेडौल- कुरूप, भद्दा, बदशक्ल, बदसूरत, आकारहीन।
  • बेतहाशा- अकस्मात, तेजी से, अचानक, घबराकर, बिना सोचे, बिना समझे।
  • बेबस- लाचार, मजबूर, पराधीन, गुलाम, पराश्रित।
  • बेमेल- असमान, बेडौल, अनमेल, विरुद्ध।
  • बेहतर- अच्छा, ठीक, बढ़िया, बढ़कर, श्रेष्ठ।
  • बेहोश- मूर्छित, बेसुध, अचेत, संज्ञाशून्य, जड़ीभूत।
  • बैठक- चौपाल, दालान, अतिथिकक्ष, वार्ताकक्ष।
  • बोध- ज्ञान, जानकारी, समझ, बुद्धि, विवेक।
  • ब्रह्मांड- विश्व, जगत, संसार, दुनिया।
  • भौंरा- अलि, मधुव्रत, शिलीमुख, मधुप, मधुकर, द्विरेप, षट्पद, भृंग, भ्रमर।
  • भंगुर- नाशवान, नश्वर, अनित्य, क्षर, मर्त्य, विनश्वर।
  • भंडारी- रसोइया, खानसामा, महाराज, रसोईदार।
  • भद्र- शिष्ट, शालीन, कुलीन, सभ्य, सलीकेदार, बासलीक़ा।
  • भरतखंड- भारतवर्ष, आर्यावर्त, भारत, हिंदुस्तान, हिंदोस्ताँ।
  • भरोसा- यकीन, विश्वास, ऐतबार, अक़ीदा, आश्वास।
  • भारती- शारदा, सरस्वती, वाग्देवी, वीणावादिनी, विद्या, वागेश्वरी, वागीशा।
  • भाल- मस्तक, पेशानी, माथा, ललाट।
  • भाला- बर्छा, बरछा, नेजा, कुंत, शलाका।
  • भ्रष्ट- पथभ्रष्ट, पतित, बदचलन, दुश्चरित्र, आचरणहीन।
  • भ्रू- भौंह, भौं, भृकुटि, भँव, त्यौरी।
  • भूषण- जेवर, गहना, आभूषण, अलंकार।
  • भंग- ध्वंस, विध्वंस, नाश, विनाश, टुकड़ा, खंड।
  • भट- योद्धा, सैनिक, सिपाही, वीर, लड़ाका, बहादुर।
  • भड़कीला- भड़कदार, चमकीला, अलंकृत, चटकदार, चटकीला।
  • भद्दा- कुरूप, बेडौल, भोंडा, बदसूरत, बदशक्ल, अभद्र, घृणित।
  • भद्रता- शिष्टता, सभ्यता, विनय, नम्रता।
  • भरोसा- आश्रय, सहारा, आशा, विश्वास, संभावना, उम्मीद, तसल्ली।
  • भर्ता- अधिपति, पति, भतार, जीवनसाथी, स्वामी, मालिक, प्रतिपालक, रक्षक, पालक।
  • भर्त्सना- निन्दा, शिकायत, डाँट-डपट, दुत्कार, फटकार, तिरस्कार।
  • भाँड- भाँडा, बर्तन, पात्र।
  • भाट- भाँड, गवैया।
  • भानु- सूर्य, रवि, दिनकर, आदित्य, दिवाकर, दिनमणि।
  • भामा- स्त्री, औरत, महिला, नारी, अबला।
  • भारत- भारतवर्ष, हिन्दुस्तान, हिन्द, हिन्ददेश, हिन्दुस्तान, इंडिया।
  • भारी- भारवान, बोझिल, भारयुक्त, वजनी, वजनदार।
  • भावुक- संवेदनशील, भावप्रवाण।
  • भाषांतर- उल्था, तरजुमा, अनुवाद।
  • भाषा- बोली, जबान, वाणी, उच्चारण, कथन, भाषण।
  • भाषा विज्ञान- शब्द शास्त्र, शब्द विज्ञान, भाषाशास्त्र।
  • भिक्षा- भीख, मधुकरी।
  • भीरू- डरपोक, कायर, भयशील।
  • भीरुता- कायरता, डर, भय, भयशीलता।
  • भुजंग- साँप, सर्प, फनी, फणधर।
  • भुज- भुजा, बाहु, बाँह, हाथ।
  • भुवन- जगत, संसार, दुनिया, विश्व, ब्रह्माण्ड, जगत।
  • भू- पृथ्वी, धरती, भूमि, जमीन, स्थान, जगह।
  • भेंट– मिलन, मुलाकात, नजराना, तोहफा, इनाम, उपहार।
  • भेषज- औषध, दवा, दवाई, औषधि।
  • भोला- सीधा, सरल, उदार, निश्छल, कपटहीन।
  • भ्रम- धोखा, संदेह, शक, भूल, गलतफ़हमी।
  • भ्रामक- भ्रांतिमय, संदेहास्पद, संशयास्पद, भ्रमात्मक।
  • मछली- मीन, मत्स्य, झख, झष, जलजीवन, शफरी, मकर।
  • महादेव- शम्भु, ईश, पशुपति, शिव, महेश्र्वर, शंकर, चन्द्रशेखर, भव, भूतेश, गिरीश, हर, त्रिलोचन।
  • मित्र– सखा, सहचर, स्नेही, स्वजन, सुहृदय, साथी, दोस्त।
  • मोर- केक, कलापी, नीलकंठ, शिखावल, सारंग, ध्वजी, शिखी, मयूर, नर्तकप्रिय।
  • मधु- शहद, रसा, शहद, कुसुमासव।
  • मृग- हिरण, सारंग, कृष्णसार।
  • मृत्यु- देहांत, मौत, अंत, स्वर्गवास, निधन, देहावसान, पंचत्व, इंतकाल, काशीवास, गंगालाभ, निर्वाण, मरण।
  • मग- पन्थ, मार्ग, बाट, पथ, राह।
  • मूढ़- मूर्ख, अज्ञानी, निर्बुद्धि, जड़, गंवार।
  • मंजुल– मोहक, मनोहर, आकर्षक, शोभनीय, सुंदर।
  • मंजूषा- संदूक, बक्स, पिटारी, पिटक, पेटी, झाँपी।
  • मकड़ी- मकरी, लूता, लूतिका, लूत।
  • मकतब- स्कूल, पाठशाला, विद्यालय, विद्यापीठ।
  • मटका- कुंभ, झट, घड़ा, कलश।
  • मत्सर- द्वेष, ईर्ष्या, कुढ़न, जलन, डाह।
  • मरघट- मसान, मुर्दघाट, श्मशान, श्मशानघाट।
  • मरहूम- स्वर्गवासी, मृत, गोलोकवासी, दिवंगत।
  • मर्कट- बंदर, कपि, कीश, वानर, शाखामृग।
  • महाभारत- भारत, जयकाव्य, पंचमवेद, जय, महायुद्ध।
  • महावत- हाथीवान, पीलवान, फीलवान, आकुंशिक।
  • मुकुल- कलिका, कली, शिगूफा, कोरक, गुंजा।
  • मुगालता- भ्रांति, भ्रम, गलतफ़हमी, मतिभ्रम।
  • मुदर्रिस- शिक्षक, अध्यापक, गुरु, आचार्य, उस्ताद।
  • मँगनी- वरेच्छा, बरिच्छा, बरेखी, सगाई।
  • मंगल- कल्याण, भलाई, हित, कुशलत।
  • मंथर- मंद, धीमा, वेगहीन, वेगरहित।
  • मगज- दिमाग, मस्तिष्क, भेजा।
  • मगन- मग्न, प्रसन्न, खुश, आनंदित, प्रशन्नचित्त।
  • मगर- ग्राह, नक, घड़ियाल।
  • मगरा- घमंडी, उद्यंड, अहंकारी, अभिमानी, जिद्दी, मगरूर।
  • मजदूर- श्रमिक, सेवक, कुली, दास।
  • मट्ठा- माठा, छाछ।
  • मत- सम्मति, राय, विचार, धारणा।
  • मधुकर- भ्रमर, भौंरा, मधुप।
  • मध्य- बीच, दरम्यान, माँझ।
  • मध्यम- मध्य का, बीच का, औसतमान का।
  • मनन- चिन्तन, अवधारण, स्मरण, विचार, ध्यान।
  • मनुहार- खुशामद, विनय, विनती, प्रार्थना, अनुरोध, सिफारिश।
  • मनोज्ञ- सुन्दर, मनोहर, मनभावन, चित्ताकर्षक, मनोरम, ह्रदयग्राही।
  • मशाल- अग्निशलाका, प्रदीप्त काष्ठ खंड, दीपदंड।
  • मसखरा- हँसोड़, विदूषक, ठिठोलिया, मजाकिया, जोकर।
  • मस्तिष्क- भेजा, दिमाग, मगज, बुद्धि।
  • महत्त्व- महानता, अहमियत, महिमा, महता, श्रेष्ठता।
  • महाजन- महापुरुष, श्रेष्ठ, पुरुष, श्रेष्ठ व्यक्ति, सेठ, बनिया।
  • महात्मा- महापुरुष, महाशय, उदारत्मा, श्रेष्ठ व्यक्ति।
  • महाल- मुहल्ला, टोला।
  • मही- पृथ्वी, धरा, धरती, वसुंधरा, भू, भूमि।
  • महीन- पतला, बारीक़, सूक्ष्म, झीना।
  • माँझी– केवट, कर्णधार, मल्लाह, नाविक।
  • मातम- मृत्युशोक, शोक।
  • मान- गौरव, प्रतिष्ठा, सम्मान, इज्जत, मर्यादा, यश।
  • मानक- आदर्श, प्रतिमान, कसौटी।
  • मानव- मनुष्य, आदमी, व्यक्ति।
  • मामला- काम, बात, विषय।
  • मामूली- सामान्य, साधारण, महत्त्वहीन, औसत दर्जे का।
  • मार्ग- रास्ता, पथ, सड़क, राह।
  • मार्मिक- मर्मस्पर्शी, ह्रदयस्पर्शी, हृदयविदारक।
  • माहात्म्य- महिमा, महत्त्व, बड़ाई, गरिमा, महानता।
  • माहुर- विष, जहर, हलाहल।
  • मीठा- मिष्ट, मधुर, प्रियस्वादु, रसीला, मिठाई, मिष्ठान्न।
  • मुकुर- शीशा, दर्पण, आदर्श, आइना।
  • मुक्त- बंधनरहित, स्वतंत्र, आजाद, खुला।
  • मुग्धमति- मूर्ख, मूढ़, बेवकूफ, अनाड़ी।
  • मुफ़्त- व्यर्थ, फिजूल, निरर्थक, फोकट, निःशुल्क।
  • मुलाकात- मिलन, भेंट, मेल, मिलाप, दर्शन।
  • मुलायम- सुकुमार, कोमल, लचीला, गुदगुदा, नरम, नाजुक।
  • मूक– गूँगा, अवाक, वाणीरहित, चुप, मौन।
  • मूलधन- पूँजी, असल, सरमाया।
  • मूल्यवान– बहुमूल्य, कीमती, अनमोल।
  • मृगतृष्णा- मरीचिका, मृगमरीचिका।
  • मृगया- शिकार, आखेट, अहेर।
  • मेहनती- परिश्रमशील, कर्मठ, उद्यमी, उद्योगी, परिश्रमी, प्रयत्नशील।
  • मेहमान- अतिथि, पाहुना।
  • मेहमानदारी- आदर-सत्कार, आतिथ्य, अतिथि, मेहमानवाजी।
  • मैत्री- मित्रता, दोस्ती, स्नेहभाव, मेल-जोल, भाई-चारा, प्रेम, स्नेह।
  • मोहक- आकर्षक, मनोहरता, लुभावनापन, दिलचस्प।
  • मोहित- मुग्ध, लुब्ध, आकर्षित।
  • मौन- शांत, चुप, खामोश, मितभाषी, अल्पभाषी।
  • यम- सूर्यपुत्र, जीवितेश, श्राद्धदेव, कृतांत, अन्तक, धर्मराज, दण्डधर, कीनाश, यमराज।
  • यमुना- कालिन्दी, सूर्यसुता, रवितनया, तरणि-तनूजा, तरणिजा, अर्कजा, भानुजा।
  • यंत्रणा- व्यथा, तकलीफ, वेदना, यातना, पीड़ा।
  • यज्ञोपवीत- जनेऊ, उपवीत, ब्रह्मसूत्र।
  • यतीम– बेसहारा, अनाथ, माँ-बापविहीन।
  • याज्ञसेनी- पांचाली, द्रौपदी, सैरंध्री, द्रुपदसुता, कृष्णा।
  • याद- स्मृति, स्मरण, स्मरण-शक्ति, सुध, याद्दाश्त।
  • याम- पहर, प्रहर, बेला, वेला, जून।
  • युद्ध- संग्राम, संघर्ष, समर, लड़ाई, रण, द्वंद्व।
  • युद्धभूमि- रणक्षेत्र, रणभूमि, समरभूमि, संग्रामभूमि, युद्धस्थल।
  • योषा- योषिता, नारी, स्त्री, औरत, वनिता, महिला, तिरिया।
  • यकायक– अचानक, एकाएक, सहसा।
  • यज्ञ- याग, हव, हवन, होम, ज्योतिष्टोम, अनुष्ठान।
  • यथेष्ट- अभीष्ट, इच्छानुसार, इच्छित, मनमाना।
  • यश- ख्याति, कीर्ति, प्रसिद्धि, प्रशंसा, बड़ाई, नाम।
  • याचिका- प्रार्थना-पत्र, आवेदन-पत्र, अभ्यर्थना-पत्र।
  • युवक- युवा, तरुण, कुमार, जवान, नौजवान।
  • युवती- तरुणी, बाला, कुमारी, रमणी, यौवनवती  श्यामा, प्रमदा, सुंदरी, स्त्री, नारी, औरत, वनिता, कांता, वामा, त्रिया ।
  • योग- मेल, मिलन, संयोग, जोड़, तपस्या।
  • यौवन- युवावस्था, जवानी, जोबन, तारुण्य, तरुणावस्था।
  • रात्रि- निशा, क्षया, रैन, रात, यामिनी, रजनी, त्रियामा, क्षणदा, शर्वरी, तमस्विनी, विभावरी, रजनी, निशा, यामिनी, तमी, निशि, यामा, विभावरी।
  • रमा- इन्दिरा, हरिप्रिया, श्री, लक्ष्मी, कमला, पद्मा, पद्मासना, समुद्रजा, श्रीभार्गवी, क्षीरोदतनया।
  • रक्त- खून, लहू, रुधिर, शोणित, लोहित।
  • राक्षस- दैत्य, असुर, निशाचर।
  • रंक- गरीब, दरिद्र, कंगाल, निर्धन, धनहीन।
  • रक्तपात- खून-खराबा, मार-काट, नरसंहार, लड़ाई-झगड़ा।
  • रक्षा- संरक्षण, सुरक्षा, प्रतिरक्षा, हिफाजत, बचाव, रखवाली।
  • रण- लड़ाई, युद्ध, संग्राम, जंग, संघर्ष।
  • रणभूमि- संग्रामभूमि, युद्धस्थल, युद्ध क्षेत्र, वीरभूमि, मैदान-ए-जंग।
  • रत्नाकर- समुद्र, सागर, अर्णव, वारिध।
  • रब्त- मेलजोल, मेल-मिलाप, सम्पर्क, सम्बन्ध।
  • रवैया- चलन, तौर-तरीका, रंग-ढंग।
  • रश्क- ईर्ष्या, डहन, जलन, द्वेष।
  • राज- शासन, हुकूमत।
  • राज्यपाल- गर्वनर।
  • राधा- राधिका, वृषभानुजा, वृषभानुनंदिनी, कीर्ति-किशोरी, ब्रजरानी।
  • राशि- ढेर, समूह, भंडार।
  • रिपु- शत्रु, दुश्मन, वैरी, विरोधी, द्वेषी।
  • रिश्ता- सम्बन्ध, सम्पर्क, नाता, नातेदारी, रिश्तेदारी, मेल।
  • रिश्वत- घूस, नजराना, कमीशन, बख्शीश।
  • रुकावट- बाधा, अड़चन, विघ्न, रुकाव, अटकाव, अडंगा, विराम, ठहराव।
  • रोकथाम- संयम, नियंत्रण, रोक, प्रतिबंध, रुकावट।
  • रोग- व्याधि, बीमारी, रुग्णता, अस्वस्थता।
  • रोगी- व्याधिग्रस्त, रुग्ण, बीमार, अस्वस्थ, रोगग्रस्त।
  • रौबदार- गौरवशाली, प्रभावशाली, तेजस्वी, प्रशसनीय।
  • लड़की- बालिका, कुमारी, सुता, किशोरी, बाला, कन्या।
  • लक्ष्मण- लखन, शेषावतार, सौमित्र, रामानुज, शेष।
  • लौह- अयस, लोहा, सार।
  • लता- बल्लरी, बल्ली, लतिका, बेली।
  • लगातार- निरंतर, अविराम, बराबर, सर्वदा, नित्य, क्रमिक।
  • लगाव- लगावट, सम्बन्ध, प्रेम, प्रीति, वास्ता।
  • लाभ- प्राप्ति, मुनाफा, फायदा, नफा।
  • लाल- पुत्र, बेटा, नंदन, तनय, आत्मज।
  • लालच- लोभ, लिप्सा, तृष्ण, प्रलोभन, लालसा।
  • लुच्चा – दुराचारी, बदमाश, कमीना, कुकर्मी।
  • लुटेरा- अपहर्ता, अपहरणकर्ता, डाकू, डकैत।
  • लुत्फ- आनंद, सुख, मजा, मस्ती, हर्ष, रोचकता।
  • लोचन- आँख, नयन, नेत्र, चक्षु।
  • लोभ- लालच, तृषा, तृष्णा, लिप्सा, स्पृहा।
  • लोभी- लालची, स्पृह, इच्छुक, पिपासु, उत्सुक, तृष्णालु।
  • वृक्ष- तरू, अगम, पेड़, पादप, विटप, गाछ, दरख्त, शाखी, विटप, द्रुम।
  • विवाह- शादी, गठबंधन, परिणय, व्याह, पाणिग्रहण।
  • विष- ज़हर, हलाहल, गरल, कालकूट।
  • वीर्य- शुक्र, धातु, बीज, बल, शक्ति, ताकत, वीरता, मर्दानगी, मुख-आभा।
  • वज्र- कुलिस, पवि, अशनि, दभोलि।
  • विशाल- विराट, दीर्घ, वृहत, बड़ा, महा, महान।
  • विदित– विमुख, रहित, हीन, शून्य।
  • वंदना- स्तुति, प्रणाम, अभिवादन, नमस्कार।
  • वणिक- व्यापारी, व्यवसायी, रोजगारी, बनिया।
  • वध- घात, हिंसा, प्रतिघातन, हत्या, कत्ल।
  • वनिता- स्त्री, औरत, नारी, महिला, अबला।
  • वर- दुल्हा, वरदान, उत्तम, श्रेष्ठ।
  • वरण- चुनाव, चयन, छँटाई।
  • वर्णन- चित्रण, कथन, व्याख्या, विवरण, उल्लेख, जिक्र, चर्चा।
  • वर्तमान- उपस्थित, प्रस्तुत, विद्यमान, मौजूद।
  • वश- अधिकार, काबू, नियंत्रण।
  • वस्तु- चीज, द्रव्य, पदार्थ।
  • वस्तुत- वास्तव में, सचमुच, ठीक, यथार्थ।
  • वस्त्र- पोशाक, कपड़ा, पट, वसन, अंबर, चीर, वेशभूषा।
  • वाकिफ- ज्ञाता, जानकार, अनुभवी।
  • वाण- तीर, शिलीमुख, शयक।
  • विकराल- भीषण, भयानक, डरावना, खौफनाक।
  • विकार- दोष, बुराई, बिगाड़, खराबी, त्रुटि, कमी।
  • विकास- प्रसार, फैलाव, बढ़ाव, प्रगति।
  • विक्रम- वीरता, बहादुरी, शूरता, साहस, पराक्रम।
  • विज्ञ- जानकार, बुद्धिमान, समझदार, विद्वान, पंडित।
  • विदित- ज्ञात, मालूम, जाहिर, प्रकट।
  • विधाता- ब्रह्मा, विधि, सृष्टिकर्त्ता।
  • विनोद- आमोद-प्रमोद, मजाक, उल्लास, आनंद, मनोरंजन, हँसी, तमाशा, खेल-कूद।
  • विपन्न- वन, जंगल, अरण्य, कानन।
  • विपरीत- प्रतिकूल, विरुद्ध, उलटा, खिलाफ, विरोधपूर्ण।
  • विमल- स्वच्छ, साफ, शुद्ध, पवित्र, निर्दोष।
  • विमान- वायुयान, हवाई जहाज, उड़न-खटोला।
  • विमुक्त- स्वतंत्र, स्वच्छंद, आजाद, रिहा, बरी।
  • विरक्त- संसार-विमुख, उदासीन, वैरागी, अनासक्त।
  • विरल- दुर्लभ, कठिन, दुष्प्राप्य।
  • विरह- वियोग, बिलगाव, जुदाई।
  • विलग- अलग, पृथक, भिन्न, जुदा।
  • विलोम- विपरीत, प्रतिलोम, प्रतीप, उलटा।
  • विवरण- वर्णन, तफ़सील, खुलासा।
  • विवश- बेबस, मजबूर, लाचार, असहाय।
  • विस्तार- फैलाव, विशालता, लम्बाई-चौड़ाई।
  • वृथा- व्यर्थ, निरर्थक, बेकार, फजूल, बेफायदा।
  • दृष्टि- वर्षा, बारिश, मेघ, बरसात।
  • व्यवस्था-प्रबंध, इंतजाम, बंदोबस्त, रीति, पद्धति, कायदा, नियम।
  • व्यसन- लत, खोटी, आदत, बुरी, आदत, बुरा शौक।
  • व्रत- उपवास, निराहार, अनाहार, रोजा।
  • शेर- हरि, मृगराज, व्याघ्र, मृगेन्द्र, केहरि, केशरी, वनराज, सिंह, शार्दूल, हरि, मृगराज।
  • शत्रु- रिपु, दुश्मन, अमित्र, वैरी, प्रतिपक्षी, अरि, विपक्षी, अराति।
  • शिक्षक- गुरु, अध्यापक, आचार्य, उपाध्याय।
  • शेषनाग- अहि, नाग, भुजंग, व्याल, उरग, पन्नग, फणीश, सारंग।
  • शुभ्र- गौर, श्वेत, अमल, वलक्ष, धवल, शुक्ल, अवदात।
  • शकुन- सगुन, शुभ मुहूर्त, शुभसूचक चिन्ह।
  • शक्ति– बल, ताकत, जोर, क्षमता।
  • शतक- शताब्दी, सदी, सौ, सैकड़ा।
  • शनैः – धीरे, आहिस्ता, हौले।
  • शब्द– स्वर, ध्वनि, संख, घोष, लफ्ज, कथन।
  • शब्दकोश– शब्द संग्रह, शब्द संकलन, शब्दावली, शब्दार्थिका।
  • शराबखाना– मदिरालय, दारू-खाना, मयखाना, सुरालय, सुरा-सदन, हौली।
  • शराबी– मद्यप, पियक्कड़, दारूबाज, मदिरासेवी।
  • शर्म- लाज, लज्जा, हया, संकोची, शर्मिन्दगी।
  • शर्मीला- लज्जालु, लज्जाशील, संकोची, लजीला, एकांतप्रेमी।
  • शस्त्रधारी- सशस्त्र, हथियारबंद, सायुध।
  • शांत- चुप, मौन, गंभीर, संवेगहीन, आवेशरहित, खामोश, स्थिर।
  • शादी- विवाह, ब्याह, पाणिग्रहण, परिणय, गठबंधन।
  • शायरी- काव्य, कविता, पद्य, छंद।
  • शालीन- शिष्ट, सभ्य, भद्र, विनीत, नम्र।
  • शाश्वत- नित्य, सदैव, निरन्तर, लगातार, सर्वकालिक, चिरस्थायी, अविरत, अक्षम।
  • शिक्षक- अध्यापक, उपदेशक, गुरु, आचार्य, मास्टर, टीचर।
  • शिला- पाषाण, सिल, पत्थर, चट्टान।
  • शिल्पी- वास्तुशास्त्री, कारीगर, शिल्पकार, दस्तकार।
  • शिव – त्रिनेत्र, वामदेव, शंकर, पशुपति, महेश, हर, त्रिलोचन, रुद्र, उमापति, महादेव, नीलकंठ, भूतेश, व्योमकेश ।
  • शिशिर- जाड़ा, शीतकाल, पाला, सर्दी, ठंडी।
  • शुचि- पवित्रता, शुद्धता, स्वच्छ्ता, सफाई, पवित्र, शुद्ध, निर्मल।
  • शुद्ध- विशुद्ध, साफ, चोखा, निर्दोष, स्वाभाविक, पवित्र, निर्मल।
  • शुद्धि- स्वच्छ्ता, सफाई, पवित्रता, निर्मलता।
  • शूल- पीड़ा, दर्द, चुभन।
  • शेखर- शीर्ष, सिर, खोपड़ी, कपाल, मूंड, मस्तक।
  • शेखी- गर्व, घमंड, अभिमान, ऐंठ, शान, अकड़।
  • शेर – हरि, केसरी, केशी, वनराज, मृगेन्द्र, मृगराज, शार्दूल, सिंह, केहरि, नाहर।
  • शेषनाग – धरणीधर, फणीश, सहस्रासन, सर्पपति।
  • शैली- चाल, ढंग, प्रणाली, तर्ज, तरीका, विधि।
  • शोभा- श्री, सुषमा, विभा, आभा, सौंदर्य, सुन्दरता, चमक, सजावट।
  • श्मशान- मरघट, मसान, मुरदघट्टा, मृतकदाह स्थान, कब्रिस्तान।
  • श्रेय- अच्छा, बढ़िया, बेहतर, श्रेष्ठ, उत्तम, उत्कृष्ट।
  • श्लाघा- प्रशंसा, तारीफ, स्तुति, बड़ाई, खुशामद, चापलूसी।
  • श्वास- प्राण, साँस, दम, संजीवनी, वायु।
  • श्वेत- उजला, उज्ज्वल, गोरा, साफ, दुग्धवत, रजतसदृश।
  • षंडाली- तालाब, ताल।
  • षटक- छः गुना, छः में खरीदा हुआ, छठी बार होने या किया जाने वाला, छः की संख्या।
  • षड्यंत्र- साजिश, कुचक्र, कूट-योजना।
  • समूह- दल, झुंड, समुदाय, टोली, जत्था, मण्डली, वृंद, गण, पुंज, संघ, समुच्चय।
  • सरस्वती- गिरा, भाषा, भारती, शारदा, ब्राह्यी, वाक्, जातरूप, हाटक, वीणापाणि, विमला, वागीश, वागेश्वरी।
  • सर्प- साँप, अहि, भुजंग, ब्याल, फणी, पत्रग, नाग, विषधर, उरग, पवनासन।
  • सोना- स्वर्ण, कंचन, कनक, सुवर्ण, हाटक, हिरण्य, जातरूप, हेम, कुंदन।
  • सूर्य- रवि, सूरज, दिनकर, प्रभाकर, आदित्य, मरीची, दिनेश, भास्कर, दिनकर, दिवाकर, भानु, अर्क, तरणि, पतंग, आदित्य, सविता, हंस, अंशुमाली, मार्तण्ड।
  • समीप- सन्निकट, आसन्न, निकट, पास।
  • सभा- अधिवेशन, संगीति, परिषद, बैठक, महासभा।
  • सुगंधि- सौरभ, सुरभि, महक, खुशबू।
  • स्वर्ग- सुरलोक, देवलोक, दिव्यधाम, ब्रह्मधाम, द्यौ, परमधाम, त्रिदिव, दयुलोक।
  • सेना- ऊनी, कटक, दल, चमू, अनीक, अनीकिनी।
  • साधु- सज्जन, भद्र, सभ्य, शिष्ट, कुलीन।
  • सलिल- अम्बु, जल नीर, तोय, सलिल, पानी, वारि।
  • संकट- आपत्ति, विपत्ति, आफत, मुसीबत, विपदा, दुर्भाग्य, अभाग्य।
  • संकल्प- विचार, इरादा, चेष्टाहीन, इच्छाशक्ति, कामनाशक्ति, दृढ़-निश्चय, प्रतिज्ञा, व्रत।
  • संकेत- चिन्ह, निशान, लक्षण, प्रतीक।
  • संक्षेप-समाहार, सारांश, संक्षिप्त रूप।
  • संगति- मेल, संग, मिलाप, साथ, सम्बन्ध, मैत्री, दोस्ती।
  • संगम– मेल, मिलाप, संयोग, संग, साथ, सम्बन्ध, संगति।
  • संग्रह– एकत्रीकरण, संचय, जवाब, ढेर, समूह, राशि।
  • संतान-संतति, वंशज, वंश, औलाद, बाल-बच्चे।
  • संतुलन- साम्य, साम्यवस्था, समभार, समरसता।
  • संतोष- संतुष्टि, तसल्ली, धीरज, धैर्य, ढाढ़स, संशयपूर्ण, सांत्वना।
  • संदिग्ध- संदेहजनक, संदेहास्पद, भ्रमयुक्त।
  • संबोधन- बुलाना, पुकारना, आह्वान करना।
  • संभावी- संभावित, संभव, मुमकिन, कल्पनीय, अनुमानित।
  • संभ्रम- घबराहट, व्याकुलता, बेचैनी, विकलता।
  • संभ्रांत- सम्मानित, प्रतिष्ठित, भद्र पुरुष।
  • संसारी- पार्थिव, लौकिक, ऐहिक, इहलौकिक, सांसरिक, दुनियावी।
  • संसिद्धि- सफलता, कामयाबी, सिद्धि, मनोरथसिद्धि।
  • संस्थापक- संचालक, जनक, मूलकर्ता, आरंभकर्ता, प्रतिष्ठापक।
  • सखी- सहेली, सहचरी, संगिनी, अली, आली।
  • सच- यथार्थ, वास्तविक, सत्य, मिथ्यारहित, सच्चा।
  • सज-धज- बनाव-सिंगार, सजावट, शान, दिखावट, आत्मप्रदर्शन, आडम्बर।
  • सजा- दंड, दंडादेश, दंडाज्ञा।
  • सज्जन- भला, आदमी, शरीफ, व्यक्ति, महानुभाव, सम्मानित व्यक्ति।
  • सत्कार- खातिरदारी, आतिथ्य, मेहमाननवाजी, मेहमानदारी, स्वागत, सम्मान, आदर।
  • सदन- घर, गृह, मकान, निवास-स्थान, आवास।
  • सदा- सर्वदा, निरन्तर, सदैव, नित्य, हमेशा, लगातार, हरदम, हरसमय।
  • सन्नद्ध- तैयार, उद्यत, प्रस्तुर, तत्पर।
  • सफल- सार्थक, कारगर, कामयाब, फलीभूत, फलवान।
  • समाप्ति- संपूर्णता, पूर्णता, समापन, अवसान।
  • समीक्षा- आलोचना, समालोचना, निरूपण।
  • सम्मुख- सामने, आगे, प्रत्यक्ष।
  • सर्वज्ञ- सर्वज्ञानी, संपूर्णज्ञाता, समूचा, जानकार।
  • सलाह- सम्मति, राय, परामर्श, विचार-विनिमय।
  • सहसा- एकाएक, अकस्मात्, झटपट, अचानक।
  • साँवला- श्याम, नील, श्यामल, काला, कृष्णवर्ण।
  • साँस- श्वास, श्वसन, निश्वास, दम।
  • सांसारिक– लौकिक, लोकपरक, ऐहिक, संसारी, दुनियावी।
  • साग-पात– शाक, भाजी, तरकारी।
  • साजिश- षड्यंत्र, कुचक्र, कूटप्रबंध, छल, दाँवघात।
  • सामग्री- सामान, द्रव्य, चीज, वस्तु।
  • साया- छाया, छाँह, परछाई।
  • सारणी- तालिका, सूची, सूची-पत्र, अनु-क्रमणिका।
  • सारांश- निष्कर्ष, आशय, तात्पर्य, अभिप्राय, भावार्थ, भाव, मतलब।
  • सिंहासन- राजासन, गद्दी, राजगद्दी, तख्त।
  • सिकता- बालू, रेत, बालुका।
  • सिद्ध- निर्विवाद, निश्चित, प्रमाणित, सर्वमान्य, पुष्ट, साबित।
  • सिफारिश करना-अनुशंसा करना, अनुरोध करना, संस्तुति करना।
  • सुन्दरी- प्रियदर्शनी, चंद्रमुखी, मृगनयनी, मीनाक्षी, सुलोचना, गोरी, अलबेली, हसीना।
  • सुकुमार-कोमल, नाजुक, नरम, मुलायम।
  • सुगंध– महक, सौरभ, सुरभि, खुशबू।
  • सुगम- सहज, सरल, आसान, सुबोध, सुलभ।
  • सुबह- सवेरा, भोर, अरुणोदय, प्रभात, प्रातःकाल, भिनसार, विहान।
  • सुरमा- काजल, अंजन, आँजन।
  • सुरीला- मधुर, संगीतपूर्ण, मीठा, रसीला।
  • सुविधाजनक- सुखप्रद, आरामदेह, सुखदायक, सुखकारक, सुविधायुक्त।
  • सुस्त- आलसी, अकर्मठ, मंद, शिथिल, म्लान, निद्रालु।
  • सुस्ताना- विराम लेना, आराम करना, दम लेना, रुकना, ठहरना।
  • सुस्पष्ट- प्रकट, व्यक्त, साफ, सुबोध।
  • सूखा– निर्जल, जलहीन, जलरहित, रूखा, शुष्क।
  • सूर्य – दिनकर, दिवाकर, भास्कर, आदित्य, सविता, अर्क, हरि, रवि, भानु, सहस्रांशु, प्रभाकर, अंशुमाली, दिनेश, मार्तंड, पतंग, पूषा, दिनमणि, अहर्पति, आफताब ।
  • सर्प – साँप, व्याल, पन्नग, अहि, नाग, विषधर, भुजंग, उरग, सरीसृप ।
  • समुद्र – पारावार, पयोधि, नीरधि, वारिधि, उदधि, जलधि, रत्नाकर, सागर, सिंधु, अब्धि, नदीश।
  • सरस्वती – वाक्, वाग्देवी, भारती, वाणी, शारदा, वीणापाणि, हंसवाहिनी, वागीश्वरी।
  • स्वार्थी-स्वार्थपरायण, मतलबी, खुदगरज।
  • स्वावलंबन- आत्मनिर्भरता, आत्माश्रय, स्वाश्रय, अपने पैरों पर खड़ा होना।
  • स्वीकार- स्वीकरण, मंजूर करना, मान्य होना, मानना, कबूल करना।
  • होंठ- अक्षर, ओष्ठ, ओंठ।
  • हनुमान- पवनसुत, पवनकुमार, महावीर, रामदूत, मारुततनय, अंजनीपुत्र, आंजनेय, कपीश्वर, केशरीनंदन, बजरंगबली, मारुति।
  • हृदय- छाती, वक्ष, वक्षस्थल, हिय, उर।
  • हाथ- हस्त, कर, पाणि।
  • हाथी- नाग, हस्ती, राज, कुंजर, कूम्भा, मतंग, वारण, गज, द्विप, करी, मदकल।
  • हटना- अलग होना, विमुख होना, पृथक होना, विचलित होना।
  • हठ- अड़, जिद, जबरदस्ती, प्रतिज्ञा, संकल्प, दृढ़निश्चय।
  • हताश- निरोशोन्मत्त, निराश, आशाहीन।
  • हत्या- वध, हिंसा, कत्ल, खून।
  • हमदर्द- सहानुभूतिशील, दर्दमंद, हितचिंतक।
  • हमेशा- निरन्तर, सदा, सर्वदा, बराबर, लगातार।
  • हरिण– मृग, सारंग, ऋश्य, हिरण।
  • हर्ष– सुख, आनंद, प्रसन्नता, उल्लास, मोद-प्रमोद।
  • हर्षित- प्रफुल्ल, प्रसन्न, उल्लासमय, प्रसन्नचित्त।
  • हलचल- आंदोलन, उपद्रव, सनसनी, हंगामा, खलबली, उथल-पुथल।
  • हासिल- प्राप्त, लब्ध, उपलब्ध।
  • हिचकना- संकोच करना, झिझकना, ठिठकना, हिचकिचाना।
  • हिजड़ा- नपुंसक, नामर्द।
  • हिस्सा- भाग, अंश, खंड, टुकड़ा।
  • हिस्सेदार- भागीदार, साझीदार, पट्टीदार।
  • हीन- रहित खाली, रिक्त, शून्य।

Leave a Reply

Your email address will not be published.